Submit your post

Follow Us

अभय देओल ने बताया 'देव डी' के वक्त अनुराग कश्यप से किस बात को लेकर पंगे हुए थे

हाल में ही हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर निर्देशक अनुराग कश्यप ने एक पोस्ट डाली थी. अभय देओल के बारे में. कि किस तरह उनके साथ काम करने में उन्हें परेशानी आई. पूरी डीटेल आप यहां पढ़ सकते हैं. इसके बाद अब अभय देओल ने बताया है कि उनके अनुराग कश्यप के साथ क्या डिफरेंसेज रहे. उनके हिसाब से फिल्म की एंडिंग क्या होनी चाहिए थी. और ये भी कि ‘देवदास’ के मॉडर्न वर्जन में वो लीडिंग लेडीज को और ज्यादा मज़बूत दिखाना चाहते थे.

अपने पोस्ट में अभय लिखते हैं,

एक साल तक मैं फिल्म का आइडिया लोगों को नैरेट करता रहा था, तब आखिर में अनुराग ने इसे डायरेक्ट किया. लोग जब मेरा नैरेशन सुनते थे तो कहते थे ‘ये कुछ ज्यादा ही आर्ट फिल्म जैसी’ है. ये मेरे लिए लकी रहा कि अनुराग ने इसका डायरेक्शन किया.


View this post on Instagram

A post shared by Abhay Deol (@abhaydeol) on

अभय बताते हैं कि उन्होंने शरतचन्द्र चट्टोपाध्याय का उपन्यास देवदास पढ़ा और उन्हें लगा कि देवदास का कैरेक्टर स्त्रीद्वेषी, घमंडी, और हक़ जमाने वाला है. फिर भी उसे कई दशकों तक रोमैंटिसाइज किया गया. वहीं दूसरे हाथ पर महिलाएं बेहद मजबूत और ईमानदार थीं. फिर भी उनसे ये उम्मीद की जाती थी कि वो देवदास से प्रेम करेंगी, चाहे कुछ भी क्यों न हो जाए.

अभय ने लिखा,

‘मैं ये बदलना चाहता था. मैं उन्हें ताकत देना चाहता था. ‘सुशील, संस्कारी, समर्पित महिला’ की इमेज से बाहर निकालना चाहता था. ये समय था उन्हें आज़ाद बनाने का. अपने प्रेमी पुरुष के ज़रिए परिभाषित होने का नहीं, किसी भी पुरुष के द्वारा परिभाषित होने का नहीं. इसीलिए पारो देवदास की गलतियों पर पर्दा नहीं डालती. उन पर सवाल उठाती है. उसे उसकी जगह दिखाती है.’

Dev D Paro
फिल्म में देव पारो के बारे में फैली अफवाहों पर यकीन कर उससे मुंह मोड़ लेता है. पारो की शादी किसी दूसरे व्यक्ति से हो जाती है.

अभय ने बताया कि उनके वर्जन में देव को पुलिस की गोली लगती है और किताब की तरह ही यहां भी उसकी मौत हो जाती है. पारो के दरवाज़े पर. चन्दा को उससे प्रेम नहीं होता. और उसे अपने ईस्ट यूरोपियन एस्कॉर्ट होने पर कोई शर्म भी नहीं है. वो तीनों किरदारों में से सबसे मजबूत है. और किसी के द्वारा जज किए जाने से उसे डर नहीं लगता. देव को इस कदर टूटा हुआ देखकर वो उससे हमदर्दी जताती है.

Dev D 4
देव डी में कल्कि का किरदार बहुत पसंद किया गया था. (तस्वीर: ट्विटर)

अभय लिखते हैं,

‘अनुराग को लगा कि एक हैपी एंडिंग हो तो फिल्म दर्शकों द्वारा ज्यादा स्वीकार की जाएगी. और उनका ट्विस्ट था कि देव और चन्दा को प्रेम हो जाए एक दूसरे से. मेरा विजन बहुत डार्क था. मैं फ्लो के साथ चलता गया. बाक़ी इतिहास है.’

अभय देओल अपने सोशल मीडिया पर उन फिल्मों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें बॉलीवुड बनाने से इनकार कर देता है. इसके साथ वो हैश टैग चला रहे हैं, मेकिंग व्हाट बॉलीवुड वुड नॉट. यानी वो बनाना जो बॉलीवुड नहीं बनाएगा.


वीडियो: अनुराग कश्यप का अभय देओल के साथ काम करने का अनुभव अच्छा नहीं रहा!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

लड़की की शादी होने वाली थी, इसलिए टिकटॉक स्टार ने सरेआम उसकी हत्या कर दी

लड़की से एकतरफा प्यार करता था, शादी करना चाहता था.

सरोगेसी से जन्मे बच्चों को नेपाल में बेचने वाले गिरोह की दो महिलाएं और तीन पुरुष अरेस्ट

इस गिरोह की मदद हरियाणा के दो अस्पताल और नेपाल की डॉक्टर करती थी!

गुजरात: पिता ने गर्भवती नाबालिग बेटी को 50 हजार में उसके बॉयफ्रेंड को बेचा!

और पैसे मांगने पर बॉयफ्रेंड ने अपनी गर्लफ्रेंड को घर से निकाल दिया.

रेपिस्ट को पकड़वाने के लिए इस महिला ने बेहद सूझ-बूझ वाला काम किया

लगभग पौन घंटे तक पुलिस पीछा करती रही रेपिस्ट का.

ट्रेन पकड़ने में मदद के बहाने दो RPSF आरक्षकों ने नाबालिग का रेप कर उसे सड़क पर छोड़ा

16 साल की लड़की दिल्ली में फंसी थी, अपने घर जाना चाहती थी.

नहाने का वीडियो बनाकर लड़के सेक्स की डिमांड कर रहे थे, लड़की ने खुद को जला लिया

15 साल की लड़की को ब्लैकमेल कर रहे थे लड़के.

जादू-टोने के शक में की चाची की हत्या, कटा सिर लेकर 13 किलोमीटर दूर थाने पहुंचा

घटना ओडिशा की है.

ठाणे नगर निगम के अस्पताल पर आरोप- COVID नेगेटिव गर्भवती महिला को तीन दिन कोरोना वॉर्ड में रखा

महिला के पति ने बताई पूरी कहानी.

दर्शन के लिए आई महिला से रेप के आरोप में दिगम्बर जैन मुनि गिरफ्तार

आरोपी के पास से चार हार्ड डिस्क, कई स्मार्ट फोन और कई साधारण फोन मिले.

एक्ट्रेस के बेटे ने ट्रांस महिला के साथ जो शर्मनाक हरकत की, उस पर बवाल बढ़ रहा है

इस एक्ट्रेस ने कहा, 'बेटे का साथ नहीं दूंगी.'