Submit your post

Follow Us

सामंथा के काले मेकअप पर फैमिली मैन 2 वालों ने जो सफाई दी है, असल दिक्कत उसी में है

फैमिली मैन का दूसरा सीज़न आ गया है. पांच दिन हो गए, तमाम लोगों ने सीरीज़ देख डाली और उस पर अपनी राय भी दे दी. इस सीजन को एक तरफ सराहा भी गया है, दूसरी तरफ आलोचना भी हुई है. पिछले सीजन की तरह ही इस बार भी लीड रोल मनोज बाजपेयी ने ही निभाया है. उनकी एक्टिंग लोगों ने खूब पसंद की. इस सीरीज़ में सामंथा अक्कीनेनी की एक्टिंग की भी खूब चर्चा हुई और उनके मेकअप की भी.

सामंथा ने Family Man 2 में श्रीलंकाई तमिल रेबेल फाइटर राजी का रोल निभाया है. सीरीज रिलीज होने के बाद फिल्म मेकर्स पर तमिल लोगों को एक्स्ट्रीमिस्ट के तौर पर पेश करने के आरोप लगे. इन आलोचनाओं के बीच सामंथा ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट लिखा,

“जब मेकर्स ने राजी का रोल निभाने के लिए मुझसे संपर्क किया, तो मुझे पता था कि इसे निभाने के लिए बहुत ही संवेदनशीलता और संतुलन की जरूरत पड़ेगी. मैंने तमिल ईलम संघर्ष की डाक्यूमेंट्रीज देखीं. इनमें महिलाओं की भी कहानियां थीं. एक लंबे समय तक तमिल ईलम के लोगों ने जो पीड़ा सही, उसने मुझे अंदर तक झकझोर कर रख दिया. हजारों लोगों की जान गई. लाखों ने अपना घर खो दिया. राजी की कहानी भले ही काल्पनिक हो, मेरे लिए यह उन तमाम लोगों को श्रद्धांजलि है, जिनकी एक असमान युद्ध के कारण मौत हो गई. जो आज भी उस युद्ध की पीड़ादायक यादों के साथ जीने के लिए मजबूर हैं.मैं इस रोल को पूरी सच्चाई और पूर्णता के साथ निभाना चाहती थी.”

डार्क मेकअप पर आलोचना

राजी के रोल से जुड़े एक और पहलू की आलोचना हुई. वो था सामंथा का मेकअप करके उन्हें कई शेड डार्क दिखाना. सामंथा के चेहरे पर ये डार्क शेड टैनिंग तक सीमित होता तो भी शायद दर्शक इसे पचा लेते. पर इतना डार्क दिखाने पर उनका रंग आर्टिफिशियल लगने लगता है.  इसी को लेकर कुछ यूजर्स ने सवाल उठाए.  एक यूजर ने लिखा,

“मैंने फैमिली मैन का दूसरा सीजन देखा. मुझे अच्छा लगा. लेकिन कोई सामंथा के मेकअप के बारे में क्यों नहीं बात कर रहा है? यह सच है कि सामंथा एक अच्छी एक्ट्रेस हैं लेकिन उनके चेहरे को पोतने की जगह डार्क स्किन वाली किसी एक्ट्रेस से यह रोल क्यों नहीं करवाया गया?”

 

रिधिमा भटनागर नाम की यूजर ने भी ऐसा ही सवाल उठाया. उन्होंने लिखा,

“राजी के तौर पर सामंथा ने बहुत बढ़िया एक्टिंग की. लेकिन जिस तरह से उनके चेहरे को रंगा गया, वो काफी समस्या वाली बात है. क्या किसी और को इस रोल के लिए कास्ट नहीं किया जा सकता था? जब इस तरह रोल की जरूरत होती है, तब भी हमेशा गोरे चेहरों को प्राथमिकता दी जाती है. उड़ता पंजाब में आलिया भट्ट के साथ भी ऐसा ही किया गया था.”

एक यूजर ने लिखा,

“फैमिली मैन का दूसरा सीजन देख रही थी. तमिल विद्रोही महिला का रोल निभाने के लिए जिस तरह का अत्यधिक मेकअप सामंथा के चेहरे पर किया गया है, उसे लेकर मैं कन्फ्यूज हूं.”

 

राजशेखर नाम के यूजर ने लिखा,

“सामंथा की एक्टिंग तारीफ करने लायक है. कमाल के स्टंट किए. कुछ सीन्स से बचा जा सकता था या उन्हें किसी और तरीके से दिखाया जा सकता था. लेकिन सामंथा के चेहरे को इस तरह से दिखाने की क्या जरूरत थी?”

