Submit your post

Follow Us

पोल्लाची यौन शोषण मामला जिसमें 50 से ज्यादा औरतें शिकार बनीं

तमिलनाडु का कोयम्बटूर ज़िला. यहां पोल्लाची नाम का एक टाउन है. दो साल पहले यहां यौन शोषण के एक बड़े रैकेट का पर्दाफाश हुआ था. अब उसी केस में तीन और आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है. CBI यानी सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन ने ये कार्रवाई की है. तीनों आरोपियों की पहचान 29 बरस के हेरेन पॉल, 27 बरस के बाबू उर्फ बाइक बाबू और 34 साल के अरुलानांथम के तौर पर हुई है. रिपोर्ट्स हैं कि अरुलानांथम पोल्लाची में AIADMK के स्टूडेंट विंग का लीडर है. ये जान लीजिए कि तमिलनाडु में अभी यही पार्टी सत्ता में है.

क्या है पोल्लाची यौन शोषण मामला?

मामले की शुरुआत होती है 12 फरवरी 2019 से. रिपोर्ट्स के मुताबिक, तमिलनाडु में कॉलेज में पढ़ने वाली 19 बरस की एक लड़की इस दिन अपने एक दोस्त से मिलने गई थी. वो दोस्त, जिससे लड़की की पहचान कुछ दिन पहले फेसबुक के ज़रिए हुई थी. लड़की जब उससे मिलने गई, तो लड़के ने उसे कार में बैठा लिया. जहां पहले से तीन अन्य लड़के मौजूद थे. कार चल पड़ी. आरोप है कि चारों लड़के ज़बरन लड़की के कपड़े उतारने लगे और वीडियो भी बनाते रहे. बाद में चारों लड़कों ने इस वीडियो के दम पर लड़की को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया. लड़की अपने भाई के साथ पुलिस के पास गई और घटना की जानकारी दी. पुलिस ने 24 फरवरी, 2019 को केस दर्ज किया.

मामले की छानबीन शुरू हुई. चारों लड़कों को पुलिस ने पोल्लाची से गिरप्तार किया. इन चारों के नाम थे- सबरी राजन, सतीश, वसंत कुमार, थिरुनावुक्कारासु. पुलिस ने लड़कों के मोबाइल फोन खंगाले, तो बड़े यौन शोषण रैकेट का खुलासा हुआ. पुलिस ने देखा कि चारों लड़कों के फोन में कई औरतों और लड़कियों के सेक्सुअल हैरेसमेंट के वीडियो और फोटोज़ थे. जांच में पता चला कि इन चारों ने करीब 50 औरतों को इसी तरह अपना शिकार बनाया था.

2019 में ‘इंडियन एक्सप्रेस’ में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस की छानबीन से पता चला था कि ये लड़के, जो कि 20 से 30 की उम्र के थे, फेक फेसबुक प्रोफाइल बनाकर औरतों से बातचीत करते थे. ज्यादातर मामलों में, औरतों से बात शुरू करने के लिए ये लोग लड़कियों के नाम पर ही अकाउंट बनाते थे. बातचीत की शुरुआत करने के लिए ये अक्सर ही खुद को लेस्बियन बताते थे, और फिर लड़कियों और औरतों से उनके सेक्सुअल इंटरेस्ट के बारे में जानने की कोशिश करते थे. सेक्स से जुड़ी हुई बातें करते थे. धीरे-धीरे बातचीत को सेक्सुअल टॉक बनाने की कोशिश करते. जब बातें सेक्सुअल मोड़ ले लेतीं, तब फिर वो लोग अपनी असली पहचान उजागर कर देते. फिर औरतों से मिलने की बात कहते. जब औरतें मना करतीं, तब फेसबुक पर हुई चैट वायरल करने की धमकी देने लग जाते. ऐसे में औरतों को मजबूरन उनसे मिलना पड़ता था.

Pollachi (2)
मार्च 2019 में विरोधी पार्टी DMK ने इस तरह से विरोध प्रदर्शन किया था. (फोटो- DMK)

‘द न्यूज़ मिनट’ की रिपोर्ट के मुताबिक, इस केस में मार्च 2019 में पांचवें आरोपी की गिरफ्तारी हुई. नाम था आर. मणिवन्नन. रिपोर्ट्स हैं कि इस आरोपी ने कुछ औरतों का ‘रेप’ करने की बात भी एक्सेप्ट की थी. मणिवन्नन ने मार्च 2019 में जूडिशियल मजिस्ट्रेट के सामने सरेंडर कर दिया, उसके बाद उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया. IPC की कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया था. हालांकि, मामला सामने आने के बाद जमकर विरोध प्रदर्शन हुए थे. फिर मार्च 2019 में तमिलनाडु सरकार ने गवर्नर की परमिशन लेकर ये केस CBI के हवाले कर दिया था. CBI ने अप्रैल 2019 में अपनी छानबीन शुरू की. मई 2020 में पहली चार्जशीट फाइल की गई, हालांकि अभी फाइनल चार्जशीट फाइल नहीं हुई है.

