Submit your post

Follow Us

क्या ये ज़रूरी है कि स्त्री रोग विशेषज्ञ एक औरत ही हो?

Ayushmann Khurrana ने अपनी नई फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी है. फिल्म का नाम है डॉक्टर जी. इसमें आयुष्मान डॉक्टर उदय गुप्ता का किरदार निभा रहे हैं. हाल ही में उन्होंने अपना फर्स्ट लुक जारी किया. सफेद कोट और चश्मा पहने आयुष्मान के पॉकेट में एक स्टेथोस्कोप दिख रहा है और हाथ में एक किताब. किताब में लिखा है- गायनेकोलॉजी यानी स्त्री रोग चिकित्सा. इसी से ये अनुमान लगाया जा रहा है कि फिल्म में आयुष्मान गायनेकोलॉजिस्ट का रोल प्ले करेंगे.

वैसे तो आयुष्मान कैरेक्टर्स के साथ अपने एक्सपेरिमेंट के लिए जाने जाते हैं. अब आप विकी डोनर देख लीजिए, शुभ मंगल सावधान, शुभ मंगल ज्यादा सावधान या फिर ड्रीम गर्ल. सभी फिल्मों में आयुष्मान ने ऐसे किरदार निभाए हैं जिनके बारे में लोग आमतौर पर बात करने में झिझकते हैं. पर वो रोल प्ले करते हैं और फिर उन किरदारों पर और किरदारों के बहाने ऐसे विषयों पर बात शुरू होती है जिन पर बोलने से आमतौर पर लोग झिझकते हैं. गायनेकोलॉजिस्ट का किरदार भी कुछ ऐसा ही होगा.

इंडिया में आम लोग गायनेकोलॉजी को महिलाओं का स्पेशलाइज़ेशन मानते हैं. जब किसी लड़की या औरत की तबीयत खराब होती है, खासकर पीरियड से जुड़ी कोई समस्या होती है तो लोग ‘लेडी डॉक्टर’ के पास ही जाने की सलाह देते हैं. शब्दों में जाएं तो लेडी डॉक्टर का मतलब हर उस डॉक्टर से है जो महिला है. लेकिन इंडिया में लेडी डॉक्टर कहने पर लोग गायनेकोलॉजिस्ट समझते हैं.

Ayushmann Khurrana
फिल्म डॉक्टर जी में Ayushmann Khurrana इस लुक में नज़र आएंगे. फोटो- Instagram

इसकी दो वजहें हैं. एक तो ये कि जब आप गूगल पर गायनेकोलॉजिस्ट सर्च करते हैं तो ज्यादातर रिज़ल्ट फीमेल गायनेकोलॉजिस्ट के मिलते हैं. दूसरी ये कि आमतौर पर लोग गायनेकोलॉजिस्ट के पास पीरियड या प्रेग्नेंसी रिलेटेड दिक्कतों के लिए जाते हैं. या फिर वजाइनल इंफेक्शन वगैरह के लिए. इनमें कई बार फिजिकल एग्जामिनेशन की ज़रूरत पड़ती है, जिसके लिए महिलाएं किसी पुरुष की तुलना में महिला डॉक्टर को दिखाने में  ज्यादा कम्फर्टेबल होती हैं. इस खबर को लिखने से पहले हमने कुछ महिलाओं से बात की. उनमें से किसी ने भी कभी भी किसी मेल गायनेकोलॉजिस्ट को नहीं दिखाया था. वहीं, इनमें से कुछ ने बताया कि दो-चार साल पहले तक तो उन्हें पता भी नहीं था कि पुरुष भी स्त्री रोग विशेषज्ञ होते हैं.

इसकी एक तीसरी वजह भी है. पुरुष गायनेकोलॉजिस्ट्स का रिप्रेज़ेंटेशन. बहुत याद करने पर भी चर्चित शोज़ में मेल गायनेकोलॉजिस्ट के दो ही किरदार याद आते हैं मुझे. एक अमेरिकी सिटकॉम ‘बिग बैंग थ्योरी’ में राज के पिता का किरदार, जिनको लेकर शो के बाकी किरदार थोड़े भद्दे जोक्स करते हैं. वहीं दूसरा है ऐमजॉन प्राइम की वेबसीरीज़ ‘फोर मोर शॉट्स’ प्लीज़ में मिलिंद सोमण का निभाया किरदार. जो अपनी मरीज के साथ संबंध बनाता है. यानी एक तो नहीं के बराबर रिप्रेज़ेंटेशन है, और जो है भी वो इस तरह का.

मेल गायनैक के पास जाना संस्कारों के खिलाफ!

मेल गायनैक्स के साथ महिलाओं के अनुभव जानने के लिए हमने इंटरनेट का रुख किया. यहां हम सवाल जवाब वाली वेबसाइट कोरा पर गए. यहां हमें अनुभव तो नहीं के बराबर दिखे. लेकिन ऐसे पोस्ट ज़रूर दिखे जो औरतों को पुरुष गायनेकोलॉजिस्ट के पास जाने से रोकने की कोशिश वाले थे. एक पोस्ट में ऐसी खबरों की लिंक्स डाली गई थीं जिनमें डॉक्टर द्वारा मरीजों के यौन शोषण की बात थी. वहीं, दो से तीन पोस्ट ऐसे थे जिनमें लिखा था कि कैसे पुरुष गायनैक के पास जाना संस्कार और प्रकृति के खिलाफ है.

