Submit your post

Follow Us

आंखों में लेंस लगाते हैं, तो ये पांच चीजें भूलकर भी न करें

मेरी फ़्लैटमेट लेंस लगाती थी. लेकिन एक बड़ी अजीब आदत थी उसकी. ऑफिस से लौटती, तो लेंस उतरना भूल जाती थी. कई बार तो उन्हें पहने हुए ही सो जाती. फिर उसे नींद से उठाकर उसकी बहन याद दिलाती थी कि लेंस उतारने हैं.

वो अकेली ऐसी इंसान नहीं है, जो ये गलती करती है. कई लोग ऐसे ही कह देते हैं कि लेंस लगाए हुए सो जाने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं होती. या फिर कई बार वो महीने भर वाले लेंसेज दो महीने भी इस्तेमाल कर लेते हैं.

सावधानी रखना बेहद जरूरी

ये सभी आदतें आपकी आंखों के लिए बेहद खतरनाक हैं. अगर आप भी चश्मे की जगह लेंसेज का इस्तेमाल करते हैं, या फिर ऐसे ही कलर बदलने के लिए आपको लेंस लगाना पसंद है, तो कुछ सावधानियां आपको जरूर रखनी चाहिए. क्या हैं ये, आप यहां पढ़ लीजिए:

1. कोई भी लेंस खरीदने से पहले अपने आंखों के डॉक्टर से सलाह ज़रूर लें. अगर आप पावर का चश्मा लगाते हैं, तो लेंस की क्या पावर होनी चाहिए, कौन से बेस्ट होंगे, ये डॉक्टर से पूछ लें. कई मामले ऐसे होते हैं, जिनमें किन्हीं वजहों से डॉक्टर लेंस लगाने से मना करते हैं. ये चेक कर लें कि कहीं आपकी आंखों में ऐसी कोई दिक्कत तो नहीं है.

2. यूनिवर्सिटी ऑफ आयोवा (अमेरिका में एक जगह है इस नाम की) की हेल्थकेयर वेबसाइट बताती है कि लेंस छूने से पहले हमेशा अपने हाथ अच्छी तरह माइल्ड साबुन से धोकर सुखा लें. हाथ पोंछने के लिए ऐसा कपड़ा इस्तेमाल करें, जिसमें रोंये न हों.

Closeup Photo Of Left Human Eye 1210016
कई बार चश्मे की बनिस्बत लेंस लगाना पसंद करते हैं लोग, क्योंकि भाग-दौड़ वगैरह के काम में लेंस काफी कम्फर्टेबल रहते हैं. उन्हें बार-बार संभालना नहीं पड़ता. (सांकेतिक तस्वीर: Pexels)

3. अपने लेंस का डब्बा और उसका सलूशन हमेशा अपने साथ लेकर चलें. एक महीने तक ही किसी भी सलूशन को इस्तेमाल करें. इसके बाद अगर डब्बे में सलूशन बचा भी है, तो भी उसे इस्तेमाल न करें.

4. अगर लेंस पहन रखे हैं, तो बार-बार आंखों को झपकाना न भूलें. इससे लेंस को नमी मिलती रहती है और वो ड्राई नहीं होता.

5. स्विमिंग करते वक़्त अगर लेंसेज पहनते हैं, तो गॉगल्स ज़रूर लगाएं. यही नहीं, अगर रनिंग, बैक राइडिंग इत्यादि के लिए जाना है, जिसमें आंखों में धुल धक्कड़ पड़ने की आशंका हो तो चश्मा ज़रूर लगायें.

ये चीज़ें तो बिलकुल न करें

1. लेंस को मुंह में न रखें. गिर जाए, तो बिना धोये दोबारा यूज न करें. पहनकर तो बिल्कुल न सोयें.

2. अगर मेकअप कर रहे हैं, लेंस लगाने के बाद, तो स्प्रे इत्यादि का इस्तेमाल करते समय आंखें बंद कर लें.

