Submit your post

Follow Us

अलका लांबा ने 2 साल पहले मोदी को अपशब्द कहे, अब उनके चरित्र पर हमला किया जा रहा

लखनऊ के हज़रतगंज थाने में कांग्रेस नेता अलका लांबा के ख़िलाफ एफआईआर दर्ज़ कर ली गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर अपमानजनक टिप्पणी करने के आरोप में. अलका लांबा का अचानक 25 मई को एक वीडियो वायरल होने लगा. इसमें वो उन्नाव रेप केस का बैकग्राउंड लेते हुए देश में महिला सुरक्षा पर बात कर रही थीं. बोलते-बोलते मोदी और योगी को लेकर ग़लत बातें बोल गईं. उनके लिए ‘नपुंसक’ शब्द तक का इस्तेमाल कर दिया.

बस यही वीडियो वायरल होने के बाद यूपी बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य प्रीति वर्मा की तहरीर पर उनके खिलाफ एफआईआर हुई है. मज़े की बात ये कि जिस वीडियो पर एफआईआर हुई है, वो दो साल पुराना है. 2018 का.

इधर, अलका लांबा पर अभद्र कमेंट के लिए एफआईआर हुई. उधर, लोग उन्हीं पर अभद्र कमेंट करने में जुट गए.

ये ट्वीट देखिए, जो 25 मई की शाम सतेंद्र सिंह नाम के शख़्स ने किया. सतेंद्र ट्विटर पर ख़ुद को भारतीय जनता युवा मोर्चा का आईटी सहप्रमुख- मध्यप्रदेश लिखते हैं.

सतेंद्र सिंह कितने ज़िम्मेदार पद पर हैं, नहीं पता. लेकिन मेरठ से बीजेपी एमएलसी डॉक्टर सरोजिनी अग्रवाल ज़िम्मेदार पर हैं. उन्होंने भी ऐसा ही ट्वीट किया. बाद में डिलीट कर दिया. फिर उनके ट्वीट का स्क्रीनशॉट अटैच करते हुए ऑल इंडिया महिला कांग्रेस ने ट्वीट किया.

ट्वीट डिलीट करने के बाद स्पष्टीकरण. कि – ये न्यूज़ तो पहले से ट्विटर पर थी. मैंने कोई टिप्पणी नहीं की. मैं कोई न्यूज़ नहीं फैला रही. बाद में ये ट्वीट भी डिलीट कर दिया. एक और सफाई देता ट्वीट किया. ये अभी डिलीट होने से बचा हुआ है.

दि लल्लनटॉप ने सरोजिनी अग्रवाल से  पूछा कि जनता की प्रतिनिधि हैं. ऐसी ख़बर, जिसके सही-ग़लत होने का कोई प्रमाण नहीं, उसे क्यों शेयर किया? जवाब मिला –

“वो स्क्रीनशॉट तो मुझे ट्विटर पर कहीं मिला था. मैंने तो बस उसे पोस्ट करते हुए सवाल किया कि जिस महिला के बारे में ऐसी ख़बरें आ रही हैं, वो मोदी जी और योगी जी के बारे में अभद्र टिप्पणी कर रही है. मैंने अपनी तरफ से थोड़ी न कुछ ग़लत लिखा. बस एक स्क्रीनशॉट शेयर किया. अब मुझे थोड़ी न पता था कि उसकी सच्चाई क्या है?”

अब देखिए सतेंद्र सिंह के ट्वीट पर आ रहे कुछ कमेंट्स..

अलका के घर पर पुलिस रेड की बात कहां से आई?

ये 2014 का स्क्रीनशॉट है. फर्ज़ी है. उस वक्त अलका लांबा आम आदमी पार्टी में थीं. अचानक उनके नाम पर ये ख़बर सोशल मीडिया पर चली. वायरल होने लगी. अलका ने पुलिस में शिकायत की. नाम लिया पूर्व आप नेता विनोद कुमार बिन्नी का. कहा कि ये फर्ज़ी ख़बर बिन्नी ने वायरल कराई कि अलका के घर पर पुलिस का छापा पड़ा और इससे पता चला कि वे सेक्स रैकेट चला रही थीं. ऐसा कोई छापा नहीं पड़ा था.

अब छह साल बाद फिर से ये स्क्रीनशॉट्स वायरल किए जा रहे हैं.

