Submit your post

Follow Us

महिला कर्मचारी ने मास्क पहनने को कहा, तो अधिकारी ने ऑफिस में सबके सामने उसे बेरहमी से पीटा

एक सीसीटीवी फुटेज काफी वायरल हो रही है, जिसमें एक आदमी, एक महिला को बुरी तरह पीटते हुए नज़र आ रहा है. ये वीडियो आंध्र प्रदेश के नेल्लूर का है. राज्य के पर्यटन विभाग के तहत आने वाले एक होटल के ऑफिस. ‘इंडिया टुडे’ से जुड़े आशीष पांडे की रिपोर्ट के मुताबिक, जो आदमी महिला को पीट रहा है, वो डिप्टी मैनेजर सी. भास्कर है. महिला एक कॉन्ट्रैक्चुअल कर्मचारी है और दिव्यांग है.

क्या दिख रहा है वायरल वीडियो में?

भास्कर ऑफिस के अंदर आता है. महिला अपने टेबल के सामने लगी कुर्सी पर बैठी है. भास्कर सीधे महिला के पास पहुंचता है, बाल पकड़कर उसे कुर्सी से नीचे गिराता है, फिर पिटाई करता है. पास रखे टेबल से कुछ उठाता है, उससे महिला को पीटता है. महिला के टेबल के पास भी कुछ लंबा-सा डंडे जैसा दिखने वाला सामान रखा था. भास्कर उससे भी महिला को पीटता है.

वहां मौजूद लोग महिला को बचाने की कोशिश करते हैं. एक बुज़ुर्ग आदमी भास्कर को रोकने की कोशिश करता है, लेकिन भास्कर उस आदमी को भी धक्का देकर गिरा देता है. एक दूसरी महिला भी उस कमरे में मौजूद थी, जो कि कान पर हाथ रखकर बाहर जाते दिखती है. बड़ी मुश्किल से दो लोगों के रोकने पर भास्कर रुकता है और महिल को छोड़कर बाहर जाता है.

ये देखिए समाचार एजेंसी ANI का वीडियो. (चेतावनी- वीडियो बेहद डिस्टर्बिंग है. अगर आपको इस तरह के वीडियो से समस्या होती है, तो न देखें.)

क्यों पीटा?

आशीष पांडे ने बताया कि महिला कर्मचारी ने भास्कर से मास्क पहनने को कहा था, इस पर उसे गुस्सा आया था. चूंकि कोरोना वायरस के चलते सभी को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है. नेल्लूर के इस ऑफिस में सभी कर्मचारी मास्क पहनकर आए थे, केवल सी. भास्कर को छोड़कर. महिला कर्मचारी ने उन्हें टोका और मास्क पहनने की सलाह दी. इस पर गुस्से में आकर सी. भास्कर ने महिला की पिटाई कर दी

घटना कब की है?

27 जून, 2020 यानी शनिवार की है. वीडियो अभी सामने आया है.

क्या कार्रवाई हुई?

आरोपी भास्कर की गिरफ्तारी हो गई है. घटना वाले दिन ही महिला ने पुलिस में मामला दर्ज करवा दिया था. IPC (भारतीय दंड संहिता) के सेक्शन- 354 (महिला के सम्मान को नुकसान पहुंचाने के लिए उस पर हमला करना या आपराधिक बल का प्रयोग करना, उससे छेड़छाड़ करना), 355 (किसी व्यक्ति के मान को ठेस पहुंचाने के मकसद से उस पर हमला करना या आपराधिक बल प्रयोग करना) और 324 (खतरनाक हथियार से जान-बूझकर किसी को नुकसान पहुंचाना) के तहत केस दर्ज किया गया है.

नेल्लूर सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (SP) का कहना है,

‘शनिवार को FIR दर्ज होने के बाद से आरोपी फरार था. पुलिस ने तुरंत कई टीम लगा दी थीं. 29 जून (सोमवार) की सुबह आरोपी पकड़ में आया. प्रोटोकॉल के अनुसार, आरोपी का मेडिकल एग्जामिनेशन हुआ और कोरोना टेस्ट हुआ. नेल्लूर पुलिस ने कार्रवाई करने में अपनी तरफ से कोई देरी नहीं की.’

आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. ‘दी न्यूज़ मिनट’ के मुताबिक, भास्कर को सस्पेंड कर दिया गया है.


वीडियो देखें: 13 साल की बच्ची की तस्करी कर वेश्यालय भेज दिया गया था, घर आयी लेकिन पुलिस ने निराश कर दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

गोरेपन की क्रीम के डब्बे में क्रीम नहीं, ये ज़हरीली चीज़ होती है

जान जाएंगे तो कभी न खरीदेंगे

कहानी 'फेयर एंड लवली' क्रीम की, जिसने लड़कियों का इमोशनल शोषण कर तिजोरी भर ली

एक ऐसा ब्रेनवॉश जो पिछले 45 साल से लगातार चला आ रहा है.

मेट्रो स्टेशन का नाम बदल रहे थे, ट्रांसजेंडर लोगों ने आईना दिखा दिया

और जो दिख रहा, वो दुखी कर देने वाला है.

रेहाना फातिमा का सेमी न्यूड वीडियो कानूनी तौर पर कितना अश्लील है?

हमारे कानून में अश्लीलता क्या होती है?

घर में सब-कुछ होते हुए भी चारा काटने पर मजबूर क्यों हैं ये बूढ़ी नानी?

जिनको ये भी याद नहीं कि शादी से पहले उनका नाम क्या था.

रेप केस को लेकर कर्नाटक हाईकोर्ट ने जो कहा, वो अचानक चर्चा में आ गया है

आरोपी को जमानत देते वक्त हाईकोर्ट ने कमेंट किया.

सदियों बाद बदलने वाला है ICC से भी पुरानी संस्था का इतिहास

बदल जाएगा 233 साल का इतिहास.

पिता बीमार, मां और भाई ने किसी तरह पढ़ाया, आज लड़की डिप्टी कलेक्टर बन गई

वसीमा शेख की कहानी.

लिपस्टिक और काजल की बिक्री से इकॉनमी का क्या लेना देना है?

क्या होता है लिपस्टिक इंडेक्स जो अब काजल इंडेक्स बन सकता है?

चायवाले की बेटी इंडियन एयरफोर्स एकेडमी टॉपर बनी, संघर्ष की कहानी बेमिसाल है

आंचल गंगवाल ने मध्य प्रदेश का नाम रोशन किया.