मामला जब शुरुआत में सामने आया था, तब ‘बार’ नागराज नाम के एक लड़के का नाम भी आरोपी के तौर पर सामने आया था. उस वक्त इस नाम पर काफी हंगामा भी मचा था, क्योंकि नागराज AIADMK का मेंबर था, हालांकि अभी वो पार्टी से निष्कासित चल रहा है. खैर, CBI ने पिछले साल ही कोर्ट में कह दिाय था कि वो नागराज के नाम को केस से ड्रॉप कर रही है, क्योंकि उसके खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं हैं.

मामला अभी भी जांच के दायरे में है. उम्मीद है कि इस डरावनी वारदात में सभी पीड़ित औरतों को न्याय मिलेगा.


वीडियो देखें: महिला ने पहले चाकू मारकर अपने पति की हत्या की, फिर फेसबुक पर पूरी कहानी बताई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

ऑपरेशन मासूम: बच्चों के पॉर्न वीडियो बनाने और देखने वाले अब नहीं बचेंगे

ऑपरेशन मासूम: बच्चों के पॉर्न वीडियो बनाने और देखने वाले अब नहीं बचेंगे

दनादन पकड़ में आ रहे हैं चाइल्ड पॉर्न से जुड़े लोग.

टीवी शोज़ में दूसरे की पत्नियों को देखकर पुरुषों की कामुकता क्यों जाग जाती है?

टीवी शोज़ में दूसरे की पत्नियों को देखकर पुरुषों की कामुकता क्यों जाग जाती है?

उन शोज़ में जिन्हें हम परिवार के साथ बैठकर देखते हैं.

कोरोना की वैक्सीन चर्चा में आई तो लोग इस महिला की तस्वीर देखने क्यों टूट पड़े

कोरोना की वैक्सीन चर्चा में आई तो लोग इस महिला की तस्वीर देखने क्यों टूट पड़े

वैक्सीन से ज्यादा लोगों को 'वैक्सीन मैन की पत्नी' की फ़िक्र है.

अब वक़्त आ गया है कि कपिल शर्मा फूहड़ता छोड़ असल ह्यूमर पर काम कर लें

अब वक़्त आ गया है कि कपिल शर्मा फूहड़ता छोड़ असल ह्यूमर पर काम कर लें

नेटफ्लिक्स पर आ रहा है उनका नया शो.

ग़ज़ब! मुंबई पुलिस ने कूदने के इरादे से छत पर चढ़ी महिला को बातों में उलझाकर बचा लिया

ग़ज़ब! मुंबई पुलिस ने कूदने के इरादे से छत पर चढ़ी महिला को बातों में उलझाकर बचा लिया

महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने पूरी घटना का वीडियो भी ट्वीट किया है.

कमल हासन ने हिंसा पर महिलाओं को जो नसीहत दी उसे सुनकर लोग गुस्सा क्यों हो गए?

कमल हासन ने हिंसा पर महिलाओं को जो नसीहत दी उसे सुनकर लोग गुस्सा क्यों हो गए?

ट्विटर पर लोग एक्टर से माफी मांगने की मांग कर रहे हैं.

बिलकिस दादी को 'वंडर वुमन' बताने पर ट्रोल क्यों हो गई ये हॉलीवुड एक्ट्रेस?

बिलकिस दादी को 'वंडर वुमन' बताने पर ट्रोल क्यों हो गई ये हॉलीवुड एक्ट्रेस?

गैल गडोट की फिल्म वंडर वुमन 1984 हाल में रिलीज हुई है.

मेंस टीम ऑस्ट्रेलिया में खेल रही, मगर महिला टीम की इस हालत पर विश्वास नहीं होता!

मेंस टीम ऑस्ट्रेलिया में खेल रही, मगर महिला टीम की इस हालत पर विश्वास नहीं होता!

ये सब तब है जब गांगुली BCCI चला रहे. विदेशी बोर्ड अलग दे रहे धोखा.

इस औरत को कुछ भी न भूल पाने की बीमारी है, जन्म के ठीक बाद का भी सब याद है

इस औरत को कुछ भी न भूल पाने की बीमारी है, जन्म के ठीक बाद का भी सब याद है

ये सुनने में जितना क्यूट लगता है, असल में उतना की खतरनाक है.

जिस म्यूज़ियम में अपना पुतला लगने को लोग खुशनसीबी मानते हैं, उसे खोलने वाली औरत आखिर कौन थी?

जिस म्यूज़ियम में अपना पुतला लगने को लोग खुशनसीबी मानते हैं, उसे खोलने वाली औरत आखिर कौन थी?

मैडम तुसाद की वो कहानी, जो हर किसी को जाननी चाहिए.