Submit your post

Follow Us

फिरोजाबाद का कपल, दिल्ली से अगवा किया, एक शव MP में तो दूसरा राजस्थान में मिला

उत्तर प्रदेश का फिरोजाबाद जिला. यहां एक लड़के को पड़ोस में रहने वाली लड़की से प्यार हो गया. 30 जुलाई को दोनों घर छोड़कर चले गए. लड़की नाबालिग थी, जबकि लड़का बालिग. दोनों की लाशें मिली. एक दूसरे से 100 किलोमीटर दूर. इस मामले में लड़की के पिता और चाचा शिकंजे में आए तो उन्होंने जो कहानी पुलिस को बताई, वो रोंगटे खड़े करने वाली थी.

ग्वालियर में युवक की हत्या

युवक का नाम उत्तम सिंह था. लड़की नाबालिग थी इसलिए उसका नाम हम नहीं बता रहे. फिरोजाबाद से आजतक के रिपोर्टर सुधीर शर्मा के मुताबिक, ये दोनों पहले भी एक बार घर से चले गए थे. लेकिन उस समय दोनों के घरवाले उन्हें ढूंढकर वापस ले आए थे. लोगों ने आपस में समझौता भी करा दिया था. लेकिन उसके बाद फिर दोनों फरार हो गए. पुलिस के मुताबिक, लड़का और लड़की घर से भागकर दिल्ली चले गए थे. लड़की के परिवार वालों ने किसी तरह उन्हें दिल्ली से ढूंढ निकाला. आरोप है कि दोनों को किडनैप करके मध्य प्रदेश के भिंड ले जाया गया. यहां से ग्वालियर लेकर आए. झांसी हाइवे पर आतरी थाना क्षेत्र में उत्तम सिंह की हत्या कर दी गई. उसके प्राइवेट पार्ट्स पर भी चाकू से वार किए गए. डेड बॉडी को ग्वालियर में ही छोड़ दिया. 5 अगस्त को उसकी लाश मिली. लेकिन पहचान नहीं होने के कारण वहां की पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी रही, लेकिन कोई सुराग नहीं मिल रहा था.

फोन ऑन करते ही पकड़े गए

इधर फिरोजाबाद के सिरसागंज थाने में लड़के के पिता ने 7 अगस्त को बेटे के गायब होने की रिपोर्ट दर्ज कराई. बाद में उन्हें शक हुआ कि लड़की भी तो गायब है, कहीं दोनों की हत्या न कर दी गई हो. उन्होंने पता किया तो मालूम चला कि लड़की के पिता ने थाने में किसी तरह की शिकायत दर्ज नहीं कराई है. इस पर लड़के के पिता ने गुमशुदगी के मामले को अपहरण में बदलने की तहरीर दी. लड़की के पिता, भाई और गांव के 4 अन्य लोगों को भी नामजद कराया. इसके बाद पुलिस ने लड़की के पिता की तलाश शुरू की क्योंकि वह गायब था और उसका मोबाइल भी स्विचऑफ था.

एक दिन लड़की के पिता ने मोबाइल ऑन किया. इससे पता लगाकर पुलिस उस तक पहुंच गई. सख्ती से पूछताछ हुई. पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने बताया कि उसने अपनी बेटी को उत्तम के साथ दिल्ली के एक घर में 1 अगस्त को पकड़ा था. 2 अगस्त को दोनों की गला दबाकर हत्या कर दी गई. आरोपी का कहना था कि उसकी दो बड़ी बेटियां हैं, जिनकी शादी नहीं हुई है. समाज में लोक लाज के डर से उसने ये काम किया. लेकिन वह पुलिस को गुमराह भी करता रहा. उसने बताया कि हत्या के बाद सहयोगियों की मदद से दोनों शवों को बटेश्वर के पास यमुना में फेंक दिया था. एसएसपी ने 24 अगस्त को आगरा से पीएससी और गोताखोरों की टीम बुलाई गई है. वह मोटर बोट लेकर यमुना की खाक छानते रहे. लेकिन शव नदी में थे ही नहीं तो मिलते कैसे.

Yamuna

लड़की की लाश धौलपुर में मिली

इस घटना में अहम मोड़ तब आया, जब करीब 3 हफ्ते पहले लड़की का शव राजस्थान के धौलपुर में झाड़ियों में मिला. राजस्थान पुलिस को भी उसकी पहचान के बारे में कुछ पता नहीं चला. उन्होंने भी अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया. पुलिस ने शिनाख्त के लिए प्रचार किया. उसी दौरान पता चला कि उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद इलाके से एक लड़का और लड़की गायब हैं. शक के आधार पर राजस्थान पुलिस ने फिरोजाबाद पुलिस से संपर्क किया, और मामला खुलता चला गया.

‘एक ही रस्सी से दोनों का गला घोंटा’

घटना के बारे में ग्वालियर के एसपी अमित सांघी ने बताया कि,

हाइवे से कुछ मीटर की दूरी पर एक युवक का शव मिला था. उसके गले पर पीले रंग की रस्सी थी. उसके बाद राजस्थान के धौलपुर में एक युवती की लाश हाइवे के किनारे पड़ी होने की सूचना मिली. दोनों में समानता ये थी कि जिस रस्सी से गला घोंटा गया था, वो पीले कलर की थी. एक ही रस्सी के दो टुकड़े दोनों शवों पर मिले थे. इसलिए अनुमान लगाया गया कि दोनों में कुछ ना कुछ समानता है. इसके बाद पुलिस फिरोजाबाद से आरोपियों को लेकर आई तो मामला खुला. 

