Submit your post

Follow Us

प्रेग्नेंसी में लोगों की बात मानकर ये गलतियां आप भी तो नहीं कर रहीं?

यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछें. दी लल्लनटॉप आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.

वंदना सूरत की रहने वाली हैं. 29 साल की हैं. तीन साल पहले उनकी शादी हुई. फ़िलहाल वंदना प्रेग्नेंट हैं. पांचवा महीना चल रहा है. इधर वंदना प्रेगनेंट हुईं, उधर मुफ्त सलाह देने वालों की लाइन लग गई. रोज़ कोई न कोई वंदना को एक नई सलाह देता है. अब वो परेशान हो गई हैं कि क्या करें. क्या नहीं. कहीं वो कुछ ऐसा तो नहीं कर रहीं जिससे उनके और उनके बच्चों की सेहत को नुकसान पहुंच रहा है? अक्सर प्रेग्नेंसी में औरतें इस तरह के सवालों से जूझती हैं.

Pregnancy: Signs, Symptoms, Overview, & Health Tips You Should Know
सांकेतिक तस्वीर

प्रेग्नेंसी के दौरान औरतों को दुनियाभर की सलाह दी जाती है. जिसमें से सब सही नहीं होतीं. वो सलाह मानकर वो अपना और बच्चे, दोनों का नुकसान कर देती हैं. इसलिए आज बात करेंगे उन कुछ आम गलतियों के बारे में जो औरतें प्रेग्नेंसी के दौरान कर बैठती हैं. कहीं इनमें से कोई आप भी तो नहीं कर रहीं?

प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ आम ग़लतियां

Book an appointment with Dr. Loveleena Nadir at Rosewalk Hospital, New Delhi
डॉक्टर लवलीना नादिर, स्त्रीरोग विशेषज्ञ, फ़ोर्टिस, दिल्ली

– आमतौर पर प्रेगनेंट महिलाओं को खूब खाने की सलाह दी जाती है. पर असल में ओवरईटिंग और अंडरईटिंग दोनों ही खराब है. मां को सिर्फ़ 300 एक्स्ट्रा कैलोरी चाहिए होती हैं प्रेग्नेंसी के दौरान. प्रोटीन, कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट और गुड फैट अपनी डाइट में लें

– दिनभर में सिर्फ तीन बड़े मील तो नहीं लेतीं? ऐसा न करें, हर दो घंटे में थोड़ा-थोड़ा खाएं. एसिडिटी कम होगी, खाना पचेगा. ब्लोटिंग कम होगी

-अगर प्रेग्नेंसी के दौरान घी वगैरह से वेट बढ़ जाता है तो इस दौरान प्रेग्नेंसी कॉम्पलिकेशंस होते हैं. जैसे डायबिटीज, हाइपरटेंशन का रिस्क बढ़ जाता है. आइडियल वेट गेन 10 से 12 किलो होना चाहिए

-रात में कम से कम 8 घंटे की नींद लें. दिन में भी खाना खाने के बाद अगर हो सके तो 1-2 घंटे रेस्ट कर लें

-बहुत ज़्यादा आराम करते हैं और एक्सरसाइज़ नहीं करते. अलग-अलग तरह की एक्सरसाइज़ हर तीन महीनों में आपके डॉक्टर बताएंगे. ब्रीथिंग एक्सरसाइज़, प्रेग्नेंसी योग शुरू करें

-दूसरे और तीसरे ट्राईमेस्टर वो एक्सरसाइज़ करनी हैं जो आपके बैक को स्ट्रॉन्ग करेंगी. थकान को कम करेंगी. बच्चे को नीचे आने में मदद करेंगी. साथ ही पेल्विक फ्लोर को स्ट्रॉन्ग करेंगे ताकि नॉर्मल डिलिवरी हो.

How To Deal With Pregnancy In The Time Of Coronavirus
प्रेग्नेंसी में आईडियल वेट गेन 10 से 12 किलो होना चाहिए

-दर्द से डरना नहीं है. दर्द बच्चे को नीचे धक्का देने में मदद करता है. नॉर्मल डिलीवरी करने में मदद करता है. नॉर्मल डिलीवरी में बच्चे के लंग्स से पानी निकलता है. रिकवरी जल्दी होती है. फ़ीडिंग आसान हो जाती है

-बिना डॉक्टर की सलाह के कोई दवाई न लें

-हर तरह की जानकारी के लिए गूगल न करें. जो भी मन में सवाल हैं वो डॉक्टर से पूछें

-प्रेग्नेंसी में मेडिटेशन करिए, एन्जॉय करिए. प्रेग्नेंसी एक बीमारी नहीं है. आप अपना नॉर्मल काम करिए

-प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स कर सकते हैं. अगर दर्द, ब्लीडिंग न हो.

चलिए उन ग़लतियों के बारे में तो पता चल गया. अब आप उन्हें अवॉयड कर सकती हैं. अब आते हैं दूसरे ज़रूरी मुद्दे पर. वो है प्रेग्नेंसी के दौरान आपकी सही डाइट. क्योंकि सिर्फ़ ग़लतियां अवॉयड करने से काम नहीं चलेगा. अपनी और बच्चे ही हेल्थ के लिए आपको अपने खाने पर ख़ास ध्यान देना होगा.

