Submit your post

Follow Us

मंदिरा बेदी के काम से ज्यादा उनके ब्लाउज पर नजर डालने वाले ट्रोल्स सच में कायर हैं

मंदिरा बेदी. एक्ट्रेस हैं. टीवी प्रजेंटर हैं. फिटनेस एंथुसियास्ट हैं. सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं. लगातार ट्रोल्स के निशाने पर रहती हैं. 30 जून को उनके पति राज कौशल की की हार्ट अटैक से मौत हो गई. पति के गुज़रने के बाद 11 जुलाई को पहली बार वो घर से निकलीं, वॉक के लिए. उनका घर से निकलना उनके तमाम फैन्स के लिए एक संदेश है कि वो एक मजबूत महिला हैं और अब अपने जीवन में आगे बढ़ने की कोशिश कर रही हैं. अब शायद उन ट्रोल्स का मुंह बंद हो, जो राज के निधन के बाद मंदिरा के लिए घटिया बातें लिख रहे थे.

पर अगर हम मंदिरा की पब्लिक लाइफ को थोड़ा फ्लैशबैक करके देखें तो वो तब से ट्रोल्स का शिकार हो रही हैं, जब सोशल मीडिया पर लोगों को ट्रोल करने का ‘चलन’ नहीं था. तब से जब फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम जैसे प्लैटफॉर्म्स एग्जिस्ट भी नहीं करते थे. और हर बार मंदिरा ने मजबूती से ऐसे ट्रोल्स का सामना किया और उन्हें मुंहतोड़ जवाब भी दिया. एक नज़र डालते हैं.

जब मंदिरा का काम नहीं, ब्लाउज देखा गया

मंदिरा बेदी ने अपने करियर की शुरुआत साल 1994 में दूरदर्शन पर आने वाले ‘शांति’ नाम के सीरियल से की. जल्द ही उन्हें बॉलीवुड में काम करने का मौका मिला. मंदिरा ‘दिल वाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ में नजर आईं. धीरे-धीरे टीवी पर उनकी प्रजेंस बढ़ती गई. साल 2003 में उन्हें क्रिकेट वर्ल्ड कप को होस्ट करने का मौका मिला. सोनी चैनल ने उन्हें यह जिम्मेदारी दी. मंदिरा क्रिकेट मैच होस्ट करने वाली पहली भारतीय महिला बनीं. उन्हें खूब सराहा गया. लेकिन इसे लेकर उन्हें बेवजह निशाना भी बनाया गया. उनके कपड़ों पर कमेंट किए गए. लिखा गया कि मंदिरा क्रिकेट में जरूरत से ज्यादा ग्लैमर का तड़का लगाती हैं, जिससे खेल की गंभीरता खत्म हो जाती है. इस अनुभव के बारे में मंदिरा बेदी ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए गए एक इंटरव्यू में कहा था,

“लोगों के ऐसे कमेंट काफी परेशान करने वाले होते थे. मैं अपने जॉब के लिए बहुत मेहनत करती थी. लेकिन लोग सिर्फ मेरे ‘नूडल स्ट्रैप’ ब्लाउज और कपड़ों के बारे में ही बातें करते थे.”

मंदिरा बेदी के कपड़ों को लेकर एक विवाद 2007 के क्रिकेट वर्ल्ड कप के दौरान भी हुआ. दरअसल, मंदिरा ने एक ऐसी साड़ी पहनी थी, जिसमें क्रिकेट वर्ल्ड कप में भाग ले रहीं टीमों के झंडे छपे थे. इसमें एक झंडा भारत का भी था. इसे लेकर मंदिरा की खूब आलोचना हुई. फर्स्टपोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक मंदिरा ने बाद में माफी मांगी.

2007 क्रिकेट वर्ल्ड कप के दौरान मंदिरा ने ऐसी साड़ी पहनी, जिसमें अलग-अलग देशों के झंडे बने हुए थे. इसे लेकर उनकी बहुत आलोचना हुई. बाद में उन्हें माफी भी मांगनी पड़ी. (फोटो: ट्विटर)
2007 क्रिकेट वर्ल्ड कप के दौरान Mandira Bedi ने ऐसी साड़ी पहनी, जिसमें अलग-अलग देशों के झंडे बने हुए थे. इसे लेकर उनकी बहुत आलोचना हुई. बाद में उन्हें माफी भी मांगनी पड़ी. (फोटो: ट्विटर)

बाद में मंदिरा ने इन ट्रोल्स को तवज्जो देना बंद कर दिया. टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए गए इंटरव्यू में मंदिरा में कहती हैं कि शुरुआत में परेशान होने के बाद उन्होंने इस तरह के लोगों और उनकी टिप्पणियों पर ध्यान देना बंद कर दिया और सारा ध्यान अपने काम पर लगाया.

‘भारतीय पुरुष कायर हैं’

एक्टिंग और होस्टिंग से इतर मंदिरा को फिटनेस एंथुजियास्ट के तौर पर भी जाना जाता है. गाहे-बगाहे वे सोशल मीडिया पर अपने वर्कआउट की तस्वीरें और वीडियोज़ डालती रहती हैं. इन्हें लेकर भी उनके खिलाफ भद्दी बातें लिखने से ट्रोल्स पीछे नहीं हटे. दिसंबर, 2017 में मंदिरा ने अपनी कुछ फोटोज सोशल मीडिया पर डालीं. इन फोटोज पर लोगों ने भद्दे और अश्लील कमेंट किए.

एक ट्वीट देखिए. एक शख्स ने लिखा है कि 40 की उम्र में मंदिरा दरबान, ड्राइवर, दूधवाले, स्कूल टीचर्स और यहां तक कि अपने बेटे के दोस्तों के साथ सेक्स करना चाहती हैं.