3. अगर लेंस के इस्तेमाल करने की अवधि 30 दिन है, तो उनका पैकेट खोलने के 30 दिन के भीतर ही उन्हें इस्तेमाल कर लें. उससे ज्यादा समय तक उन्हें चलाने की कोशिश न करें.

Close Up Photo Of Human Eye 2953811
कई लोग कलर्ड लेंस भी लगाते हैं. इन्हें भी खरीदने से पहले पक्का कर लें कि आपकी आंखों को इनसे दिक्कत तो नहीं होगी. (सांकेतिक तस्वीर: Pexels)

4. लेंस लगाकर किसी तेज आंच या भाप वाली चीज़ के नज़दीक न जाएं. लेंस पहन रखे हैं, तो अपनी आंखें जोर-जोर से न मलें.

5. लेंस को सिर्फ उसके सलूशन में ही रखें या उससे साफ़ करें. अगर आप दाईं और बाईं आंख के लेंस में कन्फ्यूज हो जाते हैं डब्बे में रखते वक़्त, तो एक आंख का लेंस पहले उतारने की आदत डाल लें.

इन सभी चीज़ें का ध्यान रखेंगे और समय-समय पर अपने डॉक्टर से सलाह लेते रहेंगे, तो आपके लेंस भी सही सलामत रहेंगे और आपकी आंखें भी.


वीडियो:  तीन परिवार कोरोना से उजड़ गए, इनकी कहानी से समझ लीजिए बचाव क्यों ज़रूरी है 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

'सेक्स रैकेट क्वीन' सोनू पंजाबन ने सोचा भी नहीं होगा कि कोर्ट इतनी ज़्यादा सज़ा सुना देगी

जिस मामले में सज़ा हुई, वो एक बच्ची के रेप, किडनैपिंग और उसे देह व्यापार में धकेलने का है.

बंगाल: जिस केस को रेप-मर्डर कहा जा रहा था, उसमें अब नई कहानी सामने आई है

19 जुलाई को लड़की का और 20 जुलाई को लड़के का शव मिला था.

बंगाल में लड़की की मौत को 'रेप के बाद हत्या' कहा जा रहा था, पर हकीकत क्या है?

शव मिलने के बाद लोगों ने भयंकर विरोध प्रदर्शन किया था.

पुलिसवाले पर आरोप, लड़की को कॉल कर कहा- 50 हज़ार ले लो, साले के लिए घर आ जाओ

बातचीत का ऑडियो वायरल, आरोपी पुलिसकर्मी सस्पेंड.

दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे, महिला ने वीडियो बनाया, जी-मेल में सबूत रखकर फांसी लगा ली

मां से अपने पति और सास-ससुर को सजा दिलवाने की गुहार लगाई.

सेक्स रैकेट क्वीन सोनू पंजाबन, जिसे बच्ची से रेप केस में कोर्ट ने दोषी करार दिया है

2009 में हुआ था बच्ची का अपहरण, फिर वो कई बार कई लोगों को बेची गई.

103 साल की उम्र में कोरोना को हरा आईं, लेकिन पड़ोसियों ने ओछी हरकत कर डाली

हमीदा को दुकानदार तक सामान नहीं बेच रहे.

घिनौनापन! सुशांत के सुसाइड पर दुख जताने वाले, रिया चक्रवर्ती को सुसाइड करने के लिए कह रहे हैं

ये भी कहा गया कि तुम्हारा रेप हो. जान से मारने के लिए आदमी भेजने की बात भी कही गई.

मदरसा टीचर ने चार साल तक नाबालिग लड़की का रेप किया, अब जाकर केस दर्ज हुआ

लड़की को उसके पति ने केस दर्ज करवाने की हिम्मत दी.

बच्चियों को 'हायर' करके रेप करने का आरोपी प्यारे मियां भोपाल से भागा था, श्रीनगर में पकड़ाया

एक बच्ची की दादी भी पुलिस की गिरफ्त में.