Submit your post

Follow Us

दो सरकारी अस्पतालों ने डिलीवरी नहीं कराई, बच्चे को जन्म देकर दम तोड़ दिया

कर्नाटक का रायचुर ज़िला. यहां एक प्रेगनेंट औरत डिलीवरी के लिए भटकती रही. आखिर में बच्चे को जन्म देने के बाद उसकी मौत हो गई. औरत 25 बरस की थी. लेबर पेन हो रहा था. दो सरकारी अस्पताल ने डिलीवरी नहीं कराई. प्राइवेट अस्पताल में औरत ने बच्चे को जन्म दिया, लेकिन इस खुशी को वो सेलिब्रेट तक नहीं कर पाई. उसक तबीयत बिगड़ गई, बुखार आने लगा. प्राइवेट अस्पताल वालों ने उसे तीसरे सरकारी अस्पताल रेफर कर दिया. कोरोना के शक में. जहां महिला की मौत हो गई.

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला को 13 अप्रैल को लेबर पेन हुआ. घर वाले उसे पहले मानवी तालुक के प्राइमरी हेल्थ सेंटर (PHC) लेकर गए. स्टाफ ने कहा कि मामला बहुत रिस्की है. महिला को सिंधनूर तालुक के सरकारी अस्पताल रेफर कर दिया गया. .यहां पर भी अस्पताल वालों ने कुछ ही घंटों बाद महिला को दूसरे अस्पताल ले जाने कह दिया. महिला के पिता का कहना है,

‘एक हेल्थ वर्कर ने हमें कहा कि हम कहीं और चले जाएं, क्योंकि सिजेरियन डिलीवरी के लिए कोई डॉक्टर मौजूद नहीं है. स्टाफ नर्स ने कहा कि हमें वक्त बर्बाद नहीं करना चाहिए, क्योंकि उसकी हालत बिगड़ती जा रही थी.’

लेकिन कुछ फायदा नहीं हुआ

महिला को फिर सिंधनूर के ही वीरा गंगाधर अस्पताल ले जाया गया, जहां अगले दिन उसने एक बच्चे को जन्म दिया. हालांकि उसकी हालत डिलीवरी के बाद काफी खराब हो गई थी. बुखार आ रहा था, जिसके बाद 19 अप्रैल को अस्पताल वालों ने महिला को रायचुर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (RIMS) रेफर कर दिया. अस्पताल को संदेह था कि कहीं महिला कोरोना वायरस से तो इन्फेक्टेड नहीं है. RIMS में अगले दिन उसकी मौत हो गई.


वीडियो देखें: बिहार के नालंदा ज़िले में पर्स छीनकर भागने वाले लड़के की कहानी सुनकर जज ने उसे बरी कर दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

'छपाक' में दीपिका संग दिखी ये लड़की घर गिरवी रख पिता के कैंसर का इलाज करवा रही

इस एसिड अटैक सर्वाइवर को फिल्म से जितने पैसे मिले थे, वो पहले ही इलाज में खर्च हो चुके.

महिला के ब्रेस्ट ने वो काम कर दिखाया, जो अमिताभ का 'बिल्ला नंबर 786' करता था

शरीर में धंसी गोली निकालते हुए डॉक्टर्स भी दंग रह गए.

लॉकडाउन: इंटरनेशनल चैंपियन पेड़ों से लटक और गेहूं काटकर कर रही हैं मेडल की तैयारी

लॉकडाउन है तो क्या, मेडल तो लाना ही है.

इंदौर में जिन डॉक्टर्स पर पत्थर फेंके गए थे, उन्होंने हमालावरों से गज़ब का बदला लिया!

कोरोना का टेस्ट करने पहुंचे थे डॉक्टर्स लेकन लोगों ने पत्थर मारे थे.

पति डैनियल ने खोल दिए सनी लियोनी के घरेलू राज़, लोग भी चुटकी ले रहे

लॉकडाउन के दौरान का कच्चा -चिट्ठा सुना रहे हैं इस वीडियो में.

अपनी छत पर टेनिस खेल रही इन लड़कियों का वीडियो क्यों वायरल हो रहा है?

ट्विटर पर कई लोग इनकी तारीफ के पुल बांध रहे हैं.

नौ दिन की बच्ची कोरोना पॉजिटिव निकली, डिलिवरी कराने वाली जूनियर डॉक्टर से हुआ इंफेक्शन!

मां का रिजल्ट नेगेटिव आया है.

इलाज के बाद एंबुलेंस तक नहीं मिली, 23 किमी पैदल चलकर घर पहुंची 75 साल की महिला

असम के जोरहाट की ख़बर है.

पूरी दुनिया कह रही है, इन सात महिला नेताओं से सीखो कोरोना वायरस से कैसे लड़ना है

ऐसा क्या किया इन्होंने कि इनके देश में कोरोना हारने को है?

सोना महापात्रा ने कंगना की बहन रंगोली को सपोर्ट किया, लोग अनफॉलो करने लगे

तबलीगी जमात पर ट्वीट के चलते रंगोली का अकाउंट सस्पेंड हुआ है.