इस तरह की ट्रोलिंग को लेकर मंदिरा बेदी ने एमटीवी पर आने वाले शो ‘ट्रोल पुलिस’ में अपनी बात रखी थी. उन्होंने ट्रोल करने वालों को कायर बताया था. उन्होंने कहा था,

“सोशल मीडिया के आने के बाद चीजें बदल गई हैं. लोग अपनी पहचान छिपाकर बच जाते हैं. लेकिन इतने सालों में मेरा जो अनुभव रहा है, वो यह कि भारतीय पुरुष कायर होते हैं. सामान्य तौर पर मैं इस तरह की ट्रोलिंग पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देती क्योंकि एक तरफ ऐसी महिलाएं हैं जिनके लिए मैं प्रेरणास्त्रोत हूं और दूसरी तरफ ऐसे पुरुष हैं, जो बॉडी शेमिंग करते हैं.”

ट्रोल्स ने 5 साल की बेटी को भी नहीं छोड़ा

मंदिरा और उनके पति ने एक बच्ची को गोद लिया था. बच्ची के साथ जब मंदिरा और उनके पति ने एक फोटो सोशल मीडिया पर डाली, तो ट्रोल्स ने उस बच्ची को भी नहीं छोड़ा. उस बच्ची को गली और कचरे के डब्बे से लाया गया बताया गया. मंदिरा पर भी आरोप लगाए गए कि वो अपना पीआर चमकाने के लिए बच्ची का बचपन छीन रही हैं. तब मंदिरा ने ट्रोल्स को जवाब दिया था. उन्होंने लिखा था कि बीमार लोग सबसे बड़े कायर होते हैं. जिनको अनाम बनकर अपनी जीभ लपलपाना आता है.

मंदिरा एक मजबूत महिला हैं. उन्होंने करियर की शुरुआत से लेकर अब तक भद्दे ट्रोल्स का सामना किया है. उनके कपड़ों को लेकर, उनके शरीर को लेकर, उनके बच्चों को लेकर, उनकी ज़िंदगी से जुड़े हर पहलू को लेकर उनके खिलाफ एक घिनौना नैरेटिव गढ़ने की कोशिश की गई. लेकिन हर बार मंदिरा एक मजबूत औरत के रूप में सामने आईं. उन्होंने ट्रोल्स को भरपूर जवाब दिया. इस बार ट्रोल्स ने घटियापने की हद पार कर दी. मंदिरा पर तब हमला किया जब वो अपनी ज़िंदगी के शायद सबसे मुश्किल दौर से गुज़र रही थीं. जब वो टूटी हुई थीं तब उन पर संस्कार और कपड़ों के नाम पर घटिया बातें लिखी गईं. कहा गया कि उन्होंने हिंदू परंपराओं का अपमान किया. लेकिन, हमें उम्मीद है, इन फैक्ट यकीन है कि मंदिरा इस मुश्किल समय का पूरी ताकत से सामना करेंगी.


वीडियो- इंटरनेट पर मुस्लिम महिलाओं की ऑनलाइन नीलामी करने वालों को ऐसे घेर रही पुलिस

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

हिंदू- मुस्लिम शादी के लिए परिवार थे राज़ी, धर्म के ठेकेदारों ने हंगामा मचा दिया

घर वालों को प्रेम दिख रहा था, दुनिया वालों को लव-जिहाद.

इस एक्ट्रेस को एक शख्स सालभर से भेज रहा अश्लील तस्वीरें, अब रेप की धमकी दी

बंगाली एक्ट्रेस प्रत्युषा ने बताया- "30 बार ब्लॉक कर चुकी हूं, 31वां अकाउंट बनाकर धमका रहा"

केरल के इस फेमस एक्टर पर लगा दहेज उत्पीड़न का आरोप, हाई कोर्ट ने कहा- 'सरेंडर करो'

पत्नी का आरोप- पैसे गबन कर लिए, शारीरिक और मानसिक तौर पर टॉर्चर भी किया.

कोच पी नागराजन पर सात और महिला एथलीट्स ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

कोच नागराजन करीब तीन दशक से कई राष्ट्रीय पदक विजेताओं को ट्रेनिंग दे रहे हैं.

UP: मॉडल की मां ने फेसबुक लाइव कर सुसाइड कर लिया, पुलिस पर लगाए ये आरोप

बेटे के लापता होने की शिकायत दर्ज कराने थाने गईं थीं.

बस कंडक्टर ने नाबालिग से पूछा-'सेक्स के बारे में कुछ जानती हो' कोर्ट ने एक साल की सजा सुनाई

POCSO एक्ट की धारा 12 के तहत दोषी पाया.

इलाज के बहाने लड़कियों के प्राइवेट पार्ट में हाथ डालने वाले डॉक्टर का कच्चा-चिट्ठा फिर खुला

फेमस जिमनास्ट सिमोन बाइल्स भी हुई थीं लैरी नासर का शिकार, कई बड़े खुलासे किए.

मुसलमान औरतों पर अश्लील चर्चा कर उनकी बोलियां लगाने वालों के बुरे दिन शुरू

'सुल्ली डील्स' मामले में दर्ज हुई FIR. आरोपियों को ट्रेस करने में जुटी पुलिस.

9 साल की बच्ची के रेप मामले में BJP नेता के खिलाफ पुलिस ने चार्जशीट फाइल कर दी है

मार्च, 2020 में हुई थी घटना. पहले नेता को बचाने के लिए POCSO की धाराएं हटा दी गई थीं.

UP में बदले के नाम पर मां-बाप के सामने 16 साल की बच्ची से गैंगरेप का आरोप

आरोप है कि बदला लेने के लिए आरोपियों ने ये हरकत की.