Submit your post

Follow Us

आधार कार्ड बनवाने गई, मजबूर पाकर कैद किया, बार-बार गैंगरेप किया

मध्य प्रदेश में एक जिला है बैतूल. यहां एक कस्बा है आमला. इस कस्बे में आधार कार्ड बनवाने के नाम पर एक लड़की को एक महीने तक कैद रखा गया. और तीन लोगों ने कई बार उसका गैंगरेप किया. लड़की की उम्र 19 साल है. उसने इस मामले की शिकायत पुलिस में की है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, लड़की 10वीं तक पढ़ी है और इंदौर में नौकरी करती है. कुछ दिन पहले उसका आधार कार्ड खो गया था. फिर उसने अपनी पहचान के एक लड़के से नया आधार कार्ड बनवाने के लिए मदद मांगी. लड़के का नाम छोटे पवार था.

छोटे ने लड़की को आमला बुलाया. 17 सितंबर को वह लड़के के बुलाई गई जगह पर पहुंच गई. छोटे ने लड़की को आमला में एक किराए के कमरे में रखा. लड़की ने पुलिस में की गई शिकायत में बताया कि वो बार-बार छोटे से बोलती रही कि उसका आधार कार्ड बनवा दे. लेकिन छोटे टालता रहा.

9 अक्टूबर के दिन छोटे रात को करीब 9 बजे लड़की के कमरे में गया. उसके साथ राम डिगया नाम का आदमी भी था. दोनों ने लड़की को जबरन एक स्कॉर्पियो में बैठाया और डिगया के खेत लेकर गए. वहां दोनों ने एक के बाद एक लड़की का रेप किया. उसके बाद लड़की को उसी कमरे में वापस छोड़कर चले गए. 13 अक्टूबर के दिन लड़की को फिर एक दूसरी जगह लेकर गए. जहां मंगल यादव नाम के तीसरे आदमी ने उसका रेप किया.

लड़की ने पुलिस को ये भी बताया कि तीनों ने उससे जबरन एक सुसाइड नोट भी लिखवाया था. ये कि अगर वो मर जाती है तो उसके चाचा-चाची जिम्मेदार होंगे. लड़की की हालत के बारे में जब उसके परिवार वालों को पता चला, तो वो लोग उसे लेने आमला पहुंचे. फिर पुलिस में शिकायत की. पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. जांच चल रही है. पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

कौन हैं ये पुष्पम प्रिया चौधरी जो बिहार की अगली CM बनने का दम भर रही हैं?

अखबार में इनकी नई पार्टी के पूरे-पूरे पन्नों के ऐड भी छपे हैं.

महिला दिवस पर इन सात महिलाओं ने चलाए पीएम मोदी के सोशल मीडिया अकाउंट

कोई बम धमाकों में बचीं तो कोई भूखों को खिलाती हैं खाना.

जानिए उन 16 महिलाओं की कहानी जिन्हें सरकार ने नारी शक्ति पुरस्कार दिया है

किसी को 'लेडी टार्जन' तो किसी को 'चंडीगढ़ का चमत्कार' कहा जाता है.

'दुनिया की बेस्ट मम्मी' का खिताब पाने वाले ये पापा कौन हैं?

आदित्य तिवारी की कहानी, जिन्होंने डाउन सिंड्रोम वाले बच्चे को गोद लेकर इतिहास रच दिया.

वो राजकुमारी जिनकी वजह से AIIMS में हम और आप अपना इलाज करवा पाते हैं

राजकुमारी अमृत कौर को Time मैगज़ीन ने 1947 के लिए वुमन ऑफ द ईयर चुना है.

कौन हैं नवनीत कौर राणा, वो सांसद जो लोकसभा में मास्क पहने दिखाई दीं?

इनके पति भी विधायक हैं.

रेलवे स्टेशन पर सामान ढोती इन महिलाओं की तस्वीर में दिक्कत क्या है?

रेल मंत्रालय ने ट्वीट कर इन तस्वीरों की तारीफ़ की है.

सत्ता में आने के बाद से अब तक PM मोदी महिला दिवस पर ये पांच चीज़ें कर चुके हैं

इस बार तो सोशल मीडिया अकाउंट महिलाओं को दे रहे हैं.

इस गाने में आलिया भट्ट, अनुष्का शर्मा, कटरीना कैफ़ सब हैं, लेकिन सबसे ख़ास बात ये है

'कुड़ी नू नचन दे' गाने में एक ऐसी चीज़ है, जो ज्यादातर गानों में नहीं मिलती.

इस बड़ी टीवी एक्ट्रेस ने बताया, 16 साल की उम्र में कास्टिंग काउच का कैसे किया सामना

मां से इंडस्ट्री छोड़ने की बात कही थी.