Submit your post

Follow Us

हाथरस केस: जिस परिवार ने बेटी खोई, पुलिस उसे अंतिम संस्कार पर ज्ञान दे रही थी

हाथरस में कथित गैंगरेप पीड़िता के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस ने ही शव का दाह संस्कार किया है, लड़की के गांव में. इसके अलावा ये भी रिपोर्ट्स हैं कि जब शव को जलाया जा रहा था, तब घरवाले वहां मौजूद नहीं थे. घरवालों का कहना है कि वो शव को एक बार घर लाना चाहते थे, लेकिन पुलिस नहीं मानी. ‘इंडिया टुडे’ की रिपोर्टर तनुश्री पांडे 30 सितंबर की रात लड़की के गांव में ही मौजूद थीं. लगातार अपडेट दे रही थीं. उन्होंने कुछ वीडियो अपने ट्विटर पर भी पोस्ट किए, जिनमें कुछ पुलिसवाले पीड़ित परिवार को अंतिम संस्कार पर ज्ञान देते दिख रहे हैं. एक अधिकारी ने घरवालों और गांववालों से कहा,

“समाज के रीति-रिवाज, परम्पराएं समय के हिसाब से बदलती हैं. ये एक असाधारण स्थिति है. इस स्थिति में कुछ गलतियां आपसे हुई हैं, इसे आपको स्वीकार करना चाहिए. कुछ गलतियां और लोगों से भी हुई हैं, उन्हें भी स्वीकार करना चाहिए. अब बात हो गईं, शव हमारे पास आ गया. पोस्टमार्टम हुए 12-14 घंटे हो गए. बॉडी का अपना एक टाइम होता है. इस पर विचार करो, मन बनाओ. बड़े-बुजुर्ग को बुला लो, हल करो. हठ मत करो. आपस में विचार करो. ये कहीं नहीं लिखा है कि दाह संस्कार रात में नहीं होता है, ये होता है. सब समझदार लोग हैं.”

एक और वीडियो में दूसरे अधिकारी कह रहे हैं,

“मैं राजस्थान से हूं और हमारे कल्चर में हम देर तक शव नहीं रखते. बाकी सब आप देख लीजिए.”

Hathras (4)
इस वीडियो ट्वीट में विक्टिम के परिवारवालों का चेहरा साफ दिख रहा है, इस वजह से हम इस ट्वीट के स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल कर रहे हैं.

घरवालों का आरोप-लड़की के भाई का कहना है कि वो एक आखिरी बार अपनी बहन के शव को घर ले जाना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने उनकी एक न सुनी. भाई ने कहा,

“पुलिस ने हमें जबरदस्ती अंतिम संस्कार करने को कहा. हमें अंतिम दर्शन भी नहीं करने दिए. हम पार्थिव शरीर को सुबह तक अंतिम दर्शन के लिए रखना चाहते थे. हमारी मांग थी कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी आएं और हमारी सुनवाई हो. हम दरवाजे बंद कर बैठे थे क्योंकि पुलिस हमें जबरदस्ती श्मशान घाट ले जाना चाहती थी.”

वहीं कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक, घरवालों ने पुलिस के डर से खुद को घर में बंद कर लिया था. रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस की गाड़ी रात करीब 12 बजकर 45 मिनट के आस-पास गांव पहुंची. शव लेकर. 2:45 और 3 बजे के आस-पास दाह संस्कार कर दिया गया.

पुलिस ने गैंगरेप से इनकार किया है

इस केस में लड़की की रीढ़ की हड्डी टूटने, जीभ कटने और गैंगरेप होने की बात सामने आई थी, जिसे 29 सितंबर को पुलिस ने खारिज कर दिया. हाथरस के एसपी विक्रांत वीर ने कहा है कि न तो हाथरस के, न ही अलीगढ़ के डॉक्टर ने इस बात की पुष्टि की है कि मृतका के साथ सेक्सुअल असॉल्ट हुआ है. इस पूरे मामले की जांच डॉक्टरों और फॉरेंसिक टीम से कराई जाएगी. एसपी ने यह भी कहा है कि प्राइवेट पार्ट में चोट लगने की बात भी गलत है.

एसपी का कहना है कि जीभ काटने की बात सरासर झूठी है. उन्होंने कहा कि पीड़िता के बयान रिकॉर्ड किए हैं. कई जगह इस तरह की बातें भी रिपोर्ट की जा रही हैं कि पीड़िता की रीढ़ की हड्डी टूटी है. ये बात भी पूरी तरह से गलत है. पीड़िता को गला घोंटकर मारा गया है, इसकी वजह से उसके गले पर चोट के निशान आए हैं. उन्होंने कहा कि यही वजह है कि मामला इतना बिगड़ गया.

