Submit your post

Follow Us

UP: रेप विक्टिम के पिता की गोली मारकर हत्या, आरोपी केस वापस लेने का दबाव बना रहा था

उत्तर प्रदेश का फिरोजाबाद ज़िला. यहां 10 फरवरी की रात एक रेप विक्टिम के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी गई. परिवार वालों ने रेप के आरोपी के ऊपर ही हत्या का शक जताया है. पुलिस का कहना है कि रेप के आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है, फिलहाल वो फरार है. उसकी तलाश की जा रही है.

क्या है पूरा मामला?

जिस आदमी की हत्या हुई, उसने पिछले साल अगस्त में नाबालिग बेटी के रेप का मामला दर्ज कराया था. शिकायत में कहा था कि 30 साल के आचमन उपाध्याय उर्फ छोटू ने उसकी बेटी का रेप किया था. दुपट्टे से गला घोंटकर हत्या करने की भी कोशिश की थी. इसके अलावा किडनैपिंग के आरोप भी लगाए थे. पुलिस ने पॉक्सो के तहत आचमन के खिलाफ रेप का केस दर्ज किया था, लेकिन गिरफ्तारी नहीं हुई थी. पुलिस का कहना है कि केस दर्ज होने के बाद से ही आरोपी फरार था.

परिवार का दावा- आरोपी धमकी दे रहा था

पुलिस का कहना है कि आरोपी रेप केस दर्ज होने के बाद से फरार था. वहीं रेप विक्टिम के परिवार वालों का कहना है कि आरोपी केस वापस लेने का दबाव बना रहा था. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, रेप विक्टिम के परिवार का कहना है कि आरोपी ने कुछ दिन पहले कॉल किया था और कहा था कि अगर 10 फरवरी से पहले तक केस वापस नहीं लिया जाएगा, तो लड़की के पिता की हत्या कर दी जाएगी. लड़की के पिता ने केस वापस नहीं लिया. इसी वजह से 10 फरवरी की रात उनकी हत्या कर दी गई.

परिवार वालों का कहना है कि रेप विक्टिम के पिता जब रात में घर वापस आ रहे थे, तब चार आदमियों ने उन्हें रोक लिया, फिर आचमन ने गोलियां चला दीं. फिर वहां से फरार हो गए. आस-पास के लोग घायल पड़े आदमी को अस्पताल लेकर गए, जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

Firozabad’s Superintendent Of Police Sachindra Patel
फिरोजाबाद पुलिस SP सचिंद्र पटेल.

घटना के बाद परिवार वालों ने अस्पताल में हंगामा किया और पुलिस के ऊपर मामले पर ध्यान न देने के आरोप लगाए. साथ ही ये भी कहा कि धमकी भरे कॉल्स के बाद भी पुलिस ने कोई सुरक्षा मुहैया नहीं कराई थी. वहीं लड़की के एक रिश्तेदार का कहना है कि आचमन कई बार उस इलाके में दिखाई दे चुका है, लेकिन पुलिस ने उसे गिरफ्तार नहीं किया.

क्या कहती है पुलिस?

फिरोजाबाद SP सचिंद्र पटेल का कहना है कि पुलिस ने रेप के आरोपी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है. साथ ही उसकी सूचना देने वाले को 50 हजार रुपए का इनाम देने की घोषणा भी कर दी है. गिरफ्तारी नहीं करने के आरोप पर पुलिस ने कहा,

‘जैसा कि आरोपी फरार था, इसलिए कोर्ट का ऑर्डर होने के बाद हमने उसकी प्रॉपर्टी कब्जा ली है. हमने पहले भी उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की थी. अभी भी कर रहे हैं.’

इसके अलावा लड़की के परिवार ने धमकी भरे कॉल्स आने की जानकारी पुलिस को दी थी, इस पर पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया था. इस मामले में SP ने एक सब-इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया है. साथ ही दो स्टेशन हाउस ऑफिसर्स को भी सस्पेंड किया गया है.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

पति की खराब परफॉर्मेंस के लिए पत्नी को टारगेट करने वालों पर क्या बोलीं सानिया मिर्ज़ा?

इस पर तो अनुष्का भी सानिया से सहमत हैं.

बॉयज़ लॉकर रूम में फैली सड़ांध के ज़िम्मेदार टीचर भी हैं

पेरेंट्स के साथ-साथ टीचरों की भी क्लास लगाई जानी चाहिए.

सानिया मिर्ज़ा ने बताया स्पोर्ट्स में आगे क्यों नहीं आ पातीं भारतीय महिलाएं

अभी बाकी है बहुत सारा काम.

गैंगरेप पर अपने सात साल पुराने ट्वीट को लेकर विवेक अग्निहोत्री ने अब क्या कहा है?

अपने एक जवाब में थ्री इडियट्स, कथित 'अर्बन नक्सल' और देवदत्त पटनायक, सबको लपेट लिया.

सफ़ूरा की प्रेग्नेंसी पर इस पुलिस अधिकारी का पोस्ट क्यों अचानक वायरल होने लगा?

पोस्ट वायरल होने पर इंदौर की थाना इन्चार्ज ने क्या सफाई दी?

लगातार दो प्रेग्नेंट औरतों की मौत के बाद प्रशासन की आंख खुली, अब प्लान बना रहे हैं

कश्मीर में डॉक्टरों पर लापरवाही के आरोप लगाए गए.

इंडिया की लड़कियों का पहला पॉप बैंड 18 साल बाद वापस आ गया है

दो एल्बम आए और बैंड बंद हो गया था.

अमेरिका की महिलाओं ने यह लड़ाई जीत ली तो पूरी दुनिया में मिसाल बनेगी

और मिसाल भुलाई नहीं जाती, दी जाती है.

कुछ बातें रामगोपाल वर्मा के लिए, लड़कियों को शराब खरीदते देख जिनकी अक्ल पथरा गई

क्या शराब खरीदने की लाइन में लगी लड़कियों को पीटा जाना चाहिए?

COVID-19 से लड़ने के लिए भारतीय महिला हॉकी टीम ने किया खूबसूरत 'सौदा'

कोरोना से जंग के लिए टीम इंडिया ने बटोरे 20 लाख रुपये.