Submit your post

Follow Us

पसंद के लड़के के साथ जाकर शादी की तो पूरे परिवार ने मिलकर मार डाला

मध्य प्रदेश का ग्वालियर जिला. यहां एक लड़की की उसके ही परिवार वालों में मिलकर हत्या कर दी. सिर्फ इसलिए कि उसने परिवार की मर्ज़ी के खिलाफ जाकर अपनी पसंद के लड़के से शादी कर ली थी. लड़की 20 साल की थी. शादी के बाद उसने पुलिस से मदद भी मांगी थी कि उसे डर है कि उसके घर वाले उसे मार डालेंगे.

पूरा मामला क्या है?

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, रेखा राठौड़ एक लड़के से प्यार करती थी. लड़के की जाति अलग थी. ऐसे में रेखा को पता था कि उसके घर वाले शादी के लिए नहीं मानेंगे. इसलिए उसने घर छोड़ने का प्लान बनाया. 5 जून, 2021 को रेखा घर से पैसे और गहने लेकर चली गई.

उसके घरवालों ने पुलिस में रेखा के गायब होने की शिकायत दर्ज कराई. एक महीने बाद यानी 7 जुलाई को पुलिस ने रेखा को खोज लिया. तब रेखा ने पुलिस को बताया था कि उसे डर है कि उसके घरवाले उसकी हत्या कर देंगे. इसलिए पुलिस ने उसे नारी निकेतन में रखा. कुछ दिन में उसका डर कम हुआ. इसके बाद 31 जुलाई को पुलिस ने रेखा की मर्ज़ी से उसे उसके घर भेज दिया.

Police Crime Scene
हत्या के मामले में पुलिस ने परिवार के पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. सांकेतिक फोटो- Pixabay

पर रेखा का डर सही निकला. 1 अगस्त की रात को उसके परिवार वालों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी.

हत्या को सुसाइड की शक्ल देने की कोशिश

रिपोर्ट के मुताबिक,  1 अगस्त को रेखा के पिता राजेंद्र, भाई सुरेंद्र, चाचा राधेश्याम और दो चचेरे भाइयों मोनू और मनोज ने मिलकर उसकी हत्या कर दी. हत्या के बाद उसकी लाश फंदे से लटका दी, ताकि मामला आत्महत्या का लगे. मीना के एक कज़िन ने पुलिस को बताया कि उसे वेबसीरीज़ देखकर हत्या के बाद लाश लटकाने का आइडिया आया था.

 

अगली सुबह परिवार ने खुद पुलिस को फोन किया और कहा कि रेखा रात में खाना खाकर अपने कमरे में सोने गई थी और अगली सुबह परिवार वालों ने उसे लटका पाया. परिवार वालों के बयान के आधार पर शुरुआत में पुलिस ने आत्महत्या का मामला दर्ज कर लिया.

रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस को परिवार की कहानी पर शक था. क्योंकि क्राइम सीन और कहानी में मेल नहीं था. असल में जिस ऊंचाई पर रेखा को लटकाया गया था उस ऊंचाई पर पहुंचना रेखा के लिए संभव नहीं था. इसके अलावा पोस्ट मॉर्टम के दौरान डॉक्टरों ने रेखा की गर्दन पर आए निशानों पर गौर किया, वो निशान आत्महत्या से पड़ने वाले नहीं थे. इन्हीं दोनों के आधार पर पुलिस ने परिवार को ग्रिल करना शुरू किया.

जिसके बाद परिवार वालों ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया.


ये खबर हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहीं अवनि ने लिखी है.


वीडियो देखें: दूसरी जाति के लड़के से शादी की तो पिता ने गर्भवती बेटी की हत्या कर दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

संविधान के बनाने में इन 15 महिलाओं के योगदान के बारे में कितना जानते हैं आप?

संविधान के बनाने में इन 15 महिलाओं के योगदान के बारे में कितना जानते हैं आप?

संविधान दिवस पर राष्ट्रपति कोविंद ने अपने भाषण में इन महिलाओं को याद किया.

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे में वो मिला जो 70 साल में नहीं हुआ

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे में वो मिला जो 70 साल में नहीं हुआ

देश में पहली बार 1000 पुरुषों पर 1020 महिलाएं

फिल्म स्टार्स कुत्ता-घुमाना लुक, जिम लुक, एयरपोर्ट लुक में अपनी फोटो खिंचवाने के लिए पैसे देते हैं?

फिल्म स्टार्स कुत्ता-घुमाना लुक, जिम लुक, एयरपोर्ट लुक में अपनी फोटो खिंचवाने के लिए पैसे देते हैं?

कहां से शुरू हुआ फिल्म स्टार्स की घड़ी-घड़ी फोटो खींचने का चलन?

कौन थीं वो दो लड़कियां जिनकी बदौलत आज लड़कियां भी वकील बनती हैं?

कौन थीं वो दो लड़कियां जिनकी बदौलत आज लड़कियां भी वकील बनती हैं?

भारत मे 1923 से पहले कोई भी महिला वक़ील नहीं बन सकती थी.

पंजाब में हर महिला को 1000 रुपये देने का पूरा प्लान आतिशी ने बताया

पंजाब में हर महिला को 1000 रुपये देने का पूरा प्लान आतिशी ने बताया

क्या केजरीवाल पंजाब की महिलाओं को घूस दे रहे हैं?

नो शेव नवंबर कैम्पेन में लड़कियां क्यों पार्ट नहीं लेतीं?

नो शेव नवंबर कैम्पेन में लड़कियां क्यों पार्ट नहीं लेतीं?

क्यों लड़कियां अपने बॉडी हेयर को सेलिब्रेट नहीं करतीं?

टेनिस स्टार पेंग शुआई 10 दिन से गायब, पूर्व उप-राष्ट्रपति पर गंभीर आरोप

टेनिस स्टार पेंग शुआई 10 दिन से गायब, पूर्व उप-राष्ट्रपति पर गंभीर आरोप

पेंग ने पोस्ट में लिखा था, "आज मैं सच बोलकर रहूंगी."

केरल की अनुपमा की कहानी, जो बताती है कि लोग किस हद तक निर्दयी हो सकते हैं

केरल की अनुपमा की कहानी, जो बताती है कि लोग किस हद तक निर्दयी हो सकते हैं

एक साल से अपने बच्चे को खोज रही है अनुपमा.

अबॉर्शन के नियमों में क्या बदलाव हुए, डिटेल में समझिए MTP Act

अबॉर्शन के नियमों में क्या बदलाव हुए, डिटेल में समझिए MTP Act

MTP ऐक्ट को डीटेल में समझकर अपने अबॉर्शन राइट्स जानिए

वो औरतें जिनके बिना किसान आंदोलन कभी पूरा नहीं हो पाता

वो औरतें जिनके बिना किसान आंदोलन कभी पूरा नहीं हो पाता

केंद्र सरकार ने किसान कानून वापस लेने का फैसला किया है.