Submit your post

Follow Us

बच्ची का रेप हुआ, अस्पताल में स्ट्रेचर नहीं था तो उसे पीठ पर लादकर भटकता रहा पिता

एटा. उत्तर प्रदेश का एक छोटा सा जिला है. यहां का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें एक पिता अपनी बेटी को पीठ पर उठाकर हॉस्पिटल ले जाता दिख रहा है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक़, 15 साल की इस लड़की का उसके पड़ोसी ने कथित तौर पर रेप किया. बचकर भागने की कोशिश में लड़की का पैर टूट गया. आरोपी का नाम अंकित यादव है. उसकी उम्र 19 साल बताई जा रही है. उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

Etah 2 700x400
मंगलवार शाम से वायरल हुए इस वीडियो के बाद प्रशासन हरकत में आया. महिला अस्पताल में भी एक्सरे मशीन उपलब्ध नहीं थी. (तस्वीर: वायरल वीडियो से स्क्रीनशॉट)

घटना के बाद विक्टिम के पिता एक महिला कॉन्स्टेबल के साथ उसे अस्पताल लेकर पहुंचे. वन स्टॉप सेंटर, जो घरेलू हिंसा या यौन हिंसा की विक्टिम्स के लिए खासतौर पर बनाया गया है. वहां ज़रूरी फॉर्म्स भरने के बाद लड़की को लड़की को महिला अस्पताल लेकर जाना था. लेकिन उस वन स्टॉप सेंटर में कोई व्हीलचेयर या स्ट्रेचर उपलब्ध नहीं था. आखिर हारकर पिता ने बेटी को अपनी पीठ पर उठाया और अस्पताल ले गए. इसी का वीडियो 17 दिसंबर की शाम से वायरल हो रहा है.

सवाल उठने शुरू हुए. कैसा इंतजाम है सरकार का. जब बात सरकारी अधिकारियों पर आई तो जिम्मेदारी एक-दूसरे के सिर डालने की रेस शुरू हो गई. एटा के चीफ मेडिकल ऑफिसर अजय अग्रवाल ने कहा,

जांच करने पर पता चला कि नए सेंटर में स्टाफ़ या स्ट्रेचर नहीं है. मैंने वन स्टेप सेंटर के इंचार्ज डिस्ट्रिक्ट प्रोबेशन ऑफिसर से कहा है कि मेरे ऑफिस को चिट्ठी लिखें. ताकि स्ट्रेचर और व्हीलचेयर उपलब्ध कराए जा सकें.

अब डिस्ट्रिक्ट प्रोबेशन ऑफिसर ने क्या कहा?

वो वन  स्टेप सेंटर डिस्ट्रिक्ट सोशल वेलफेयर ऑफिसर रश्मि यादव के अंडर आता है. कमेन्ट करने केलिए वही सही व्यक्ति हैं.

जी अब रश्मि यादव से बात करने पर उनका क्या जवाब मिला?

उन्होंने अभी तक उस सेंटर का चार्ज नहीं लिया है.

लेकिन बात अस्पताल पहुंचने पर ख़त्म नहीं हुई. पिता ने बेटी को पीठ पर उठाकर जिला अस्पताल पहुंचाया. पता चला कि वहां पर एक्सरे मशीन काम नहीं कर रही है. मुख्यमंत्री ऑफिस ने जब बाबत संज्ञान लिया, तब बेटी और पिता को अलीगढ़ अस्पताल भेजा गया.


वीडियो: उन्नाव रेप केस में सज़ा कम करवाने के लिए कुलदीप सिंह सेंगर का वकील ये क्या बोला?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

दुर्गा नारायण भागवत: वो मराठी लेखिका जिन्होंने सरकार के सारे सम्मान ठुकरा दिए

साहित्य में इतिहास रचा, इमरजेंसी के खिलाफ खड़ी हुईं, ज्ञानपीठ लेने से इनकार कर दिया.

केंद्र ने पूछा- सेना में परमानेंट कमीशन कैसे दें? महिला अफसरों ने इतनी वजहें गिना दीं

अभी महिलाएं 14 साल में रिटायर कर दी जाती हैं, कमांड पोस्ट तक नहीं पहुंचतीं.

तीन साल पहले आदमी ने सेक्स चेंज कराया, रेलवे ने अब माना कि वो महिला हैं

2017 में राजेश सेक्स चेंज करवाकर सोनिया पांडे बन गए थे.

वरुण ग्रोवर ने नेल पॉलिश लगाई और परेशानी ज़माने को हो गई

सवालों के जवाब में वरुण ने पूछे कुछ जरूरी सवाल.

गोरा करने वाली क्रीम बेचने के ऐड बनाए, तो सरकार जेल भेज देगी

क्या है ड्रग्स एंड मैजिक रेमेडीज (ऑब्जेक्शनेबल एड्वर्टिजमेंट) एक्ट, जिसमें बदलाव होने वाले हैं?

कौन हैं नैंसी पेलोसी, जिन्होंने ट्रंप के सामने उनका भाषण फाड़ डाला!

इससे पहले भी एक बार वो ट्रंप का मज़ाक उड़ा चुकी हैं.

अब सिंगल औरतें भी किराए पर कोख ले पाएंगी!

सरोगेसी रेगुलेशन बिल: सेलेक्ट कमिटी ने कहा सिंगल औरतों को भी सरोगेसी का ऑप्शन मिलना चाहिए.

बीना दास: 21 साल की वो स्वतंत्रता सेनानी, जो डिग्री लेने पहुंचीं और चीफ गेस्ट पर गोलियां दाग दीं

आज के ही दिन कलकत्ता यूनिवर्सिटी को थर्राया था बीना दास ने.

कौन हैं शाहीन बाग़ में बुर्का पहने पकड़ी गईं गुंजा कपूर, जिन्हें PM मोदी फॉलो करते हैं

कभी राहुल गांधी को चिट्ठी लिखी थी गुंजा कपूर ने.

केंद्र ने कोर्ट से कहा- सेना में महिलाओं को कमांड पोस्ट कैसे दें, मैटरनिटी लीव देनी पड़ जाएगी

महिला ऑफिसर अभी सिर्फ शॉर्ट सर्विस कमीशन पर रखी जाती हैं आर्मी में.