Submit your post

Follow Us

मेट्रो में लड़की को 'संस्कार' सिखाने वाली महिला ने साबित कर दिया कि बुजुर्ग हमेशा सही नहीं होते

एक कहानी सुनाती हूं.

प्रिया और रोहन दोस्त थे. दिल्ली के एक कॉलेज में साथ में पढ़ रहे थे. कुछ दिन पहले दोनों मेट्रो से कहीं जा रहे थे. बैठने की जगह नहीं थी, इसलिए खड़े थे. रोहन ने प्रिया का हाथ पकड़ रखा था. और उसके कान में धीरे से कुछ कह रहा था (नोट- बस कुछ कह रहा था. कुछ और नहीं कर रहा था). तभी प्रिया ने ध्यान दिया कि आस-पास खड़े लोग उन दोनों को अजीब तरह से घूर रहे थे. वो डर गई.

उसके मन में पहला ख्याल ये आया कि कहीं कोई फोन निकालकर उन दोनों का वीडियो तो नहीं बना रहा है. उसने तुरंत रोहन का हाथ छुड़ाया. उससे दो हाथ दूर खड़ी हो गई. वो ये भूल गई कि वो आखिर उसके कान में बोल क्या रहा था. बस एक ही बात उसके दिमाग में घूमने लगी. ये कि कहीं किसी ने चुपके से कुछ रिकॉर्ड तो नहीं कर लिया. कहीं कुछ दिन बाद उसका वीडियो तो नहीं वायरल होने लगेगा. कहीं उसकी कोई खबर तो नहीं बन जाएगी. कहीं सोशल मीडिया पर लोग उसे ‘अश्लील हरकत करने वाली लड़की’ के नाम से तो नहीं जानने लगेंगे. अगर ऐसा होगा, तो क्या होगा. वो कहां जाएगी. क्योंकि जहां भी वो जाएगी हर कोई उसे ऐसी नजरों से देखेगा, जो उसे अंदर तक खोखला कर देगी.

ये सब प्रिया ने मुश्किल से 5 सेकेंड के अंदर सोच लिया था. उसकी आंखों में आंसू आ गए. उधर रोहन को समझ नहीं आ रहा था कि प्रिया को अचानक से क्या हो गया. इतने में मेट्रो किसी स्टेशन पर रुकी. यहां प्रिया और रोहन को उतरना नहीं था. लेकिन फिर भी प्रिया भीड़ को चीरते हुए बाहर निकल गई. रोहन भी गिरता-पड़ता उसके पीछे, उसे रोकने की कोशिश करते हुए बाहर निकल गया. अंदर बैठे लोग, जो उन दोनों को लगातार घूर रहे थे, धीरे से मुस्कुरा दिए. उन्हें लगा कि उन्होंने मेट्रो के अंदर ‘अश्लील हरकत’ करने वालों को भगा दिया. उन्हें लगा कि वो ‘सभ्य’ हैं, उन्होंने ‘नैतिकता’ को छलनी होने से बचा लिया. इन्हीं सब ‘सभ्य’ लोगों के बीच एक ‘अत्यधिक सभ्य’ आदमी भी बैठा था. जैसे ही प्रिया और रोहन मेट्रो से निकले, उस ‘अत्यधिक सभ्य’ आदमी ने अपने फोन की वीडियो रिकॉर्डिंग रोक दी और हौले से मुस्कुरा दिया.

कहानी खत्म. अब हकीकत में आते हैं.

आप लोग सोच रहे होंगे कि हमने आपको ये कहानी क्यों सुनाई? इसलिए क्योंकि एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. मेट्रो के अंदर का ही है. वीडियो में अधेड़ उम्र की एक औरत एक कपल को बुरी तरह चिल्लाते हुए दिख रही है. उस औरत के बोलने की तरीके से लग रहा है कि वो हरियाणा की होगी. लोग उसे हरियाणवी ताई कह रहे हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि लड़का और लड़की मेट्रो के अंदर ‘अश्लील हरकत’ कर रहे थे. इस ‘अश्लील हरकत’ में क्या शामिल था, ये किसी ने भी नहीं बताया. जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसकी शुरुआत लड़का और लड़की की ‘अश्लील हरकतें’ रुकने के बाद का है. सीधे हरियाणवी ताई के तेवरों से इसकी शुरुआत हुई है. वो कह रही हैं (जितना हमें समझ आया), ‘यही सिखा के भेजा है तेरे घर से. चुम्मा-चाटी कर रही है. कंट्रोल नहीं है.’

