Submit your post

Follow Us

जो वजह बताकर गांववालों ने गर्भवती का अंतिम संस्कार रोका, वो सुनकर सिर पीट लेंगे

आंध्र प्रदेश का कुर्नूल जिला. यहां एक गांव में गर्भवती महिला की मौत हो गई. तो गांववालों ने अंधविश्वास के चलते उसका अंतिम संस्कार गांव में नहीं करने दिया. कहा कि किसी गर्भवती महिला का दफनाना गांव के लिए अच्छा नहीं होता है. इसके बाद महिला के परिजन शव लेकर पास के जंगल में गए और वहां शव को एक किनारे छोड़कर लौट आए.

इंडिया टुडे से जुड़े आशीष पांडेय की रिपोर्ट के मुताबिक, गर्भवती महिला का नाम लावण्या था. उनकी उम्र 20 साल थी. उनकी शादी बी. नागिरेड्डीपल्ले गांव के रहने वाले धर्मेंद्र से हुई थी. लावण्या नौ महीने की गर्भवती थी. लेबर पेन हुआ तो उन्हें सरकारी अस्पताल ले जाया गया. जहां कथित तौर पर डॉक्टर की लापरवाही के चलते डिलीवरी होने से पहले ही लावण्या की मौत हो गई.

इसके बाद परिजन लावण्या का शव लेकर गांव आए. अंतिम संस्कार की तैयारी करने लगे. लेकिन इसी दौरान गांव के कुछ लोगों ने आकर उन्हें ऐसा करने से रोका. कहा कि गांव में किसी गर्भवती महिला को दफनाना गांव के लिए अपशगुन होगा. परिवार वालों ने समझाने की कोशिश की पर गांववाले नहीं माने.

मजबूरी में परिजन शव को लेकर एक जंगल में गए और वहां छोड़ आए. दो दिन बाद जंगल के पास के गांव के लोगों ने शव को देखा, तो पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने मामले की छानबीन की. फिर 14 गांववालों के खिलाफ IPC की धारा, 269, 270, 297 और 504 के तहत  केस दर्ज किया. और लावण्या का अंतिम संस्कार भी करवाया गया.


वीडियो देखें : गुजरात में एक पिता ने नाबालिग गर्भवती बेटी को को बेच दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

गोरेपन की क्रीम के डब्बे में क्रीम नहीं, ये ज़हरीली चीज़ होती है

जान जाएंगे तो कभी न खरीदेंगे

कहानी 'फेयर एंड लवली' क्रीम की, जिसने लड़कियों का इमोशनल शोषण कर तिजोरी भर ली

एक ऐसा ब्रेनवॉश जो पिछले 45 साल से लगातार चला आ रहा है.

मेट्रो स्टेशन का नाम बदल रहे थे, ट्रांसजेंडर लोगों ने आईना दिखा दिया

और जो दिख रहा, वो दुखी कर देने वाला है.

रेहाना फातिमा का सेमी न्यूड वीडियो कानूनी तौर पर कितना अश्लील है?

हमारे कानून में अश्लीलता क्या होती है?

घर में सब-कुछ होते हुए भी चारा काटने पर मजबूर क्यों हैं ये बूढ़ी नानी?

जिनको ये भी याद नहीं कि शादी से पहले उनका नाम क्या था.

रेप केस को लेकर कर्नाटक हाईकोर्ट ने जो कहा, वो अचानक चर्चा में आ गया है

आरोपी को जमानत देते वक्त हाईकोर्ट ने कमेंट किया.

सदियों बाद बदलने वाला है ICC से भी पुरानी संस्था का इतिहास

बदल जाएगा 233 साल का इतिहास.

पिता बीमार, मां और भाई ने किसी तरह पढ़ाया, आज लड़की डिप्टी कलेक्टर बन गई

वसीमा शेख की कहानी.

लिपस्टिक और काजल की बिक्री से इकॉनमी का क्या लेना देना है?

क्या होता है लिपस्टिक इंडेक्स जो अब काजल इंडेक्स बन सकता है?

चायवाले की बेटी इंडियन एयरफोर्स एकेडमी टॉपर बनी, संघर्ष की कहानी बेमिसाल है

आंचल गंगवाल ने मध्य प्रदेश का नाम रोशन किया.