शिवा नाम के यूजर ने लिखा,

“भारतीय फिल्म निर्माताओं को कब इस बात का एहसास होगा कि एक्टर या एक्ट्रेस के चेहरे को काले मेकअप से पोत देना अपमानजनक है?”

 

साउथ इंडियन कमीडियन निवेदिता प्रकाशम ने लिखा,

“अगर आप गोरे रंग की इंडियन एक्ट्रेस हैं और मेकअप आर्टिस्ट आपके चेहरे पर काला फाउंडेशन तोप रहा है, तो कृपया उसे मना कर दें. हम पर भला करें और इन अज्ञानी लोगों को अपना इस्तेमाल दूसरों को नीचा दिखाने के लिए ना करने दें.”

फिल्म मेकर्स की सफाई

इन आरोपों को लेकर वेब सीरीज मेकर्स राज और डीके ने सफाई दी है. उनकी तरफ से कहा गया है कि सामंथा केवल एक रोल अदा कर रही थीं. फिल्म कंपेनियन को दिए गए एक इंटरव्यू में राज ने कहा-

“यह पूरी बात सौंदर्य के संदर्भ में आती है, जब आप यह कहते हैं कि काली त्वचा वाले सुंदर नहीं होते और गोरी त्वचा वाले ही सुंदर होते हैं. यहां त्वचा की सुंदरता का कोई संदर्भ ही नहीं है. हम सभी ब्राउन स्किन के अलग-अलग शेड हैं. अब आइडिया यह है कि अगर हम सब ब्राउन स्किन के अलग-अलग शेड हैं तो फिर बात ये रोल प्ले करने के लिए किसी दूसरी नस्ल के एक्टर को लाने के बारे में भी नहीं है. ना ही यह दूसरी नस्ल के बारे में है. इन दोनों संदर्भों में ही हमें रोल को देखना चाहिए. हम कोई गैर जिम्मेदार फिल्म मेकर नहीं हैं, जो किसी अपमानजनक विचार का प्रचार प्रसार करें.”

डीके ने कहा,

“हम राजी के कैरेक्टर को सही तरीके से पेश करने की कोशिश कर रहे हैं. हम चाहते हैं कि वो अपने कैरेक्टर में पूरी तरह से गुंथ जाए. उसी तरह से बात करे, उसी तरह से दिखे, एक्शन करती हुई दिखाई दे. ऐसी कैरेक्टर जो शारीरिक तौर पर फिट हो और अपने से दोगुने कद-काठी वाले आदमी को भी नीचे गिरा दे. यही हमारा मुख्य चैलेंज है. अगर आप देखेंगे कि वो क्या पहनती है, तो वो एक सैनिक है. वो सेल्फ केयर करने के बारे में नहीं सोचती है. अगर आप हिमालय में तैनात कोई सैनिक हैं, तो आपका चेहरा लाल हो जाएगा. यही मेकअप है.”

डीके ने यह भी बताया कि राजी के कैरेक्टर को सैनिक के तौर पर दिखाना था, इसलिए सामंथा ने तीन महीने तक ट्रेनिंग की. मार्शल आर्ट सीखी. इसलिए राजी के एक्शन सीन इतने अच्छे हैं. सामंथा ने तमिल भाषा की एक बोली सीखी, जो वे सामन्य तौर पर नहीं बोलतीं. इसी तरह से हेयर और मेकअप किया गया. हमने राजी का एक कंप्लीट कैरेक्टर पेश किया है. राजी एक ढंग से देखती है, बात करती है, चलती है और वो एक किलिंग मशीन है.

तमाम बातें कहने के बाद भी फिल्म मेकर्स ने उस ज़रूरी सवाल का जवाब नहीं दिया कि राजी के कैरेक्टर के लिए सामंथा का इतना डार्क मेकअप करने की जगह उन्होंने किसी सांवली एक्ट्रेस को क्यों नहीं चुना? क्या उन्हें कोई टैलेंटेड सांवली एक्ट्रेस नहीं मिली? ये सही है कि राजी का किरदार एक रेबेल का था, फाइटर का और स्किन केयर टाइप के फंडे उसके लिए नहीं  थे. लेकिन ये लॉजिक भी सामंथा का मेकअप इतना डार्क करने को जस्टिफाई नहीं करता है. क्योंकि इतना डार्क मेकअप न मौसम की मार को जस्टिफाई करता है और न ही टैनिंग को. हां ये गोरी स्किन वाले एक्टर/एक्ट्रेसेस को मिलने वाले प्रिविलेज के बारे में काफी कुछ कहता है. कि सांवले एक्टर्स को क्यों मौका दें जब मेकअप से गोरी स्किन को काला किया जा सकता है. उदाहरण के लिए उड़ता पंजाब में आलिया भट्ट, बाला में भूमि पेडनेकर और अब फैमिली मैन 2 में सामंथा तो हैं ही.