इतने में लड़की ने आंटी की भाषा पर सवाल खड़े किए, तो उन्होंने कहा, ‘हां-हां मेरी लेंगबेज न… मेरी हाथ की बेज भी देखियो फिर.’

आगे उन्होंने कुछ-कुछ कहा. जिससे समझ आया कि वो लड़की को झापड़ मारने की धमकी दे रही हैं. लड़की ने जब ये कहा कि वो 18 साल से बड़ी है तब ताई ने कहा ‘पिट कर जाएगी क्या?’ इसके अलावा हरियाणवी ताई जितना बुरा-भला बोल सकती थीं, बोलीं. सारा गुबार जो उनके मन में था वो उड़ेल दीं. लड़के पर भी चिल्लाया. कहा कि वो पाखंडी है. इतनी छोटी हाइट की लड़की को लेकर घूम रहा है, वो उसकी बच्ची लग रही है. इसके बाद भी आंटी लगातार बोलती रहीं. लड़की ने उन्हें चुप रहने के लिए कहा, लेकिन ताई बोलती रहीं, बोलती रहीं, बोलती रहीं. उन्हें लगा कि उन्होंने ‘अश्लील हरकत’ करने वाले लोगों को सबक सिखा दिया है.

Haryanvi Tai
वीडियो नहीं दिखा सकते, इसलिए स्क्रीनशॉट से ही काम चलाएं.

दो दिन पहले किसी ने ये वीडियो सोशल मीडिया पर डाल दिया, तब से ही ये वायरल हो रहा है. हमारी ज्यादातर ‘सभ्य’ जनता हरियाणवी ताई की तारीफ कर रही हैं. कह रही हैं कि ‘चुम्मा-चाटी करते हुए आशिकों को अच्छा सबक सिखाया. हमारे बुजुर्ग अगर ऐसा करते रहे, तो सुधार हो जाएगा.’ (नोट- हम वीडियो नहीं दिखा सकते. क्योंकि उसमें लड़की का चेहरा भी दिख रहा है.)

एक महाशय हैं. नाम है अरुण यादव. ट्विटर अकाउंट पर ब्लू टिक लगा हुआ है. हरियाणा बीजेपी के सोशल मीडिया हेड हैं. हरियाणवी ताई की तारीफ इन्होंने भी की है. 16 नवंबर के दिन एक तस्वीर डालकर लिखा,

‘आज सोशल मीडिया पर छाई रही हरियाणा की ताई. मेट्रो में आशिकों का भूत उतारने में माहिर. जय हो.’

अब आपको बताएं कि ये वीडियो कबका है

एक महीने पुराना है जी. ‘द प्रिंट’ के मुताबिक, जिस लड़की पर आंटी जी का गुस्से का बम फूटा है, वो दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक कॉलेज में पढ़ती है. डांस भी सीखती है. डांस एकेडमी साकेत में है. घर नोएडा में है. वो रोज नोएडा से साकेत जाती है, मेट्रो से. अपने दोस्तों के साथ. उस दिन भी (जिस दिन हरियाणवी ताई ने हंगामा मचाया) लड़की अपने दोस्त के साथ मेट्रो से साकेत जा रही थी कहीं जा रही थी. सेल्फी ले रही थी. साथ ही पैर हिलाकर डांस स्टेप की प्रैक्टिस कर रही थी. जो वो अक्सर किया करती है. इतने पर ताई को गुस्सा आ गया और उन्होंने चिल्लाना शुरू कर दिया. किसी ने चुपके से वीडियो बना लिया. और जिसने भी बनाया, उसने लड़की का चेहरा भी वीडियो में दिखा दिया.

लड़की जो इस घटना को लगभग भूल चुकी थी, तीन दिन से बहुत-बहुत परेशान है. अचानक से वो घटना एक बार फिर उसकी आंखों के सामने आ गई है. हर जगह ये वीडियो वायरल हो रही है. वो लड़की मेंटल ट्रॉमा से गुजर रही है. हालांकि उसने पुलिस में वीडियो अपलोड करने के लिए अज्ञात आदमी के खिलाफ शिकायत दर्ज करा दी है.

लड़की ने ये भी बताया कि उस औरत ने उसके बाल भी पकड़े थे. जो कि वीडियो में नहीं दिख रहा है. जब हरियाणवी ताई ने उसके बाल पकड़े थे, तब कोई भी उसे बचाने के लिए नहीं आया था. लड़की ने अपने फेसबुक अकाउंट पर भी एक वीडियो डाला है. जिसमें उसने इस घटना के बारे में पूरी जानकारी दी है. उसने बताया कि वो बुजुर्गों की रिस्पेक्ट करती है. जब मेट्रो में वो आंटी उसे चिल्ला रही थीं, तब उसने कई बार माफी भी मांगी थी. लड़की इस बात से दुखी है कि लोगों ने दोनों पक्षों की बात जाने बिना ही उसे ‘नैतिकता’ का पाठ पढ़ाना शुरू कर दिया. उसके बारे में भला-बुरा कहने लगे.