इसे भी पढ़ें- हाथरस केस: परिवार का आरोप, ‘जबरन जला दिया बेटी का शरीर, हमें आखिरी बार देखने भी न दिया’


वीडियो देखें: हाथरस: UP पुलिस ने केस की सबसे भयानक बातों पर दो बड़े दावे किए हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

पति के वर्क फ्रॉम होम से परेशान पत्नी का उसके बॉस को लिखा लेटर वायरल!

पति के वर्क फ्रॉम होम से परेशान पत्नी का उसके बॉस को लिखा लेटर वायरल!

लिखा- वर्क फ्रॉम होम जारी रहा तो शादी नहीं चल पाएगी.

'तारक मेहता...' के बबीता-टप्पू असल ज़िंदगी में अगर रिश्ते में है, तो जनता इतनी क्यों बेचैन है?

'तारक मेहता...' के बबीता-टप्पू असल ज़िंदगी में अगर रिश्ते में है, तो जनता इतनी क्यों बेचैन है?

मुनमुन, राज और 'जेठालाल' को लेकर इतनी गंदगी की उम्मीद 'तारक मेहता..' वालों ने नहीं की होगी.

भूखे बच्चों को अकेला छोड़ नौकरी के लिए प्रोटेस्ट कर रहीं विधवा औरतें आत्मदाह करने पर मजबूर!

भूखे बच्चों को अकेला छोड़ नौकरी के लिए प्रोटेस्ट कर रहीं विधवा औरतें आत्मदाह करने पर मजबूर!

मामला छत्तीसगढ़ का है. औरतों का कहना है- "चुनावी वादा पूरा नहीं कर रही सरकार"

भवानीपुर उपचुनाव: जब BJP के दिग्गज पीछे हट गए, तब ममता को टक्कर देने आईं प्रियंका टिबरेवाल

भवानीपुर उपचुनाव: जब BJP के दिग्गज पीछे हट गए, तब ममता को टक्कर देने आईं प्रियंका टिबरेवाल

भवानीपुर की प्रियंका टिबरेवाल, जो अब दूसरी बार ममता बनर्जी को 'हराने' के लिए कमर कस रही हैं.

'वर्जिनिटी टेस्ट' करने का ये घटिया तरीका बैन होने के बाद भी मेडिकल स्टूडेंट्स को पढ़ाया जाता रहा!

'वर्जिनिटी टेस्ट' करने का ये घटिया तरीका बैन होने के बाद भी मेडिकल स्टूडेंट्स को पढ़ाया जाता रहा!

महाराष्ट्र की एक यूनिवर्सिटी ने 'टू-फिंगर टेस्ट' को सिलेबस से हटाकर नई पहल की.

औरतों का प्रोटेस्ट कवर कर रहे पत्रकारों को तालिबान ने पकड़ा, थाने ले जाकर बुरी तरह पीटा!

औरतों का प्रोटेस्ट कवर कर रहे पत्रकारों को तालिबान ने पकड़ा, थाने ले जाकर बुरी तरह पीटा!

'मैंने पूछा- मुझे क्यों मार रहे हो. तालिबानी बोले कि शुक्र करो सिर कलम नहीं कर रहे'

'सेक्स की लत से लड़कियां लेस्बियन हो जाती हैं': MBBS कोर्स में पढ़ाया जा रहा था ये कचरा

'सेक्स की लत से लड़कियां लेस्बियन हो जाती हैं': MBBS कोर्स में पढ़ाया जा रहा था ये कचरा

LGBTQ+ समुदाय के बारे में पढ़ाई जा रहीं घटिया बातें, केरल HC ने जवाब मांगा है.

महिलाओं के साथ तालिबान की ज्यादती पर भड़के ऑस्ट्रेलिया ने क्या धमकी दे दी?

महिलाओं के साथ तालिबान की ज्यादती पर भड़के ऑस्ट्रेलिया ने क्या धमकी दे दी?

संकट में अफ़ग़ान क्रिकेट का भविष्य.

शिखर धवन और आयशा मुखर्जी का तलाक हुआ, लोग यहां भी बदतमीजी से बाज़ नहीं आए

शिखर धवन और आयशा मुखर्जी का तलाक हुआ, लोग यहां भी बदतमीजी से बाज़ नहीं आए

शिखर धवन की दीवानगी में अंधे लोगों को उनकी पत्नी का पक्ष भी समझना चाहिए

NDA में लड़कियों की भर्ती को लेकर सरकार ने बड़ा U टर्न मारा है और ये अच्छा है

NDA में लड़कियों की भर्ती को लेकर सरकार ने बड़ा U टर्न मारा है और ये अच्छा है

पहले भर्ती न देने के लिए नैशनल सिक्योरिटी तक का तर्क दिया था.