Submit your post

Follow Us

क्या कोविड 19 की वैक्सीन में कोरोना वायरस होता है?

(यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछें. दी लल्लनटॉप आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.)

मई 2021 की बात है. लखनऊ के रहने वाले प्रताप चंद्रा ने सिरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया के CEO अदार पूनावाला के खिलाफ़ शिकायत दर्ज की. दरअसल प्रताप चंद्रा ने 8 अप्रैल को कोविशिल्ड वैक्सीन लगवाई थी. पहली डोज़ लगवाने के बाद उनकी तबीयत थोड़ी खराब हो गई थी. इसके बाद उन्होंने अपना एंटीबॉडी टेस्ट करवाया. टेस्ट से पता चला कि उनके शरीर में एंटीबॉडी बनी ही नहीं. उल्टा उनके प्लेटलेट 3 लाख से घटकर डेढ़ लाख हो गए. इस ख़बर का हवाला देते हुए हमें सेहत के एक व्यूअर मनोज का मेल आया. भोपाल के रहने वाले हैं. 40 साल के हैं. उन्हें कोविड वैक्सीन के दोनों डोज़ लग चुके हैं. उन्होंने भी अपना एंटीबॉडी टेस्ट करवाया. उनका एंटीबॉडी काउंट ठीक आया. मनोज जानना चाहते हैं कि ये एंटीबॉडी एग्जैक्टली क्या होती है और कैसे बनती है? तो हमने बात की एक्सपर्ट्स से. जानिए उनके जवाब.

एंटीबॉडी क्या है, ये क्यों ज़रूरी है?

ये हमें बताया डॉक्टर पंकज आनंद ने.

डॉक्टर पंकज आनंद, सीनियर कंसल्टेंट क्रिटिकल केयर एंड आईसीयू, फ़ोर्टिस एस्कॉर्ट्स हॉस्पिटल, जयपुर
डॉक्टर पंकज आनंद, सीनियर कंसल्टेंट क्रिटिकल केयर एंड आईसीयू, फ़ोर्टिस एस्कॉर्ट्स हॉस्पिटल, जयपुर

जब से कोविड-19 आया है, हमारी भाषा में कई नए मेडिकल शब्द जुड़ गए हैं, उनमें से एक शब्द है एंटीबॉडी. मीडिया में आप बार-बार इस शब्द को सुनते हैं. एंटीबॉडी एक तरह का प्रोटेक्टिव प्रोटीन है जो हमारा शरीर बनाता है किसी भी बाहरी वस्तु के खिलाफ. यह बाहरी वस्तु जिसे मेडिकल भाषा में एंटीजन कहते हैं, कुछ भी हो सकता है. यह वायरस हो सकता है जैसे कोरोना वायरस, बैक्टीरिया, ज़हर या कोई भी चीज़ हो सकती है. जब ये एंटीजन हमारे शरीर में प्रवेश करता है तो शरीर की बाहरी सतह पर मौजूद मॉलिक्यूल को महसूस हो जाता है कि यह कोई फॉरेन बॉडी है. उससे बचाव के लिए शरीर सिपाही पैदा करने लगता है. यही एंटीबॉडी होती हैं

एंटीबॉडी शरीर में कैसे बनती हैं?

जब कोई फॉरेन बॉडी या फॉरेन सब्सटेंस शरीर में प्रवेश करता है, तब कुछ विशिष्ट कोशिकाएं, विशिष्ट प्रकार के वाइट ब्लड सेल्स जिनको हम बीटा सेल्स या बीटा लिंफोसाइट्स कहते हैं, वो उस एंटीजन या फॉरेन बॉडी से जुड़ जाते हैं, इस जुड़ाव के बाद इन बीटा सेल्स में कुछ परिवर्तन होते हैं.

What are antibodies and antibody tests? Does a negative antibody test mean the vaccine isn't working? | What News – India TV
एंटीबॉडी एक तरह का प्रोटेक्टिव प्रोटीन है जो हमारा शरीर बनाता है किसी भी बाहरी वस्तु के खिलाफ

ये एक तरह से परिपक्व होते हैं, परिपक्व होकर ये मैच्योर लिंफोसाइट्स बन जाते हैं. इनको हम प्लाज्मा सेल्स भी कहते हैं. प्लाजमा सेल्स में ताकत होती है कि यह एक साथ लाखों की संख्या में प्रोटेक्टिव प्रोटीन या एंटीबॉडी का निर्माण कर सकते हैं.

ये बीमारियों से कैसे लड़ती हैं?

एंटीबॉडी इस फॉरेन सब्सटेंस, एंटीजन वायरस या बैक्टीरिया से जाकर जुड़ जाती हैं, उससे जुड़ने के बाद अलग-अलग तरीके से उस वायरस या बैक्टीरिया को नष्ट करने की कोशिश करती हैं.  तरीके कई सारे हो सकते हैं. कई बार ये ज़हर रिलीज करती हैं उस वायरस या बैक्टीरिया के खिलाफ, कई बार उसका हमारे शरीर में प्रवेश ही रोक देती हैं.

वैक्सीन से एंटीबॉडी कैसे बनती हैं?

शरीर में एंटीबॉडी बनने के 2 तरीके होते हैं. या तो सीधे वायरस शरीर में एंट्री करता है या फिर वैक्सीन के माध्यम से वायरस को एंटर करवाया जाता है.

