Submit your post

Follow Us

फुटपाथ पर लैंप पोस्ट के नीचे पढ़ने वाली लड़की को अब मुंबई में घर मिल गया है

मुंबई में फुटपाथ पर रहने वाली एक 17 साल की लड़की. पूरे परिवार के साथ फुटपाथ के किनारे झोपड़ी बनाकर रहती थी. पढ़ाई का शौक, पर बिजली की समस्या. रात में लैंप पोस्ट के नीचे बैठकर पढ़ाई करती. उसका सपना था कि वो एक घर में रहे. 2 सितंबर को उसका वो सपना पूरा हो गया. उस लड़की का नाम अस्मा शेख है. फुटपाथ पर पढ़ाई करते हुए उसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी. जिसके बाद बड़ी संख्या में लोग उसकी मदद के लिए सामने आए थे.

सोशल मीडिया पर वायरल हुई अस्मा की कहानी

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, अस्मा अब अपने परिवार के साथ एक 1BHK अपार्टमेंट में शिफ्ट हो गई है. ये घर मुंबई के मोहम्मद अली रोड पर स्थित है.

न्यूज एजेंसी ANI की रिपोर्ट के मुताबिक, अस्मा आजाद मैदान के पास एक लैंपपोस्ट के नीचे पढ़ाई करती थी. यहीं पढ़ाई करते हुए उसने दसवीं की परीक्षा पास की थी. अस्मा की कहानी सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो कई लोग उसकी मदद के लिए आगे आए. इनमें से कई विदेशी नागरिक थे. अस्मा के लिए फंड इकट्ठा किया गया.  आगे की पढ़ाई के लिए शहर के एक टॉप कॉलेज में उसका एडमिशन कराया गया.

इस साल जुलाई में मीडिया संस्थान बीबीसी को दिए गए एक इंटरव्यू में अस्मा ने बताया,

“मैं ग्रेजुएट होना चाहती हूं. मैं पढ़ाई करना चाहती हूं ताकि एक घर खरीद सकूं. मैं अपने परिवार को फुटपाथ की इस जिंदगी से बाहर निकालना चाहती हूं.”

लॉकडाउन के दौरान अस्मा को फुटपाथ पर ही रहना पड़ा. ऐसे में उन्हें पढ़ाई करने में काफी दिक्कत हुई. बीबीसी के इंटरव्यू में उन्होंने कहा था,

“फुटपाथ पर रहकर ऑनलाइन क्लास करना काफी मुश्किल है. इसलिए मैं एक घर में रहना चाहती थी. मुझे लैंपपोस्ट के नीचे पढ़ाई करनी पड़ी. कई बार पुलिस फुटपाथ पर बनी हमारी झुग्गी को हटा देती. ऐसे में हमें रात भर चलना पड़ता.”

अस्मा को फिलहाल जो घर मिला है, वहां पर वो अपने परिवार के साथ तीन साल तक रहेंगी. इस घर के किराए, बिजली, पानी और दूसरी मूल ज़रूरतों के लिए दानदाताओं ने करीब सवा लाख रुपये इकट्ठा किए हैं.

लोगों ने बढ़ाया मदद का हाथ

आई केयरटेकर नाम के NGO के मुताबिक, कतर में काम करने वाले एक पेट्रोलियन एग्जीक्यूटिव नौशीर अहमद खान ने भी अस्मा को हर महीने तीन हजार रुपये देने का वादा किया है. नौशीर का कहना है कि अस्मा की पढ़ाई पूरी होने तक वे हर महीने यह धनराशि देंगे.

अस्मा के सपने को सच करने में एक बड़ा योगदान स्पेन के रहने वाले जर्मन फर्नांडेज का भी है. उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि अस्मा की कहानी के बारे में जानने के बाद वे काफी भावुक हो गए. उन्होंने यह भी कहा कि शिक्षा किसी व्यक्ति को अपने सपने सच करने में मदद कर सकती है और वे महिला शिक्षा के बहुत बड़े समर्थक हैं.

