Submit your post

Follow Us

कोरोना महामारी में अपनी सेवा देने के लिए ये डॉक्टर मध्य प्रदेश से महाराष्ट्र पहुंच गई, स्कूटी पर!

डॉ. प्रज्ञा घरड़े. शायद ये नाम सुनकर आपके दिमाग में कुछ हिट ना करे. ऑर्डनेरी सा लगे. लेकिन इसी ऑर्डनेरी नाम ने एक एक्स्ट्रा ऑर्डनेरी काम किया है. कोरोना वायरस संकट में अपनी सेवा देने के लिए डॉ. प्रज्ञा घरड़े स्कूटी पर सवार होकर मध्य प्रदेश से महाराष्ट्र पहुंच गईं. उनके बारे में जानने के बाद लोग उनकी सेवा भावना और समर्पण की जमकर तारीफ कर रहे हैं.

छुट्टी छोड़कर अस्पताल पहुंचीं

मध्य प्रदेश के बालाघाट की रहने वाली डॉ. प्रज्ञा महाराष्ट्र के नागपुर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में कार्यरत हैं. अस्पताल के कोविड केयर सेंटर में अपनी सेवाएं देती हैं. इन दिनों छुट्टियों पर अपने घर आई हुई थीं. इसी बीच कोरोना वायरस (Coronavirus) से जुड़े मामले बढ़ने लगे. देखते ही देखते रोज़ाना दर्ज होने वाले मामलों का आंकड़ा लाखों में पहुंच गया. ऐसे में छुट्टी के बीच ही डॉ. प्रज्ञा को हॉस्पिटल में रिपोर्ट करने का ऑर्डर मिला. लेकिन एक समस्या थी. लॉकडाउन के चलते नागपुर जाने के तमाम साधन ठप्प पड़े थे. फिर भी हालात की गंभीरता को समझते हुए डॉ. प्रज्ञा ने वक्त बर्बाद नहीं किया. अपनी स्कूटी निकाली और निकल पड़ीं नागपुर के लिए.

बालाघाट से नागपुर का सफर कोई छोटा नहीं. डॉ. प्रज्ञा के घरवालों ने इस पर आपत्ति जताई. कहा कि इतना लंबा सफर अकेले कैसे तय करोगी. लेकिन बेटी की इच्छाशक्ति देखकर घरवालों को भी अपनी सहमति देनी ही पड़ी. 19 अप्रैल की सुबह निकलीं डॉ. प्रज्ञा उसी दोपहर नागपुर पहुंच गईं. यहां तक कि पहुंचने के थोड़ी देर बाद ही उन्होंने ड्यूटी भी जॉइन कर ली.

Covid
कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से छुट्टी के बीच से ही डॉ. प्रज्ञा को वापस बुला लिया गया. फोटो – इंडिया टूडे फाइल (रिप्रेज़ेन्टेशन के लिए )

आजतक से बात करते हुए डॉ. प्रज्ञा ने बताया कि वो नागपुर में डेली 6 घंटे एक कोविड हॉस्पिटल में ड्यूटी करती हैं. वहां वो आरएमओ के पद पर कार्यरत हैं. इसके साथ ही वो शाम की शिफ्ट में एक और हॉस्पिटल में अपनी सेवाएं देती हैं. इसकी वजह से उन्हें रोज लगभग 12 घंटे पीपीई किट पहनकर काम करना पड़ता है.

प्रज्ञा ने आगे बताया कि वो अपने घर आईं थीं. इस दौरान लॉकडाउन लग जाने की वजह से नागपुर लौटने का कोई साधन नहीं मिला. लेकिन जब उन्हें मालूम हुआ कि कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, तो वो अपनी स्कूटी लेकर ही नागपुर के लिए रवाना हो गईं.

180 किलोमीटर. लगभग इतना ही फासला है बालाघाट और नागपुर के बीच. 7 घंटे लगे डॉ. प्रज्ञा को ये रास्ता कवर करने में. उन्होंने बताया कि धूप और गर्मी की वजह से दिक्कत भी हुई. उनके पास सामान भी ज़्यादा था. ऊपर से रास्ते में कुछ खाने-पीने को भी नहीं मिला. लेकिन उन्हें इस बात की संतुष्टि है कि वो दोबारा अपने काम पर लौट आईं.


वीडियो: मर्दानगी से ये कैसा प्रेम कि कोरोना वैक्सीन लगवाने में भी डर रहे लोग?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

तीन महीने की ट्रेनिंग के लिए बुलाया, फिर बंधक बना लिया.

ग्वालियर: COVID सेंटर में वॉर्ड बॉय पर मरीज से रेप की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार

ग्वालियर: COVID सेंटर में वॉर्ड बॉय पर मरीज से रेप की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार

आरोपी को नौकरी से निकाला.

बाप पर आरोपः दो साल तक बेटी का रेप किया, दांतों से चबाकर उसकी नाक काट ली

बाप पर आरोपः दो साल तक बेटी का रेप किया, दांतों से चबाकर उसकी नाक काट ली

पैसे देकर दूसरे लड़के से रेप करवाने का भी आरोप है.

सुसाइड कर रहे पति को रोकने की जगह पत्नी उसका वीडियो क्यों बना रही थी?

सुसाइड कर रहे पति को रोकने की जगह पत्नी उसका वीडियो क्यों बना रही थी?

पति की मौत हो गई है.

लड़कियों को बेरहमी से घसीट रही पुलिस के वायरल वीडियो का पूरा सच क्या है

लड़कियों को बेरहमी से घसीट रही पुलिस के वायरल वीडियो का पूरा सच क्या है

क्या कार्रवाई के लिए पुलिस फसल पकने का इंतज़ार कर रही थी?

रेप के आरोपी NCP नेता को बचाने की कोशिश कर रहा था ACP, कोर्ट ने दिन में तारे दिखा दिए

रेप के आरोपी NCP नेता को बचाने की कोशिश कर रहा था ACP, कोर्ट ने दिन में तारे दिखा दिए

ये सुनकर कोई भी पुलिस वाला शर्मिंदा हो जाए.

POCSO कोर्ट ने आंख मारने और फ्लाइंग किस को यौन उत्पीड़न माना, एक साल की सजा सुनाई

POCSO कोर्ट ने आंख मारने और फ्लाइंग किस को यौन उत्पीड़न माना, एक साल की सजा सुनाई

कोर्ट ने 15 हजार का जुर्माना भी लगाया.

'वर्जिनिटी टेस्ट' में फेल हुई तो जात पंचायत ने तलाक कराने का आदेश दे दिया

'वर्जिनिटी टेस्ट' में फेल हुई तो जात पंचायत ने तलाक कराने का आदेश दे दिया

मामला कोल्हापुर का है. दो बहनों की एक ही परिवार में शादी हुई थी.

CRPF जवानों पर ऐसा क्या लिखा कि महिला को रेप की धमकी मिलने लगी

CRPF जवानों पर ऐसा क्या लिखा कि महिला को रेप की धमकी मिलने लगी

असमिया लेखिका शिखा शर्मा पर राजद्रोह का आरोप लगा है.

औरत का सिर मूंडने वाली, उस पर कालिख पोतने वाली भीड़ ने उसके बराबर जिम्मेदार पुरुष को छुआ तक नहीं

औरत का सिर मूंडने वाली, उस पर कालिख पोतने वाली भीड़ ने उसके बराबर जिम्मेदार पुरुष को छुआ तक नहीं

औरतों पर ऐसा अत्याचार करने वाली भीड़ को सज़ा कितनी मिलती है?