Almost all coronavirus cases develop antibodies, no matter the course of disease: WHO
प्लाजमा सेल्स में ताकत होती है कि यह एक साथ लाखों की संख्या में प्रोटेक्टिव प्रोटीन या एंटीबॉडी का निर्माण कर सकते हैं

वैक्सीन के माध्यम से जो वायरस हमारे शरीर में डाला जाता है, वो रियल वायरस नहीं होता है बल्कि वह वायरस का इनएक्टिव पार्ट होता है. लेकिन हमारे शरीर को ऐसा लगता है कि जैसे वास्तविक वायरस ने हमारे शरीर में प्रवेश किया है. इससे लड़ने के लिए शरीर एंटीबॉडी बनाने लगता है, एंटीबॉडी बनने के साथ सेल की मेमोरी भी बन जाती है जब हमारे शरीर में वास्तविक वायरस अटैक करता है, मेमोरी के चलते हमारा शरीर ज्यादा एंटीबॉडी बनाने लगता है

एंटीबॉडी बनने में कितना समय लगता है?

– ऐसा कहा जाता है कि एंटीबॉडी जो होती हैं, यह 3 से साढ़े तीन महीने तक तो हमारे शरीर में रहती हैं

– यह बनती कब हैं? इसका जवाब दिया जाए तो यह कोविड की दूसरी वैक्सीन लगने के 15 दिन के बाद बनती हैं

Antibody Testing After the COVID-19 Vaccine: What to Know If You're Immunocompromised
वैक्सीन के माध्यम से जो वायरस हमारे शरीर में डाला जाता है, वो रियल वायरस नहीं होता है

– इसी बात पर वैक्सीन का पूरा विज्ञान चलता है यानी कि आप दूसरी वैक्सीन लगवाने के 15 दिन के बाद खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं

उम्मीद है एंटीबॉडी का सारा गणित आपको समझ में आ गया होगा. किसी बीमारी से लड़ने के लिए उसकी वैक्सीन शरीर को कैसे बचाती है, ये भी समझ में आ गया होगा. इसलिए वैक्सीन ज़रूर लगवाएं. कोविड से लड़ने के लिए वैक्सीन आपका बड़ा हथियार.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

बहन के कटे सिर के साथ सेल्फी ली, पड़ोसियों को दिखाने के लिए घर के बाहर रख दिया

बहन के कटे सिर के साथ सेल्फी ली, पड़ोसियों को दिखाने के लिए घर के बाहर रख दिया

लड़की ने परिवार की मर्ज़ी के खिलाफ जाकर शादी की थी.

खुले आम रेप की बातें और लड़कियों के प्राइवेट पार्ट्स पर चर्चा, सोशल मीडिया पर लोग भड़के

खुले आम रेप की बातें और लड़कियों के प्राइवेट पार्ट्स पर चर्चा, सोशल मीडिया पर लोग भड़के

एक वायरल ऑडियो ने सुल्ली डील्स मामले को फिर चर्चा में ला दिया है.

सेक्स क्राइम के मामलों में अदालतों की 5 चौंकाने वाली टिप्पणियां

सेक्स क्राइम के मामलों में अदालतों की 5 चौंकाने वाली टिप्पणियां

POCSO से जुड़े एक मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कहा, "ओरल सेक्स अति गंभीर श्रेणी वाला अपराध नहीं है."

'महान डिएगो माराडोना ने मेरा बलात्कार किया था'

'महान डिएगो माराडोना ने मेरा बलात्कार किया था'

महिला ने बताया- मैं 16 साल की थी, जबकि माराडोना 40 के थे.

पाकिस्तान की संसद ने रेप के दोषियों को दवाओं से नपुंसक बनाने को मंज़ूरी दे दी है

पाकिस्तान की संसद ने रेप के दोषियों को दवाओं से नपुंसक बनाने को मंज़ूरी दे दी है

क्या केमिकल कैस्ट्रेशन से परमानेंट नपुंसक हो जाते हैं लोग?

16 साल की लड़की का छह महीने में 400 लोगों ने बलात्कार किया

16 साल की लड़की का छह महीने में 400 लोगों ने बलात्कार किया

विक्टिम दो महीने की गर्भवती है.

नशे में धुत्त हेडमास्टर ने लड़कियों को क्लासरूम में बंद करके कहा- चलो डांस करते हैं

नशे में धुत्त हेडमास्टर ने लड़कियों को क्लासरूम में बंद करके कहा- चलो डांस करते हैं

घटना मध्य प्रदेश के दमोह जिले की है.

लड़की ने बुर्का नहीं, जींस पहनी तो दुकानदार अपनी बुद्धि खो बैठा

लड़की ने बुर्का नहीं, जींस पहनी तो दुकानदार अपनी बुद्धि खो बैठा

दुकानदार का तर्क सुनकर तो हमारे कान से खून ही निकल आया!

यूपी: नाबालिग ने 28 पर किया गैंगरेप का केस, FIR में सपा-बसपा के जिलाध्यक्षों के भी नाम

यूपी: नाबालिग ने 28 पर किया गैंगरेप का केस, FIR में सपा-बसपा के जिलाध्यक्षों के भी नाम

पिता के अलावा ताऊ, चाचा पर भी लगाए गंभीर आरोप.

कश्मीरी पंडित की हत्या के बाद बेटी ने आतंकियों को 'कुरान का संदेश' दे दिया!

कश्मीरी पंडित की हत्या के बाद बेटी ने आतंकियों को 'कुरान का संदेश' दे दिया!

श्रद्धा बिंद्रू ने आतंकियों को किस बात के लिए ललकारा है?