एसएसपी फिरोजाबाद अशोक कुमार शुक्ला ने बताया कि हत्या के आरोपी लड़की के पिता को पहले ही जेल भेजा जा चुका है. लड़की का चाचा भी सरेंडर कर चुका है. बाकियों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई कर रही है. एसएसपी ने कहा कि झूठी शान के लिए लड़के-लड़की की हत्या कर दी गई. लड़की के पिता ने अपने लोगों के साथ मिलकर अपराध को अंजाम दिया. हमने गाड़ी भी बरामद कर ली. लेकिन उसने गुमराह करते हुए बताया था कि शवों को यमुना नदी में फेंक दिया गया है. फिर ग्वालियर और धौलपुर में लड़का और लड़की की लाश मिली. सुराग मिलने पर लड़की के परिवार वालों से पूछताछ की गई, तब पूरा मामला खुला.


हैदराबाद: छह साल की बच्ची के रेप और मर्डर के आरोपी का शव रेलवे ट्रैक के किनारे मिला

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

साड़ी पहनती थी, इसलिए मेरे बिना ही क्लाइंट मीटिंग्स में चले जाते थे कलीग्सः इंदिरा नूई

साड़ी पहनती थी, इसलिए मेरे बिना ही क्लाइंट मीटिंग्स में चले जाते थे कलीग्सः इंदिरा नूई

इंदिरा नूई की ऑटोबायोग्राफी 'माय लाइफ ऐट फुल' रिलीज़ हुई है.

कच्चे पपीते से लेकर यूट्यूब के नुस्खे: बच्चा गिराने के लिए न करें ये भयानक गलतियां

कच्चे पपीते से लेकर यूट्यूब के नुस्खे: बच्चा गिराने के लिए न करें ये भयानक गलतियां

यूट्यूब पर ट्यूटोरियल देख एक महिला खुद का अबॉर्शन कर रही थी, ऐसा हाल हो गया

ज़िंदगीभर जेल में रहेगा औरतों का रेप और बच्चों की तस्करी करने वाला सिंगर R Kelly

ज़िंदगीभर जेल में रहेगा औरतों का रेप और बच्चों की तस्करी करने वाला सिंगर R Kelly

कोर्ट ने माना- केली ने अपनी स्टारडम का इस्तेमाल कर महिलाओं और बच्चों का यौन शोषण किया.

वो टेस्ट जिसमें महिला खिलाड़ियों को साबित करना पड़ता है कि वो महिला हैं

वो टेस्ट जिसमें महिला खिलाड़ियों को साबित करना पड़ता है कि वो महिला हैं

तापसी पन्नू की आने वाली फिल्म 'रश्मि रॉकेट' स्पोर्ट्स में होने वाले जेंडर वेरिफिकेशन टेस्ट पर बात करती है.

REET का एग्ज़ाम देने गई लड़कियों के कपड़ों की अस्तीन क्यों काट दी गई?

REET का एग्ज़ाम देने गई लड़कियों के कपड़ों की अस्तीन क्यों काट दी गई?

क्या चीटिंग रोकने के लिए ऐसा किया या कारण कुछ और है?

जिस इवेंट में CJI ने औरतों के अधिकारों पर बात की, उसकी बार काउंसिल ने आलोचना क्यों कर दी?

जिस इवेंट में CJI ने औरतों के अधिकारों पर बात की, उसकी बार काउंसिल ने आलोचना क्यों कर दी?

CJI ने जुडीशरी में औरतों की 50 प्रतिशत भागीदारी पर जोर दिया, साथ ही इंफ्रास्ट्रक्चरल बदलावों की बात की.

आइसलैंड से आई एक गलत खबर और दुनिया में जेंडर इक्वालिटी पर बहस छिड़ गई

आइसलैंड से आई एक गलत खबर और दुनिया में जेंडर इक्वालिटी पर बहस छिड़ गई

आइसलैंड की कौन सी बात उसे भारत से कई गुना बेहतर देश बनाती है?

कोविड से जूझते हुए UPSC में तीसरी रैंक लाने वाली अंकिता जैन ने ऐसे की तैयारी

कोविड से जूझते हुए UPSC में तीसरी रैंक लाने वाली अंकिता जैन ने ऐसे की तैयारी

अंकिता के पति IPS हैं, बहन ने भी 21वीं रैंक हासिल की है.

महिला अधिकार कार्यकर्ता कमला भसीन का 75 वर्ष की उम्र में निधन

महिला अधिकार कार्यकर्ता कमला भसीन का 75 वर्ष की उम्र में निधन

नारीवाद और पितृसत्ता पर कई किताबें लिखी हैं, जिनमें से कई का 30 से अधिक भाषाओं में अनुवाद हुआ.

UPSC की महिला टॉपर जागृति अवस्थी, BHEL में इंजीनियर थी, नौकरी छोड़ दूसरे प्रयास में पाई सफलता

UPSC की महिला टॉपर जागृति अवस्थी, BHEL में इंजीनियर थी, नौकरी छोड़ दूसरे प्रयास में पाई सफलता

ग्रामीण, महिला और बाल विकास के क्षेत्र में काम करना चाहती हैं.