डॉक्टर्स डे के मौके पर हमारी साथी निकिता ने गायनेकोलॉजिस्ट संबित एम नंदा से बात की थी. संबित ने बताया था,

“मेरे साथ ऐसा अक्सर होता है कि लोग पूछते हैं कि तू कैसे समझ सकता है कि औरतों को क्या दिक्कत होती है, कैसे दिक्कत होती है. हमें वही पढ़ाया जाता है. पीजी (स्पेशलाइज़ेशन) के दौरान हम हज़ारों औरतों को ऑपरेट करते हैं. उनकी डिलीवरी करवाते हैं. हमारे करिकुलम में ये सारी चीज़ें होती हैं, हम उसके आधार पर ही इलाज करते हैं.”

वैसे हमारा मानना है कि डॉक्टर के पास जब भी जाएं उन्हें डॉक्टर समझकर जाएं. न कि उनका जेंडर देखकर. क्योंकि महिला हो या पुरुष, दोनों एक जैसी पढ़ाई करके डॉक्टर बनते हैं. इस तरह के तर्क फर्ज़ी हैं कि एक पुरुष कैसे महिलाओं की दिक्कत समझकर उनका इलाज कर सकता है. उन्होंने इसकी पूरी पढ़ाई की होती है. रही बात संस्कारों की तो कौन डॉक्टर आपका इलाज करता है  इससे आपके संस्कार तय नहीं होते हैं. ब्रेस्ट कैंसर होने पर आप महिला ऑन्कोलॉजिस्ट खोजने तो नहीं निकलेंगे, उनसे ही इलाज करवाएंगे जो उपलब्ध होंगे. उसी तरह गायनैक रिलेटेड दिक्कतों के लिए भी बिना झिझक उस डॉक्टर के पास जाएं जो आपके आसपास अवेलेबल हों और जिनका रिव्यू अच्छा हो.


सेहत: कोरोना के दौरान घर में बंद रहने से किस तरह की मेडिकल प्रॉब्लम हो सकती है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

औरतों के खिलाफ होने वाले अपराधों के कम होते आंकड़ों के पीछे का झोल

औरतों के खिलाफ होने वाले अपराधों के कम होते आंकड़ों के पीछे का झोल

NCRB ने पिछले साल देश में हुए अपराधों की बहुत बड़ी रिपोर्ट जारी की है.

जिस रेप आरोपी का एनकाउंटर करने की बात मंत्री जी कह रहे थे, उसकी लाश मिली है

जिस रेप आरोपी का एनकाउंटर करने की बात मंत्री जी कह रहे थे, उसकी लाश मिली है

हैदराबाद में छह साल की बच्ची के रेप और मर्डर का मामला.

यूपी: गैंगरेप का आरोपी दरोगा डेढ़ साल से फरार, इंस्पेक्टर बनने की ट्रेनिंग लेते हुआ गिरफ्तार

यूपी: गैंगरेप का आरोपी दरोगा डेढ़ साल से फरार, इंस्पेक्टर बनने की ट्रेनिंग लेते हुआ गिरफ्तार

2020 में महिला ने वाराणसी पुलिस के दरोगा समेत चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया था.

खो-खो प्लेयर की हत्या करने वाले का कुबूलनामा-

खो-खो प्लेयर की हत्या करने वाले का कुबूलनामा- "उसे देख मेरी नीयत बिगड़ जाती थी"

बिजनौर पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला प्लेयर का रेप करना चाहता था.

LJP सांसद प्रिंस राज के खिलाफ दर्ज रेप की FIR में चिराग पासवान का नाम क्यों आया?

LJP सांसद प्रिंस राज के खिलाफ दर्ज रेप की FIR में चिराग पासवान का नाम क्यों आया?

तीन महीने पहले हुई शिकायत पर अब दर्ज हुई FIR.

साकीनाका रेप केस: महिला को इंसाफ दिलाने के नाम पर राजनेताओं ने गंदगी की हद पार कर दी

साकीनाका रेप केस: महिला को इंसाफ दिलाने के नाम पर राजनेताओं ने गंदगी की हद पार कर दी

अपनी सरकार पर उंगली उठी तो यूपी के हाथरस रेप केस को ढाल बनाने लगी शिवसेना.

सलमान खान को धमकी देने वाले गैंग की 'लेडी डॉन' गिरफ्तार, पूरी कहानी जानिए

सलमान खान को धमकी देने वाले गैंग की 'लेडी डॉन' गिरफ्तार, पूरी कहानी जानिए

एक सीधे-सादे परिवार की लड़की कैसे बन गई डॉन?

मिलने के लिए 300 किलोमीटर दूर से फ्रेंड को बुलाया, दोस्तों के साथ मिलकर किया गैंगरेप!

मिलने के लिए 300 किलोमीटर दूर से फ्रेंड को बुलाया, दोस्तों के साथ मिलकर किया गैंगरेप!

आरोपी और पीड़िता सोशल मीडिया के जरिए फ्रेंड बने थे.

मुंबई रेप पीड़िता की इलाज के दौरान मौत, आरोपी ने रॉड से प्राइवेट पार्ट पर हमला किया था

मुंबई रेप पीड़िता की इलाज के दौरान मौत, आरोपी ने रॉड से प्राइवेट पार्ट पर हमला किया था

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा-फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगा केस.

NCP कार्यकर्ता ने महिला सरपंच को पीटा, वीडियो वायरल

NCP कार्यकर्ता ने महिला सरपंच को पीटा, वीडियो वायरल

मामला महाराष्ट्र के पुणे का है. पीड़िता ने कहा – नहीं मिला न्याय.