अस्मा फिलहाल मुंबई के केसी कॉलेज में पढ़ रही हैं और सिर पर छत पाने के बाद उनकी खुशी का ठिकाना नहीं है.


 

वीडियो- उत्तराखंड के नेशनल पार्क में अब महिलाएं होंगी जिप्सी ड्राइवर और नेचर गाइड

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

उत्तर प्रदेश: रेप नहीं कर पाया तो महिला का कान चबा डाला, पत्थर से कुचला!

उत्तर प्रदेश: रेप नहीं कर पाया तो महिला का कान चबा डाला, पत्थर से कुचला!

एक साल से महिला को परेशान कर रहा था आरोपी.

मुझे जेल में रखकर, उदास देखने में पुलिस को खुशी मिलती है: इशरत जहां

मुझे जेल में रखकर, उदास देखने में पुलिस को खुशी मिलती है: इशरत जहां

दिल्ली दंगा मामले में इशरत जहां की जमानत में अब पुलिस ने कौन सा पेच फंसा दिया है?

किशोर लड़कियों से उनकी अश्लील तस्वीरें मंगवाने के लिए किस हद चला गया ये आदमी!

किशोर लड़कियों से उनकी अश्लील तस्वीरें मंगवाने के लिए किस हद चला गया ये आदमी!

खुद को जीनियस समझ तरीका तो निकाल लिया लेकिन एक गलती कर बैठा.

कॉन्डम के सहारे खुद को बेगुनाह बता रहा था रेप का आरोपी, कोर्ट ने तगड़ी बात कह दी

कॉन्डम के सहारे खुद को बेगुनाह बता रहा था रेप का आरोपी, कोर्ट ने तगड़ी बात कह दी

कोर्ट की ये बात हर किसी को सोचने पर मजबूर करती है.

रेखा शर्मा को 'गोबर खाकर पैदा हुई' कहा था, अब इतनी FIR हुईं कि अक्ल ठिकाने आ जाएगी

रेखा शर्मा को 'गोबर खाकर पैदा हुई' कहा था, अब इतनी FIR हुईं कि अक्ल ठिकाने आ जाएगी

यति नरसिंहानंद को आपत्तिजनक टिप्पणियां करना महंगा पड़ा.

अवैध गुटखा बेचने वाले की दुकान पर छापा पड़ा तो ऐसा राज़ खुला कि पुलिस भी परेशान हो गई

अवैध गुटखा बेचने वाले की दुकान पर छापा पड़ा तो ऐसा राज़ खुला कि पुलिस भी परेशान हो गई

इतने घटिया अपराध के सामने तो अवैध गुटखा बेचना कुछ भी नहीं.

अपनी ड्यूटी कर रही महिला अधिकारी की सब्जी बेचने वाले ने उंगलियां काट दीं

अपनी ड्यूटी कर रही महिला अधिकारी की सब्जी बेचने वाले ने उंगलियां काट दीं

इसके बाद सब्जी वाले ने जो कहा वो भी सुनिए.

पीट-पीटकर अपने डेढ़ साल के बच्चे को लहूलुहान कर देने वाली मां की असलियत

पीट-पीटकर अपने डेढ़ साल के बच्चे को लहूलुहान कर देने वाली मां की असलियत

ये वायरल वीडियो आप तक भी पहुंचा होगा.

महिला कॉन्स्टेबल पर भद्दे कमेंट कर रहा था शख्स, विरोध किया तो रॉड से हमला कर दिया

महिला कॉन्स्टेबल पर भद्दे कमेंट कर रहा था शख्स, विरोध किया तो रॉड से हमला कर दिया

परिवार मानसिक रूप से बीमार बताकर आरोपी को बचाने की कोशिश कर रहा.

मैसूर गैंगरेप केस: पुलिस ने 5 को गिरफ्तार किया, आरोपियों में किशोर भी शामिल

मैसूर गैंगरेप केस: पुलिस ने 5 को गिरफ्तार किया, आरोपियों में किशोर भी शामिल

DGP प्रवीण सूद ने घटना के बारे में और क्या बताया.