हास्यास्पद है कि किसी भी तरफ से नेता को नीचा दिखाने के लिए ‘सेक्स’ को सहारा बनाया जाता है. फिर वो एक तरफ से ‘नपुंसक’ कहना हो, या दूसरी तरफ से ‘वेश्या’.


PM मोदी की RSS वाली फोटो पर भद्दी टिप्पणी करने पर अलका लांबा, योगेश्वर दत्त भिड़ गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

कोरोना ड्यूटी कर रहे डॉक्टर्स ने ऐसी-ऐसी बातें बताईं जो कभी बाहर नहीं आईं

कोरोना ड्यूटी कर रहे डॉक्टर्स ने ऐसी-ऐसी बातें बताईं जो कभी बाहर नहीं आईं

डॉक्टर्स की ये बातें सुनकर रूह कांपती है.

ऐसे गाने यूट्यूब पर डालने से पहले कोई चेक नहीं करता क्या?

ऐसे गाने यूट्यूब पर डालने से पहले कोई चेक नहीं करता क्या?

'धीयां' गाने में ऐसी ऐसी बातें कह गए हैं सिंगर कि 'आ दीवार मुझे मार' कहने का मन होता है.

लेखिका ने पूछा- इस आपदा में RSS कहां है, पूर्व IPS अधिकारी ने जवाब में घिनौनी बात लिख दी

लेखिका ने पूछा- इस आपदा में RSS कहां है, पूर्व IPS अधिकारी ने जवाब में घिनौनी बात लिख दी

क्लास लगी तो ट्वीट डिलीट कर दिया.

कोरोना में पैरेंट्स को खो चुके बच्चों को गोद लेने की कोशिश में ये गलती न करें

कोरोना में पैरेंट्स को खो चुके बच्चों को गोद लेने की कोशिश में ये गलती न करें

किसी बच्चे को अडॉप्ट करने की लीगल प्रोसेस क्या है?

PM मोदी को आदर्श बताकर चुनाव लड़ने उतरीं मिस इंडिया रनर अप दीक्षा सिंह चुनाव हार गईं

PM मोदी को आदर्श बताकर चुनाव लड़ने उतरीं मिस इंडिया रनर अप दीक्षा सिंह चुनाव हार गईं

यूपी पंचायत चुनाव में उन महिला उम्मीदवारों की भी पोजीशन जान लीजिए, जिनका नाम चर्चा में रहा.

कोविड वॉर्ड में भर्ती एक पेशेंट पर महिला मरीज के यौन शोषण का आरोप

कोविड वॉर्ड में भर्ती एक पेशेंट पर महिला मरीज के यौन शोषण का आरोप

पुलिस ने कहा- आरोपी की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद ही उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

यूपी पंचायत चुनाव में ड्यूटी से लौटी आठ महीने की प्रेग्नेंट टीचर की कोरोना से मौत

यूपी पंचायत चुनाव में ड्यूटी से लौटी आठ महीने की प्रेग्नेंट टीचर की कोरोना से मौत

परिवार का आरोप- चुनावी ड्यूटी न करने पर FIR की धमकी मिली थी.

कोविड अस्पताल में दिन-रात ड्यूटी करती रहीं नर्स, प्रेगनेंट हुईं तो बिना नोटिस नौकरी से निकाल दिया

कोविड अस्पताल में दिन-रात ड्यूटी करती रहीं नर्स, प्रेगनेंट हुईं तो बिना नोटिस नौकरी से निकाल दिया

प्रेगनेंट नर्स मैटरनिटी लीव मांगती रहीं, लेकिन सीधे मना कर दिया गया.

60 की उम्र में निशानेबाजी शुरू कर मेडल्स से घर पाट देने वाली 'शूटर दादी' चंद्रो तोमर नहीं रहीं

60 की उम्र में निशानेबाजी शुरू कर मेडल्स से घर पाट देने वाली 'शूटर दादी' चंद्रो तोमर नहीं रहीं

चंद्रो और उनकी शूटर देवरानी प्रकाशी पर फिल्म भी बनी थी- सांड की आंख.

सुतपा सिकदर: वो लड़की जिसके लिए इरफ़ान ज़िंदा रहना चाहते थे

सुतपा सिकदर: वो लड़की जिसके लिए इरफ़ान ज़िंदा रहना चाहते थे

जो खोज-खोजकर इरफ़ान की इच्छाएं पूरी किया करती थीं