Submit your post

Follow Us

इस बिजनेस कार्ड की तस्वीर को 3 सेकेंड गौर से देखिए, मुस्कुराए बिना नहीं रह पाएंगे

116
शेयर्स

सोशल मीडिया पर आए दिन कुछ न कुछ वायरल होता है. कभी कोई गाना, कभी कोई वीडियो, कभी किसी घटना का फुटेज, तो कभी कोई तस्वीर. इस वक्त एक बिजनेस कार्ड काफी वायरल हो रहा है. क्योंकि ये बाकी बिजनेस कार्ड से काफी अलग है. ये एक हाउस हेल्पर का कार्ड है. जिनका नाम गीता काले है. गीता की भी तस्वीर इस वक्त इंटरनेट पर छाई हुई है. ऐसा शायद पहली बार हुआ है कि किसी हाउस मेड के पास बिजनेस कार्ड है. यही वजह है कि इंटरनेट पर हर किसी का ध्यान इसकी तरफ जा रहा है.

कैसे बना गीता का बिजनेस कार्ड?

अस्मिता जावड़ेकर नाम की एक फेसबुक यूज़र ने गीता काले की पूरी कहानी अपने पेज पर शेयर की. जिसके मुताबिक, गीता पुणे के बावधन इलाके में हाउस मेड के तौर पर काम करती हैं. कुछ दिन पहले उनके हाथ से एक घर का काम चला गया था. जहां से उन्हें 4000 रुपए हर महीने मिलते थे. इस वजह से वो काफी परेशान थीं.

बावधन इलाके में धनश्री शिंदे नाम की महिला का भी घर है. उनके घर पर भी गीता काम करती हैं. धनश्री ने ये देखा कि गीता उदास हैं. पूछने पर पता चला कि एक घर का काम उनके हाथ से चला गया है. उन्हें बच्चों की स्कूल फीस भरनी होती है, दस काम होते हैं. ऐसे में काम चले जाने पर पैसों की दिक्कत होगी, ये सोच-सोचकर गीता दुखी थीं.

ये सब जानने के बाद धनश्री के मन में एक आइडिया आया. उन्होंने गीता के नाम का बिजनेस कार्ड बनवाया. जिसमें अलग-अलग कामों का रेट लिखा. 100 कॉपियां बनवाईं.

कार्ड में ये सब लिखा-

गीता काले
बावधन इलाके में घर का काम करती हैं.
आधार कार्ड वैरिफाइड है.
भांडी (बर्तन) करने के- 800 रुपए प्रति माह
झाड़ू-पोंछा- 800 रुपए प्रति माह
कपड़े- 800 रुपए प्रति माह
रोटी बनाना- 1000 रुपए प्रति माह
(जरूरत के हिसाब से डस्टिंग और सब्जी काटने का काम भी करती हैं)

Geeta Kale
गीता अब खुश हैं. उन्हें उनकी पुरानी नौकरी भी वापस मिल गई है.

धनश्री ने सारे कार्ड गीता को दिए. और कहा कि सिक्योरिटी गार्ड की मदद से सभी पड़ोसियों में बांट दे. एक तस्वीर ली. कार्ड की. गीता के साथ भी एक फोटो ली. दोनों तस्वीरों को धनश्री ने अपनी एक फ्रेंड को भेज दिया. उनकी फ्रेंड ने किसी वॉट्सऐप ग्रुप में इन तस्वीरों को फॉर्वर्ड कर दिया. फिर देखते ही देखते गीता का बिजनेस कार्ड हर जगह वायरल हो गया.

गीता को एक के बाद एक कई सारे कॉल्स आने लगे. कई सारे लोगों ने उन्हें जॉब ऑफर करने लगे. पूरे देश में गीता का बिजनेस कार्ड छा चुका है.

धनश्री ने इंडिया टुडे से बात की. कहा,

‘मैंने बस ऐसे ही अपनी एक दोस्त को गीता के साथ अपनी सेल्फी फॉर्वर्ड कर दी थी. लेकिन फिर मेरी दोस्त ने वो सेल्फी कुछ वॉट्सऐप ग्रुप्स में फॉर्वर्ड कर दी. और अब फोन पर फोन आ रहे हैं. मुझे कई सारे वॉट्सऐप ग्रुप में जोड़ लिया गया है.’

वहीं गीता का कहना है,

‘मैंने कुछ फोन पिक किए. लोगों से बात की लेकिन बाद में वो एक सिरदर्द बन गया. मुझे मेरी पुरानी नौकरी भी मिल गई, जो मैंने खो दी थी. इसलिए मैं खुश हूं. लेकिन अब मैं सोच रही हूं कि अपना सिम कार्ड बंद कर दूं. क्योंकि मेरा फोन बजना ही बंद नहीं हो रहा है.’

हर कोई धनश्री की तारीफ कर रहा है. उनके एक छोटे से कदम ने कमाल कर दिया है.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

अंग्रेजी कमजोर थी, इसलिए कॉलेज स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया

स्कूल की पढ़ाई हिंदी में की थी. कॉलेज अंग्रेजी में कर रही थी.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बच्चियों से बलात्कार केस का फैसला टल गया है

वकीलों की हड़ताल की वजह से फैसले में देरी होगी.

रेप के बाद नाबालिग मां बन गई, पंचायत ने बच्चे को 20 हजार में बेचने का फरमान सुना दिया!

पहली बार टीचर ने, फिर बिजली बनाने वाले रेप किया था.

अस्पताल के टॉयलेट में इस महिला ने जो किया जान लेंगे तो आपको स्कूल याद आ जाएगा

पुलिसवाले टॉर्च लेकर उसे ढूंढ़ रहे हैं.

बर्फीली नदी में डूब रहा था, लोग बचाने गए तो पता चला लाश के टुकड़े ठिकाने लगा रहा था

मगर ये कुछ भी नहीं था, पूरी कहानी अभी बाकी थी.

81 साल की बुजुर्ग महिला के मुंह पर कालिख पोती, नंगे पांव पूरे गांव में घसीटा

जूतों की माला पहनाई.

परीक्षा देने शहर आई लड़की के साथ उसी के भाई ने होटल में रेप किया

अगले दिन परीक्षा थी. कज़िन ने ख़ुद लड़की से कहा, रात को मेरे साथ ही होटल में रुक जाओ.

पाकिस्तान में हिंदू लड़की की मौत की गुत्थी सुलझी, हत्या से पहले उसका रेप हुआ था

पुलिस को जिस बात की आशंका थी, वही हुआ.

घर पर अकेला पाकर अपनी ही बेटी को गलत तरह से छूता था पिता, मां ने भी विश्वास नहीं किया

बच्ची खुद समझदार न होती, तो ये जाने कबतक चलता.

कैफे के वॉशरूम में लड़की ने छिपा कैमरा देखा, शिकायत की तो सिर चकराने वाला जवाब मिला

कैफे के मैनेजर कुछ और ही बात कह रहे हैं.