वीडियो- TMC MP नुसरत जहां को उनकी कथित प्रेग्नेंसी को लेकर क्यों ट्रोल किया जा रहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

NCP कार्यकर्ता ने महिला सरपंच को पीटा, वीडियो वायरल

NCP कार्यकर्ता ने महिला सरपंच को पीटा, वीडियो वायरल

मामला महाराष्ट्र के पुणे का है. पीड़िता ने कहा – नहीं मिला न्याय.

सिविल डिफेंस वालंटियर मर्डर केस: परिवार ने की SIT जांच की मांग, हैशटैग चला लोग मांग रहे इंसाफ

सिविल डिफेंस वालंटियर मर्डर केस: परिवार ने की SIT जांच की मांग, हैशटैग चला लोग मांग रहे इंसाफ

पीड़ित परिवार का आरोप- गैंगरेप के बाद हुआ कत्ल.

उत्तर प्रदेश: रेप नहीं कर पाया तो महिला का कान चबा डाला, पत्थर से कुचला!

उत्तर प्रदेश: रेप नहीं कर पाया तो महिला का कान चबा डाला, पत्थर से कुचला!

एक साल से महिला को परेशान कर रहा था आरोपी.

मुझे जेल में रखकर, उदास देखने में पुलिस को खुशी मिलती है: इशरत जहां

मुझे जेल में रखकर, उदास देखने में पुलिस को खुशी मिलती है: इशरत जहां

दिल्ली दंगा मामले में इशरत जहां की जमानत में अब पुलिस ने कौन सा पेच फंसा दिया है?

किशोर लड़कियों से उनकी अश्लील तस्वीरें मंगवाने के लिए किस हद चला गया ये आदमी!

किशोर लड़कियों से उनकी अश्लील तस्वीरें मंगवाने के लिए किस हद चला गया ये आदमी!

खुद को जीनियस समझ तरीका तो निकाल लिया लेकिन एक गलती कर बैठा.

कॉन्डम के सहारे खुद को बेगुनाह बता रहा था रेप का आरोपी, कोर्ट ने तगड़ी बात कह दी

कॉन्डम के सहारे खुद को बेगुनाह बता रहा था रेप का आरोपी, कोर्ट ने तगड़ी बात कह दी

कोर्ट की ये बात हर किसी को सोचने पर मजबूर करती है.

रेखा शर्मा को 'गोबर खाकर पैदा हुई' कहा था, अब इतनी FIR हुईं कि अक्ल ठिकाने आ जाएगी

रेखा शर्मा को 'गोबर खाकर पैदा हुई' कहा था, अब इतनी FIR हुईं कि अक्ल ठिकाने आ जाएगी

यति नरसिंहानंद को आपत्तिजनक टिप्पणियां करना महंगा पड़ा.

अवैध गुटखा बेचने वाले की दुकान पर छापा पड़ा तो ऐसा राज़ खुला कि पुलिस भी परेशान हो गई

अवैध गुटखा बेचने वाले की दुकान पर छापा पड़ा तो ऐसा राज़ खुला कि पुलिस भी परेशान हो गई

इतने घटिया अपराध के सामने तो अवैध गुटखा बेचना कुछ भी नहीं.

अपनी ड्यूटी कर रही महिला अधिकारी की सब्जी बेचने वाले ने उंगलियां काट दीं

अपनी ड्यूटी कर रही महिला अधिकारी की सब्जी बेचने वाले ने उंगलियां काट दीं

इसके बाद सब्जी वाले ने जो कहा वो भी सुनिए.

पीट-पीटकर अपने डेढ़ साल के बच्चे को लहूलुहान कर देने वाली मां की असलियत

पीट-पीटकर अपने डेढ़ साल के बच्चे को लहूलुहान कर देने वाली मां की असलियत

ये वायरल वीडियो आप तक भी पहुंचा होगा.