सोशल मीडिया पर हर कोई उस औरत को हरियाणवी ताई कह रहा है. उसे ‘भारत की संस्कृति’ बचाने वाला कह रहा है. लेकिन उन सब लोगों से हम कुछ बहुत जरूरी बातें कहना चाहते हैं:

– किसी को ‘नैतिकता’ के नाम पर इतना बुरी तरह से चिल्लाना. सरेआम थप्पड़ मारने की धमकी देना. सबके सामने उसका अपमान करना. क्या सही है? क्या यही ‘भारत की संस्कृति’ है?

– किसी को भी उसकी हाइट, रंग-रूप को लेकर कमेंट करना. क्या ये ‘भारत की संस्कृति’ है?

– क्या लड़का और लड़की का सेल्फी लेना गलत है? हां मेट्रो के अंदर नियम के मुताबिक ये गलत है. तो मानते हैं कि लड़का और लड़की ने नियम तोड़ा. तब तो फिर नियम उस आदमी या औरत ने भी तोड़ा है, जिसने इस पूरी घटना को रिकॉर्ड किया और सोशल मीडिया पर वायरल किया.

– वीडियो का वायरल होना भी सही नहीं है. हरियाणवी ताई ने तो तारीफें बटोर लीं. लेकिन उस लड़की का क्या, जो इस सबका शिकार हुई. उसका चेहरा सबने देख लिया. अब सोचिए कि उस पर क्या बीत रही होगी. वो तो ‘सभ्य’ जनता की नजरों का शिकार हो गई है. उसकी ‘असभ्यता’ तो दिख गई न?

– सबसे आखिरी, लेकिन सबसे जरूरी. अरुण यादव का हरियाणवी ताई की तारीफ करना. सत्ताधारी पार्टी के सदस्य हैं ये. उस पार्टी के, जिसके लोग हमारे लिए कानून बना रहे हैं. उस पार्टी के, जिसका काम बेटियों को सुरक्षित रखना है, उनपर लांछन लगाने वालों को उड़ान देना नहीं.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

पत्नी नेता थी, कई लोगों से मिलना-जुलना था, शक में पति ने गोली मार दी

बीजेपी नेता ने दम तोड़ने से पहले फोन पर पति के गोली चलाने के बारे में बताया था.

छात्राओं का आरोप, DU के इस कॉलेज फेस्ट में लड़के आए, 'जय श्री राम' के नारे लगाए और यौन शोषण किया

स्टूडेंट्स अब इंस्टाग्राम पेज बनाकर अपना-अपना बैड एक्सपीरियंस शेयर कर रहे हैं.

दिल्ली: सब इंस्पेक्टर ने शादी से मना किया तो गोली मार दी, फिर सुसाइड कर लिया

दोनों ने 2018 में दिल्ली पुलिस जॉइन किया था.

रेलवे पुल पर औरतों को पकड़कर चूमने की कोशिश करता था, लेकिन केस चोरी का दर्ज हुआ

CCTV में गंदी हरकत करता दिखा आरोपी.

दिल्ली: अमेरिकी दूतावास कैंपस में 5 साल की बच्ची से रेप, आरोपी एंबेसी का कर्मचारी

बच्ची के माता-पिता भी दूतावास के कर्मचारी.

कांग्रेसी नेता ने FB पर महिला IAS के अश्लील वीडियो के बारे में पोस्ट डाली, मुकदमा हो गया

राजस्थान के अजमेर का मामला है.

पुराने दोस्त थे, लड़की की शादी तय हुई तो लड़के ने ज़िंदा जला दिया

लड़का खुद शादीशुदा है और एक बच्चे का पिता भी है.

चिन्मयानंद को ज़मानत, कोर्ट ने कहा: 'वर्जिनिटी दांव पर लगी, पर लड़की एक शब्द नहीं बोली'

लड़की की चुप्पी पर सवाल खड़े किए.

देहरादून: स्कूल की बच्ची से गैंगरेप, गर्भपात करवाया गया, अब कोर्ट ने सख्त सज़ा सुनाई है

बोर्डिंग स्कूल में पढ़ती थी बच्ची.

TMC नेता ने दो महिलाओं के पैर बांधकर बुरी तरह पीटा, बाद में सस्पेंड हो गए

जमीन को लेकर विवाद हुआ और अब वीडियो वायरल हो रहा है.