Submit your post

Follow Us

चीन की फुटबॉल टीम ने सोचा भी नहीं होगा कि कोरोना वायरस की ऐसी कीमत चुकानी पड़ेगी

कोरोना वायरस के फैलने की वजह से चीन में इस वक़्त डर का माहौल है. चीन से बाहर भी कई देश इस वायरस की रोकथाम की कोशिश में लगे हैं. इस वजह से वहां की अर्थव्यवस्था ही नहीं, बाक़ी कई चीज़ें भी बुरी तरह प्रभावित हुई हैं.

जैसे चीन की ओलंपिक्स की तैयारी.

2020 में टोक्यो, जापान में ओलंपिक्स होने वाले हैं. इसके लिए क्वालीफायर्स चल रहे हैं. क्वालीफायर्स यानी वो राउंड जिनमें खेल कर टीमें या खिलाड़ी ओलंपिक्स के लिए क्वालीफाई करते हैं. इसमें खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया पहुंची चाइनीज फुटबॉल टीम. महिलाओं की. इन्हें अपने देश में प्यार से सब स्टील रोज़ेस कहते हैं. चीन में महामारी बन चुके कोरोना वायरस की वजह से इस टीम को ऑस्ट्रेलिया में काफी दिक्कतें उठानी पडीं.

सबसे पहले तो उन्हें क्वारंटाइन करके (सबसे अलग करके) होटल में रखा गया. वहां पर उन्हें जिम भी इस्तेमाल नहीं करने दिया गया.

China Women World Cup 700
आने वाले 6 और 11 मार्च को क्वालीफायर्स में चीन की विमेंस टीम के दो और मैच हैं. (तस्वीर: ट्विटर)

रिपोर्ट्स के मुताबिक़ ब्रिसबेन के एक होटल में टीम को रखा गया. वहां से जो तसवीरें निकल कर आईं, उनमें दिखा कि टीम की खिलाड़ी कॉरिडोर में स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज कर रही हैं. उन्हें खेलने के लिए फुटबॉल तक नहीं दी गई. जमीन पर सुलाया गया. खुद को फिट रखने के लिए वो सीढ़ियों पर दौड़-भाग करती रहीं. ऐसा पीपल्स डेली नाम के अखबार ने बताया.

उसके बाद उन्हें वहां से सिडनी पहुंचाया गया. वहां चाइना की टीम ने थाईलैंड और ताइवान को मैच में हरा दिया. ऑस्ट्रेलिया के साथ गेम में वो बराबरी पर छूटे. इस बार उनके स्टार खिलाड़ियों में से चार इस वक्त खेल से बाहर हैं. फिर भी उनका प्रदर्शन बेहतरीन रहा है. अब ये टीम साउथ कोरिया के खिलाफ उतरेगी.

पहले ये टूर्नामेंट वुहान में होने वाला था. लेकिन कोरोना वायरस फैलने के बाद इसे नाजिंग शिफ्ट किया गया. लेकिन जब वायरस फैलता ही गया, तो इस टूर्नामेंट को सिडनी, ऑस्ट्रेलिया में शिफ्ट कर दिया गया.

China Women 700
चीन में जहां उनकी महिलाओं की फुटबॉल टीम बेहद पॉपुलर है, वहीं पुरुष टीम का प्रदर्शन कुछ खास रहा नहीं है पिछले कुछ सालों में. (तस्वीर: ट्विटर)

क्यों कहते हैं स्टील रोज़ेस?

चीन की महिला फुटबॉल टीम वहां की स्टार टीम मानी जाती है. FIFA की रैंकिंग में 15 वें नंबर पर हैं. एशियन कप आठ बार जीत चुकी हैं अब तक. 1999 FIFA वर्ल्ड कप में USA के खिलाफ ये फाइनल में पहुंचने वाली टीम थी. उस मैच में पेनाल्टी किक से अमेरिका को जीत हासिल हुई थी. लेकिन चीन की टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था. उसके बाद से ही उन्हें प्यार से स्टील रोज़ेस कहा जाने लगा. स्टील इसलिए क्योंकि उन्होंने बेहद मजबूती और दम-खम का परिचय दिया फील्ड पर. और रोज़ेस इसलिए क्योंकि चीन में रोज़ यानी गुलाब को महिलाओं के लिए एक प्रतीक माना जाता है. उनकी कोमलता और आकर्षक व्यक्तित्व के लिए. दोनों का मेल होने की वजह से स्टील रोज़ेस नाम पड़ा टीम का. सिर्फ चीन ही नहीं, कई दूसरे देशों की महिला टीमों को भी इस तरह के निकनेम दिए गए हैं. जैसे फ्रांस वालों को द ब्लूज़, स्विटज़रलैंड की टीम को द नेशनल टीम , कोलंबिया की टीम को द कॉफ़ी ग्रोवर्स कहा जाता है.


वीडियो: दिल्ली हिंसा: लोग अरविंद केजरीवाल के इस ट्वीट को शेयर कर घेर रहे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

पूजा की आड़ में एक ही परिवार की पांच लड़कियों का रेप करने वाला ढोंगी बाबा धरा गया

जिनका रेप किया उनमें से एक लड़की को भगाकर शादी भी कर ली थी.

हॉलीवुड का गुरमीत राम रहीम, यानी कई रेप करने वाला हार्वी वाइनस्टाइन अब जेल जाएगा

न्यूयॉर्क की अदालत ने अंततः दोषी करार दिया.

मॉर्निंग वॉक पर गईं औरतों को पॉर्न दिखाता था, पुलिस के तगड़े प्लान ने सिट्टी-पिट्टी गुम कर दी

पांच महीने से औरतों के साथ ऐसा कर रहा था.

पहले दामाद को पीटा, फिर गले पर पट्टा बांधकर भौंकने को कहा, वीडियो सामने आया

8 महीने बाद पुलिस की आंख खुली.

मेडिकल टेस्ट के नाम पर महिला कर्मचारियों के साथ बेहद शर्मनाक हरकत हुई है

10 कर्मियों के कपड़े उतरवाकर उन्हें खड़े रखा.

छत्तीसगढ़: मेला देखकर लौट रही टीचर से शव वाहन में रेप

पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया.

पुलिसवाले बाप ने बताया बेटी ने सुसाइड किया है, अस्पताल में जांच हुई तो कुछ और ही सामने आया

पोस्टमार्टम ने बाप का केस खोल दिया.

महीने भर तक होटल में रखकर रेप का आरोप, BJP विधायक पर केस दर्ज

रविन्द्रनाथ त्रिपाठी और छह अन्य को आरोपी बनाया गया.

16 रिश्तेदारों ने दो बच्चियों से दो साल तक रेप किया, आठ साल की बच्ची की मौत

तलाक के बाद बेटियों को रिश्तेदारों के पास छोड़कर गई थी मां.

लड़की ने पुलिसवालों पर रेप के आरोप लगाए थे, CCTV फुटेज में कुछ और ही सामने आया

गोरखपुर: खाकी रंग की जैकेट वाले रेप के आरोपी कौन थे?