Submit your post

Follow Us

कोरोना: इटली में फंसे 263 भारतीयों को वापस लाने वाली कैप्टन, मोदी जिनके फैन हो गए

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच भारत सरकार ने एयर इंडिया की एक फ्लाइट इटली भेजी थी, ताकि वहां फंसे कुछ भारतियों को वापस लाया जा सके. 22 मार्च के दिन एयर इंडिया बोइंग 777 इटली से 263 भारतियों को वापस ले आई. हर किसी ने फ्लाइट की टीम को बधाई दी, लेकिन सबसे ज्यादा बात इस वक्त कैप्टन स्वाति रावल पर हो रही है. क्यों? क्योंकि वो इस विमान की पायलट थीं. को-पायलट कैप्टन राजा चौहान के साथ मिलकर उन्होंने एयरलिफ्ट के इस ऑपरेशन को कामयाब किया. इसके साथ ही रेस्क्यू फ्लाइट उड़ाने वाली पहली सिविल महिला पायलट बन गई हैं.

पीएम नरेंद्र मोदी भी कैप्टन के फैन हो चुके हैं. दरअसल, नारगिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बोइंग 777 के क्रू की कुछ तस्वीरों को ट्वीट करके उन्हें बधाई दी थी. इसमें उन्होंने कैप्टन स्वाति और कैप्टन राजा को खासतौर पर मेंशन किया था. उन्होंने लिखा था,

‘जब हालात मुश्किल हो जाते हैं, तब भी मजबूत इरादें वाले हार नहीं मानते. एयर इंडिया के बोइंग 777 का क्रू, जिन्हें कैप्टन स्वाति रावल और कैप्टन राजा चौहान ने लीड किया था, उन्होंने कॉल ऑफ ड्यूटी पर प्रतिक्रिया दी और 263 इंडियन्स को एयरलिफ्ट करके अपने संकल्प को पूरा किया.’

इसी ट्वीट को पीएम मोदी ने भी रिट्वीट किया. एयर इंडिया की टीम की तारीफ की. लिखा,

‘एयर इंडिया की इस टीम पर गर्व होता है. टीम ने बहुत हिम्मत से काम लिया और इंसानियत दिखाई. उनके काम की तारीफ देश के कई लोग कर रहे हैं.’

कैप्टन स्वाति उन लोगों में शामिल हैं, जो रात-दिन अपनी जान जोखिम में डालकर इस महामारी के वक्त भी काम कर रहे हैं. दो छोटे बच्चे भी हैं, लेकिन उनका काम उनके लिए सबसे पहले है. बहुत से लोग उनके जज्बे को सलाम कर रहे हैं.

उनके पति अजीत कुमार ने भी ट्विटर पर अपनी पत्नी को बधाई दी.

कैप्टन स्वाति ट्विटर पर नहीं थीं, लेकिन इतने सारे लोगों ने जब उनकी तारीफ की, जिनमें पीएम मोदी भी शामिल हैं, तो उन्होंने ट्विटर पर अकाउंट बनाया. अजीत ने खुद ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी.

कैप्टन का पहला ट्वीट

स्वाति का पहला ट्वीट 23 मार्च की रात 11 बजकर 34 मिनट पर हुआ. उन्होंने पीएम मोदी को थैंक्यू कहा. लिखा,

‘मैं बहुत सम्मानित महसूस कर रही हूं. इससे हम सबको अपने कर्तव्य का पालन करने और सबसे अच्छा करते रहने की प्रेरणा मिलती है. पूरा क्रेडिट मेरे क्रू मेंबर्स, ग्राउंड स्टाफ, हेल्थ ऑफिसर्स और ITBP ऑफिसर्स को जाता है, जिन्होंने फेस-टू-फेस यात्रियों का सामना किया.’

कौन हैं स्वाति?

वैसे तो दिल्ली में रहती हैं, लेकिन हैं गुजरात के भावनगर की. TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, पिता एस.डी. रावल फॉरेस्ट अधिकारी थे. बेटी को आसमान में उड़ने का मन था. इसलिए पायलट बनने का फैसला किया. राय बरेली में कमर्शियल पायलट की ट्रेनिंग ली. सा 2006 से एयर इंडिया में काम कर रही हैं.

स्वाति को 20 मार्च को एयर इंडिया की तरफ से कॉल आया. उनसे पूछा गया कि क्या वो इटली जाकर वहां फंसे भारतियों को वापस लाएंगी. उन्होंने तुरंत हामी भर दी. ये जानते हुए भी कि वहां जाना इस वक्त कितना खतरनाक हो सकता है.


वीडियो देखें: कोरोना वायरस से लड़ाई में मोदी सरकार हुई सख्त, आपको भी ये करना होगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

महिला क्रिकेटर्स ने हेड कोच पर यौन शोषण के आरोप लगाए, कोच को सस्पेंड किया गया

कोरोना के कारण हेड कोच की मुश्किल और भी बढ़ गई.

निर्भया के दोषियों से पहले रेप के अपराध में आखिरी बार फांसी इस शख्स को हुई थी

जिसके बारे में बाद में कहा गया कि वो बेगुनाह था.

ईवेंट के लिए असम से कानपुर पहुंची मॉडल, बिजनेसमैन ने दोस्तों के सामने रेप किया

पार्टी के बाद दोस्त के बंगले लेकर गया था.

वेटनरी डॉक्टर गैंगरेप जैसा मामला फिर, पुलिया के नीचे नग्न हालत में महिला की लाश मिली

सिर कुचला हुआ, शरीर पर सोने के गहने सही-सलामत.

बॉक्सिंग टूर्नामेंट के लिए कोलकाता जा रही स्टूडेंट का उसी के कोच ने ट्रेन में रेप किया

ट्रेनर को पुलिस ने सोनीपत से गिरफ्तार कर लिया है.

सौम्या हत्याकांड: जब एक पत्रकार लड़की के मर्डर का राज़ दूसरी लड़की से मर्डर से खुला

दिल्ली के पॉश इलाके में क्रूर हत्या को अंजाम देने वाला एक बार फिर पकड़ा गया है.

इंटरनेट के ज़रिए डेटिंग पार्टनर या दूल्हा खोज रही हैं तो इन लड़कियों की कहानी पढ़िए

आपका वो हाल न हो, जो इनका हुआ.

ब्रेकअप झेल नहीं पाया तो एक्स गर्लफ्रेंड के घर में घुसकर 'सज़ा' दी, मां को भी नहीं छोड़ा

अगले दिन दरवाज़ा खुला तो पड़ोसी सकते में आ गए.

हॉलीवुड का बड़ा प्रड्यूसर हार्वी वाइन्सटाइन रेपिस्ट साबित हुआ, 23 साल जेल में काटेगा

ये तो सज़ा की शुरुआत है, ये आदमी गुरमीत राम रहीम से कम नहीं.

गार्गी कॉलेज में यौन शोषण की शिकायत करने वाली लड़कियां पीछे क्यों हटीं?

बीते महीने इनका आरोप था कि लड़कों ने कॉलेज में घुसकर हुड़दंग किया.