Submit your post

Follow Us

वैक्सीन लगवाने के बाद क्या खाने-पीने को कह रहे हैं डॉक्टर्स?

यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछ लें. लल्लनटॉप आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.

वैक्सीन लगवाने के लिए देशभर के सेंटर्स में बहुत भीड़ है. और भीड़ में कोविड होने का ख़तरा बढ़ जाता है. यहां तक कि कई ऐसे केसेस देखे भी गए हैं जहां वैक्सीन लगवाने के कुछ दिनों बाद ही लोग कोविड पॉजिटिव हो रहे हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि वैक्सीन सेंटर जा रहे हैं तो कोविड से कैसे बचें. इसके अलावा वैक्सीन लगवाने से पहले और बाद में क्या सावधानियां बरतें. वैक्सीन लगवाने के बाद आपकी डाइट क्या होनी चाहिए. साथ ही जानेंगे कोविड वैक्सीन से जुड़े कुछ आम मिथक.

वैक्सीन सेंटर पर कोविड से कैसे बचें?

ये हमें बताया डॉक्टर राजीव ने.

डॉक्टर राजीव कुमार, एमडी मेडिसिन, कपूर हॉस्पिटल, उत्तराखंड
डॉक्टर राजीव कुमार, एमडी मेडिसिन, कपूर हॉस्पिटल, उत्तराखंड

जब भी आप कोविड वैक्सीन लगवाने सेंटर जाएं तो मास्क ज़रूर पहनें, सामाजिक दूरी बनाकर रखें. साथ में सैनिटाइज़र ज़रूर रखें और समय-समय पर उससे हाथ साफ करते रहें.

वैक्सीन से पहले क्या सावधानी बरतें?

वैक्सीन सेंटर जाने के बाद अपनी मेडिकल कंडीशन ज़रूर बताएं, अगर किसी दवाई से एलर्जी है तो बताएं. पहले वैक्सीन लग चुकी हो और उससे एलर्जी हुई हो तो वो भी वैक्सीनेशन सेंटर में मौजूद स्टाफ को ज़रूर बताएं.

वैक्सीन लगवाने के बाद क्या सावधानियां बरतें?

जब वैक्सीन लगवाने के बाद आपको बुखार, बदन दर्द, थकान या सिर में दर्द हो सकता है. जिस बाजू में इंजेक्शन लगा है उसमें दर्द, सूजन और रेडनेस हो सकती है. ये सब तीन-चार दिन में ठीक हो जाता है.

अगर लक्षण नहीं जा रहे, तबियत ज्यादा बिगड़ रही है या एलर्जी हो गई है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. साथ ही कोविड सेंटर में भी बताएं

 

Rent agreement, utility bills added to list of documents for vaccination in Uttar Pradesh | India News – India TV
वैक्सीन सेंटर जाने के बाद अपनी मेडिकल कंडीशन ज़रूर बताएं

वैक्सीन लगवाने के बाद डाइट कैसी रखें?

 

-वैक्सीन लगवाने के बाद ज़्यादा से ज़्यादा लिक्विड लें

-पानी पीते रहें

-अच्छी इम्युनिटी के लिए हाई फाइबर डाइट लें

-हरी सब्जियां, फल, जूस, दूध लें

-नॉन वेज खाते हैं तो अंडा, चिकन, मछली खाएं

8 Covid Vaccines Aim to Cover Every Indian by Year-end: What Are They & How They Work

वैक्सीन लगने के बाद लक्षण 3 से 4 दिनों में चले जाते हैं

वैक्सीनेशन से जुड़ी कुछ ज़रूरी बातें?

– अगर आपको हार्ट की बीमारी है या आप ब्लड थिनर खा रहे हैं तो आपको कोई अपनी दवाई बंद करने की ज़रूरत नहीं है. आप बेफ़िक्र होकर वैक्सीन लगवा सकते हैं.

-प्रेग्नेंट और वो औरतें जो स्तनपान करवा रही हैं उनमें बीमारी से दिक्कत आने के 5 प्रतिशत ज़्यादा चांसेज़ हैं, प्रेग्नेंसी में कोविड होना ख़तरनाक है. प्रेग्नेंसी में वैक्सीन लगवाने की सलाह अब दी जा रही है. शुरू में इसको लेकर डाउट थे. प्रेग्नेंट औरतों पर ट्रायल नहीं हुए थे. प्रेग्नेंसी में कोविड से जान जाने का ज़्यादा रिस्क है इसलिए सरकार भी अब वैक्सीन लगवाने के लिए कह रही है.

-कोविड वैक्सीन लगवाने के बाद इनफर्टिलिटी नहीं होती है

वैक्सीन ज़रूर लगवाएं. बस सेंटर पर पूरी सावधानी बरतें. वैक्सीन के दोनों डोज़ लग जाने के बाद भी मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और हाथों की सफाई का ध्यान रखें.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

म्यांमार में तख्तापलट के खिलाफ ब्यूटी क्वीन ने क्या कहते हुए हथियार उठा लिए हैं?

2013 में थाईलैंड में हुए पहले मिस ग्रैंड इंटरनेशनल में म्यांमार को रिप्रज़ेंट कर चुकी हैं.

'अमेठी की बेटी' की कथित हत्या पर लोग बौखलाए, पुलिस ने रेप के दावों को खारिज किया

12 साल की बच्ची की मौत के बाद स्मृति ईरानी पर लोगों का गुस्सा फूटा.

रेमडेसिविर के नाम पर ऑनलाइन ठगी के आरोप में पुलिस ने कैमरून की महिला को अरेस्ट किया

लोगों से पैसे लेकर फोन स्विच ऑफ कर लेती थी आरोपी महिला.

बठिंडा: विधवा महिला को ब्लैकमेल कर रेप करने के आरोप में ASI गिरफ्तार, रंगे हाथ पकड़ा गया

महिला के बेटे को झूठे केस में फंसाने की धमकी का आरोप.

टिकरी बॉर्डरः बेटी से गैंगरेप के आरोप लगाने वाले पिता के गायब होने की खबर का सच ये है

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा- पुलिस को सबूत देने से पहले ही लापता हो गए पीड़िता के पिता.

पति ऑक्सीजन सपोर्ट पर था, पत्नी पास खड़ी थी, पीछे से नर्सिंग स्टाफ उसका दुपट्टा खींच रहा था

पटना की महिला का आरोप, अस्पताल बदला तो वहां डॉक्टर गंदे इशारे करता था.

किसान आंदोलनः टिकरी बॉर्डर पर युवती से रेप का आरोप, कोरोना से मौत के 9 दिन बाद FIR हुई

पिता का आरोप, 'मुझ पर दबाव बनाया - बेटी का शव चाहिए तो स्टेटमेंट दो कि वो कोरोना से मरी.'

महिला थाना प्रभारी की मौत के बाद हंगामा, परिवार ने साथी सब-इंस्पेक्टर पर टॉर्चर के आरोप लगाए

आत्महत्या या हत्या? जानिए पूरा मामला

कोरोना ग्रस्त लड़कियों का रेप करने वालों को अपनी जान का डर क्यों नहीं लगता?

ये महज़ सेक्शुअल उत्तेजना का मामला नहीं, बात और गहरी है.

असम: परिवार से दूर रहकर दूसरे के घर में 'झाड़ू-पोछा' करती थी, अब इस बच्ची का जला हुआ शव मिला

रेप, सेक्शुअल असॉल्ट और प्रेग्नेंसी के आरोपों पर पुलिस चुप क्यों?