Submit your post

Follow Us

तेलंगाना में डॉक्टर की रेप के बाद हत्या, संसद के बाहर विरोध कर रही लड़की के साथ पुलिस ने बुरा बर्ताव किया

तेलंगाना का रंगा रेड्डी ज़िला. यहां शमशाबाद नाम का एक गांव है. यहां पर 26 साल की वेटनरी डॉक्टर को गैंगरेप के बाद जला दिया गया था. उनकी लाश नेशनल हाइवे-44 के एक ब्रिज के नीचे मिली थी. अब इस घटना के बाद लोग इंसाफ मांगल रहे हैं. सोशल मीडिया पर लोग कई तरह के पोस्ट कर रहे हैं. इस बीच एक लड़की ने सोशल मीडिया और मीडिया ध्यान खींचा है. नाम है अनु दुबे.

30 नवंबर की सुबह 7 बजे अनु दुबे संसद के बाहर सड़क पर एक तख्ती लेकर धरना दे रही थीं. उसमें लिखा था- मैं अपने भारत में सुरक्षित महसूस क्यों नहीं कर सकती? इसी दौरान वहां पुलिस आ गई. और वहां धरना न देने की सलाह दी. पर अनु नहीं मानी. इसके बाद पुलिस ने अनु से कहा कि वो धरना करना चाहती हैं, तो वो जंतर-मंतर पर चली जाएं. उन्हें कोई परेशान नहीं करेगा. पर इस प्रस्ताव से भी अनु ने मना कर दिया. इसके बाद अनु को पुलिस जबरन थाने ले गई. जहां उनसे पूछताछ की.

अनु ने मीडिया को बताया कि उनका धरने का उद्देश्य बस ये है कि वो जलकर मरना नहीं चाहती हैं. उनके साथ ऐसी घटना न हो, इसलिए वो ये धरना दे रही हैं. वो पूरी रात सो नहीं पाईं, क्योंकि अब वो रेप के केस सुन-सुनकर थक चुकी हैं, परेशान हो चुकी हैं. अनु सरकार से मिलकर कुछ सवाल पूछना चाहती हैं. अनु का कहना है कि आज वो लड़की जल कर मरी है, कल को उनके साथ भी ऐसा होगा, इसलिए वो सरकार से अपनी सेफ्टी को लेकर सवाल करना चाहती हैं.  अनु ने धरने के पहले एक वीडियो रिकॉर्ड किया था. इसमें उन्होंने कहा था-

पहली बार किसी और के लिए आगे जा रही हूं. पता नहीं क्या करने जा रही हूं. मेरी फैमिली को कुछ नहीं होना चाहिए, किसी न किसी को आगे बढ़ना पड़ेगा. शायद मैं पहली हूं. प्लीज मेरी फैमिली को कुछ नहीं होना चाहिए. और मैं लड़ूंगी. मैं आज संसद भवन पर बैठने जा रही हूं. इंसाफ मांगने. अब बहुत हुआ. मेरा नाम अनु दुबे है.

अनु दुबे ने जब न्यूज चैनल ABP से बात की, तो उसका वीडियो ऑल इंडिया महिला कांग्रेस ने भी ट्वीट किया. और अनु को सपोर्ट किया.

साथ ही अनु से मिलने खुद दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल पहुंची. वहां जब उन्हें मालूम चला कि दिल्ली पुलिस ने अनु के साथ थाने में मारपीट की है. तो उन्होंने दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमिश्नर को लेटर लिखा और पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

वहीं आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने भी ट्वीट किया. इसमें वो अनु के साथ दिल्ली पुलिस के बर्ताव की आलोचना कर रहे हैं.

अनु का कहना है कि जिनके साथ यौन शोषण, रेप जैसी घटनाएं हुईं हैं, वो अपना घटनाक्रम उन्हें बताएं. वो उनके लिए प्रोटेस्ट करेंगी. ये प्रोटेस्ट सिर्फ तेलंगाना की घटना के बारे में ही नहीं है, बल्कि 2012 के बाद से हर उस घटना के लिए है, जो महिलाओं के साथ हो रही हैं.

हालांकि अनु के अपने बारे में मीडिया को कुछ भी बताने से इनकार कर दिया. इसलिए अनु के बारे ज्यादा जानकारी नहीं है.


वीडियो देखें : वेटनरी डॉक्टर फोन पर बहन से बोली डर लग रहा है, 9 घंटे बाद हाईवे पर मिली जली हुई लाश

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

फटे-पुराने गद्दों पर ट्रेनिंग को मजबूर रेसलर सिमरन, केजरीवाल सरकार ने भी नहीं निभाया वादा

सिमरन यूथ ओलंपिक्स की सिल्वर मेडलिस्ट हैं.

आज की खबरें इन महिलाओं के बारे में बात क्यों कर रही हैं?

कौन हैं रमीलाबेन बारा और इंदु गोस्वामी?

इन महिलाओं ने ऐसा क्या किया, जो हेडलाइंस में आ गईं?

विमेन इन न्यूज टुडे- कौन हैं ये महिलाएं.

13 साल की उम्र से ही व्हीलचेयर यूजर हैं, आज दुनिया की नामी यूनिवर्सिटी में पढ़ने जा रही हैं

प्रतिष्ठा देवेश्वर के संघर्ष और कामयाबी की कहानी.

आज की टॉप ख़बरों में इन महिलाओं की बात क्यों हो रही है?

एक ने तो आतंकवादियों को मार गिराया है.

'अरेंज मैरिज' कल्चर दिखाने के बहाने इस नेटफ्लिक्स सीरीज ने कई दिक्कत भरी बातें दिखा डाली

महिलाविरोधी बातों के अलावा भी कई खामियां हैं शो में.

'शादी के लिए मैं जिस लड़के को देख रही थी, उसी ने किया यौन शोषण'

क्या क्या झेलना पड़ता है लड़कियों को अरेंज मैरिज के नाम पर

आज की ख़बरों में ये महिलाएं टॉप पर क्यों बनी रहीं, वजह जान लीजिए

किरण बेदी से लेकर नलिनी श्रीहरन तक.

लॉकडाउन खुलने के बाद सरकारी स्कूल के टीचर्स किन मुश्किलों से जूझ रहे हैं?

किसी के पास आने-जाने का साधन नहीं, तो किसी को सैनिटाइजेशन की फ़िक्र.

आज की ख़बरों में ये महिलाएं छाई रहीं, वजह भी जान लीजिए

बड़े आविष्कारों से लेकर 12वीं की परीक्षा तक.