Submit your post

Follow Us

सरोगेसी से जन्मे बच्चों को नेपाल में बेचने वाले गिरोह की दो महिलाएं और तीन पुरुष अरेस्ट

दो महिलाएं. एक का नाम नीलम, दूसरी का नाम रूबी. दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. दोनों एक-एक महीने के तीन बच्चों को लेकर नेपाल बेचने जा रही थीं. पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार आरोपियों में दो महिलाएं और तीन पुरुष हैं. फिलहाल पुलिस इस मालमे में और लोगों के जुड़े होने का पता लगा रही है.

पूरा मामला क्या है?

इंडिया टुडे से जुड़े अरविंद ने बताया कि तीन नवजातों को महिलाएं बेचने के लिए  ले जा रही थीं. आगरा में टोल प्लाजा पर चेकिंग हुई, तो फतेहाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया. ये महिलाएं, अन्य तीन अमित, राहुल और प्रदीप के साथ फरीदाबाद से नेपाल जा रही थीं. वहां इन बच्चों को एक दंपत्ति को सौंपना था.

उन्होंने बताया कि ये पांचों उन महिलाओं से संपर्क करते, जो अकेली रहती थीं. फिर नीलम, जो गिरोह की हेड थी, वह उस महिला को सरोगेट मदर बनने के लिए राजी करती. फिर सरोगेट मदर को 4-5 लाख रुपये देतीं, फिर उससे जन्मे बच्चे का सौदा करतीं और 7-8 लाख रुपये में बेच देतीं. आरोप है कि इस गिरोह की मदद फरीदाबाद का धर्म देवी अस्पताल और गेट वेल अस्पताल करता था. वहीं, नेपाल में एक अस्पताल चलाने वाली महिला भी इसमें शामिल थी, जिसका नाम है- अस्मिता है.

पुलिस ने इन महिलाओं के पास से दो लग्जरी कार भी बरामद की है. तीनों बच्चों को अस्पताल में भर्ती करवाया है. एसपी ग्रामीण का कहना है कि सूचना मिलने के बाद पुलिस ने टोल प्लाजा पर चेकिंग करके तीन पुरुष और दो महिलाओं को तीन बच्चों के साथ गिरफ्तार किया था. ये गिरोह नेपाल से ऑपरेट हो रहा था. उन्होंने बताया-

थाना फतेहाबाद में सूचना मिली थी. इसके बाद आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चेकिंग की गई. दो गाड़ी में तीन पुरुष, दो महिलाएं और तीन नवजात पकड़े गए थे. और जब उन महिलाओं को महिला थाने लाकर पूछताछ की गई, तो एक रैकेट का पता चला. नेपाल से ये रैकेट ऑपरेट होता था. इसमें कई एजेंट भी शामिल थे, जिनसे संपर्क करके ये बच्चे डिलीवर करते थे. इसमें और कौन-कौन शामिल है, उसकी जांच की जा रही है.

पुलिस ने बताया कि  तीनों पुरुषों को गिरफ्तार कर लिया है. और उन दोनों महिलाओं को आगरा के बाल कल्याण समिति को सौंप दिया गया है.


वीडियो देखें : राजस्थान में दिगम्बर जैन मुनि ने महिला का रेप किया, भाभी को मोलेस्ट किया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता को उनकी मौत का ज़िम्मेदार बताने वाले इस पोस्ट को पढ़ लें

अंकिता को खूब ट्रोल किया गया, भद्दी-भद्दी बातें कही गई.

सुशांत सिंह राजपूत का एक बड़ा सच ये था, जिससे हम मुंह नहीं मोड़ सकते

फिर चाहे हम फिल्म इंडस्ट्री को कितना भी ब्लेम कर लें.

क्या है ये BPET, जिसमें भारतीय सेना ने महिला अफसरों के लिए नौ साल पुराना नियम बदल दिया?

और कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी ये टेस्ट क्लियर करने के लिए.

केंद्र सरकार का नाम लेकर इस झूठी योजना के बहाने पैसे ऐंठ रहे हैं ठग

आखिर किस तरह दिया जा रहा है झांसा?

कोरोना: अपने बीमार पति को तलाश रही महिला ने दिल्ली के बड़े अस्पताल पर लगाया गंभीर आरोप

महिला के पति कोरोना पॉजिटिव.

लॉकडाउन के दौरान पुरुषों के मुकाबले ज्यादा नौकरियां खो रही हैं महिलाएं?

नई स्टडी तो यही कहती है.

दलितों के नाम पर पैसा पीट रही थी ये कंपनी, लोगों ने आईना दिखा दिया

इसके बाद से माफ़ी मांगने का दौर जारी है.

क्या ये वेबसाइट, गे मैरिज अरेंज कराने के नाम पर समलैंगिकों को ठग रही है!

इस साइट के पीछे क्या चल रहा है? सीईओ ने हमें कोई जवाब नहीं दिया.

क्या जान-बूझकर तोड़ी गईं इस एथलीट की टोक्यो ओलंपिक की उम्मीदें?

दो साल बाद डोपिंग का केस बंद हुआ.

वीडियो कॉल के दौरान एक ट्रिक आपको घरेलू हिंसा से बचा सकती है

वायरल है ये तरीका.