Submit your post

Follow Us

कानों में बच्चों की किलकारी गूंजती है तो ये जानकारी आपके लिए है

5
शेयर्स

नंदनी की डिलीवरी को लगभग 20 दिन हो गए थे. पर अभी भी नंदनी को उसका शरीर अपना नहीं लग रहा था. ऐसा लगता था मानो किसी और के शरीर में रह रही हो. अब एक अजीब सी चीज़ हो रही थी उसके साथ. उसके मसूड़ों में काफ़ी सूजन रहती थी. उनमें से खून भी आता था. जब नंदनी ने डॉक्टर को दिखाया तो पता चला ये प्रेग्नेंसी के बाद काफ़ी आम है. और यही नहीं. डिलीवरी के बाद शरीर में अक्सर कई बदलाव आते हैं. इनके बारे में हमें बताया डॉक्टर लवलीना नादिर ने. फ़ोर्टिस दिल्ली में स्त्रीरोग विशेषज्ञ हैं.

तो ये रहे कुछ बदलाव जो डिलीवरी के बाद महिलाओं के शरीर में आते हैं:

1. यूरिनरी ब्लैडर में दिक्कत

यूरिनरी ब्लैडर यानी पेशाब की थैली. ये बनी होती है कुछ मांसपेशियों से. प्रेग्नेंसी के दौरान ये मांसपेशियां काफ़ी स्ट्रेच होती हैं. इस कारण नई मांओं का अपने ब्लैडर पर कंट्रोल नहीं रहता है. यूरीन अपने आप पास हो जाता है. कभी भी. कहीं भी. पर घबराने की बात नहीं है. ये समय के साथ ठीक भी हो जाता है. जैसे-जैसे मांसपेशियां मजबूत होती है, ये दिक्कत दूर हो जाती है. इसमें चार से छह हफ़्तों का समय लगता है.

2. वजाइना में आते हैं बदलाव

आपकी वजाइना में मांसपेशियां मौजूद होती हैं. प्रेग्नेंसी में ये मसल्स काफ़ी खिंचती हैं. इस कारण वजाइना के साइज़ में बदलाव आ जाता है. ज़्यादातर तो डिलीवरी के कुछ समय बाद ये वापस अपने नॉर्मल साइज़ पर पहुंच जाती है. पर कुछ केसेस में मसल्स पहले जितनी कसी नहीं रहतीं. ये काफ़ी आम है. इसमें इस चीज़ का भी फर्क पड़ता है कि जन्म के वक्त बच्चे का वज़न कितना था.

3. स्किन प्रॉब्लम

प्रेग्नेंसी के दौरान और उसके बाद, शरीर में हॉर्मोन्स की उथल-पुथल रहती है. इसका असर आपकी स्किन पर भी पड़ता है. हो सकता है डिलीवरी के बाद आपको मुहांसों की दिक्कत रहने लगे. अगर ऐसा हो रहा है तो परेशान मत होइए. ये ठीक हो जाएगा. साथ ही कई नई माओं को मेलास्मा की दिक्कत भी हो जाती है. ये एक स्किन कंडीशन होती है. इसमें होंठ, नाक, गालों, और माथे पर भूरे रंग के चकत्ते पड़ जाते हैं. ये समय के साथ ठीक हो जाता है. अगर ऐसा नहीं हो रहा है तो बेहतर है आप एक स्किन डॉक्टर को दिखाइए.

Image result for melasma
              प्रेग्नेंसी के दौरान होनेवाले हॉर्मोनल बदलावों के कारण ये स्किन कंडीशन हो जाती है.

4. बालों का झड़ना

डिलीवरी के बाद लगभग एक साल तक आपके बाल झड़ते रहते हैं. वजह है प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में बनने वाला हॉर्मोन. एस्ट्रोजन. डिलीवरी के बाद इसकी मात्रा में भारी गिरावट आती है. इस कारण आपको हेयर लॉस होता है. वैसे आमतौर पर ये तीन से चार हफ़्तों में ठीक हो जाता है.

5. आपका वज़न नॉर्मल होने में समय लगता है

देखिए. बच्चे की डिलीवरी के बाद आपके शरीर का आकार बदलेगा. ये एकदम नॉर्मल है. आपको वो वज़न घटाने में समय भी लगेगा. ये भी नार्मल है. इसलिए इसका स्ट्रेस हरगिज़ न लें. डॉक्टर्स की मानें तो प्रेग्नेंसी के दौरान आप 11 किलो तक वेट गेन करते हैं. डिलीवरी के बाद शरीर में जामा हुआ पानी निकलता रहता है. इसलिए धीरे-धीरे आपका वज़न नॉर्मल होता रहता है. ये पानी पसीने या यूरीन के फॉर्म में आपके शरीर से निकलेगा. बाकी वज़न धीरे-धीरे कम होता रहता है.


वीडियो 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

चार बेटियों से यौन शोषण के आरोप में पिता गिरफ्तार

बेटी ने टीचर को बताया फिर मामले का पता चला.

तीसरी बार भी बेटी न हो जाए, इस डर से प्रेगनेंट बीवी को मारकर टुकड़े कर डाले

पुलिस से कहता रहा कि पत्नी लापता है, बड़ी बेटी ने सच्चाई बताई.

भारत में खेलों का ये हाल है कि 29 कोचों पर यौन शोषण के आरोप लगे हैं

जबकि कई लड़कियां डर के मारे शिकायत वापस भी ले लेती हैं

सुपरमॉडल को अश्लील तस्वीरों में टैग कर झूठी न्यूज़ फैलाता था, अब भुगत रहा है

नताशा सूरी ने ऐसा सबक सिखाया कि खुद को गायब कर लिया.

बीवी पर शक था कि उसके अपने पिता के साथ सम्बन्ध हैं, तेज़ाब फेंक कर भाग निकला!

गुजरात के नडियाद की खबर.

19 साल की लड़की गायब हुई, गुजरात पुलिस बोली 'सुरक्षित है', आखिर में पेड़ से लटकी लाश मिली

दलित सुमदाय से आने वाला ये परिवार बेटी के लिए भटकता रहा और पुलिस सोती रही.

नशे में धुत्त पुलिसवाले ने मोहल्ले की बच्ची से रेप करने की कोशिश की

पुलिसवाले की पहले गिरफ्तारी हुई थी. अब बर्खास्त भी हो गया.

तेलंगाना: सरकारी कॉलेज में तीन लड़कियां प्रेगनेंट हो गईं, जांच हुई तो डराने वाला राज़ खुला

अंडरग्रेजुएशन की लड़कियां हैं.

8 साल पहले अपहरण हुआ, बार-बार बिकी, प्रेगनेंट हुई: मौत से बचती लड़की की कहानी

कभी 20 हजार में, तो कभी 1.5 लाख रुपये में बेची गई.

रांची की 'निर्भया' के दोषी को तीन साल के अंदर सुनायी फांसी की सजा

आरोपी की मां का DNA मैच हुआ, तब गिरफ्तारी हुई.