क्या न खाएं:

श्रेया गोएल, डायटीशियन , चंडीगढ़
श्रेया गोएल, डायटीशियन , चंडीगढ़

-कच्चा पपीता न खाएं. उसमें लाटेक्स होता है. ये गर्भपात कर सकता है. पके हुए पपीते में पपेन या पेप्सीन होता है. जो पेट में बच्चे की ग्रोथ को रोक सकता है

-बैंगन, सौंफ और मेथीदाना से पीरियड्स शुरू हो सकते हैं. जो कि प्रेग्नेंसी में नहीं होने चाहिए. इनसे भ्रूण की ग्रोथ पर असर पड़ता है

-पाइनएप्पल न खाएं. उसमें ब्रोमलिन होता है. ये सर्विक्स पर असर करता है. उसे मुलायम कर देता है. ये आपके भ्रूण के लिए ख़तरनाक है. इससे ब्लड प्रेशर भी बढ़ता है

-अंगूर से हॉर्मोन्स में उथल-पुथल मच सकती है

-ब्रेड, नूडल, पास्ता, पिज़्ज़ा, कुकीज़ अवॉयड करें.

Dairy milk could increase the risk of breast cancer | TheHill
कच्चा दूध न पिएं

-कच्चे अंडे न खाएं

-बारिश के सीज़न में मछली ख़ासतौर पर हाई मरक्यूरी वाली मछली न खाएं

-तिल से गर्भपात हो सकता है

-गर्म चीज़ें जैसे बादाम, किशमिश, अखरोट, मूंगफली डाइट में ज्यादा न लें

-प्रेग्नेंसी में ज़्यादा चाय और कॉफ़ी नहीं पीनी चाहिए. इससे बच्चे को बीमारियां हो सकती हैं

क्या खाएं:

-रागी. इसमें आयरन की मात्रा ज़्यादा होती है. दिन में एक बार रागी का शीरा ज़रूर लें

-जौ कैल्शियम से भरपूर होता है

-नारियल पानी

-चौलाई. इसमें आयरन, विटामिन बी वगैरह होता है. खून के लिए बहुत अच्छा है

-कीनुआ. इसमें प्रोटीन भरपूर होता है. जो लोग अंडे नहीं खाते वो इसे खा सकते हैं

-पके हुए अंडे खाएं

तो इन डाइट टिप्स का ख़ास ख़याल रखिए.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

गैंगरेप विक्टिम ने सुसाइड किया, फिर पिता ने जान देने की कोशिश की तब जाकर केस दर्ज हुआ

गैंगरेप विक्टिम ने सुसाइड किया, फिर पिता ने जान देने की कोशिश की तब जाकर केस दर्ज हुआ

दफन हो चुके शव को निकालकर जांच के लिए भेजा गया.

जोक ऑफ द डे: खुद 44 अपराधों में आरोपी  बीजेपी नेता ने हाथरस विक्टिम को ही दोषी बता दिया

जोक ऑफ द डे: खुद 44 अपराधों में आरोपी बीजेपी नेता ने हाथरस विक्टिम को ही दोषी बता दिया

इस नेता ने चारों आरोपियों के लिए मुआवजे की मांग भी की है.

बलरामपुर केस: पीड़िता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में क्या निकला?

बलरामपुर केस: पीड़िता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में क्या निकला?

दो लड़कों पर 22 साल की दलित लड़की से गैंगरेप का आरोप है.

लखनऊ: दलित युवती से गैंगरेप का आरोप, पुलिस ने केस दर्ज करने में एक महीने लगा दिए!

लखनऊ: दलित युवती से गैंगरेप का आरोप, पुलिस ने केस दर्ज करने में एक महीने लगा दिए!

हाथरस मामले के तूल पकड़ने के बाद जागी पुलिस.

राजस्थान: नाबालिग बहनों का आरोप- तीन दिन तक गैंगरेप हुआ, पुलिस ने कहा कि बयान तो ऐसा नहीं दिया था

राजस्थान: नाबालिग बहनों का आरोप- तीन दिन तक गैंगरेप हुआ, पुलिस ने कहा कि बयान तो ऐसा नहीं दिया था

राजस्थान की तीन घटनाएं, जो झकझोर देंगी.

बलरामपुर: गैंगरेप के बाद लड़की की हत्या का आरोप,  आधी रात को हुआ अंतिम संस्कार

बलरामपुर: गैंगरेप के बाद लड़की की हत्या का आरोप, आधी रात को हुआ अंतिम संस्कार

परिवार का कहना है कि ऑफिस से लौट रही लड़की को किडनैप कर दो लोगों ने उसका रेप किया.

हाथरस केस: जिस परिवार ने बेटी खोई, पुलिस उसे अंतिम संस्कार पर ज्ञान दे रही थी

हाथरस केस: जिस परिवार ने बेटी खोई, पुलिस उसे अंतिम संस्कार पर ज्ञान दे रही थी

परिवार चाहता था कि अंतिम विदाई से पहले बेटी एक बार घर आ जाए. पुलिस नहीं मानी.

हाथरस केस: परिवार का आरोप, 'जबरन जला दिया बेटी का शरीर, हमें आखिरी बार देखने भी न दिया'

हाथरस केस: परिवार का आरोप, 'जबरन जला दिया बेटी का शरीर, हमें आखिरी बार देखने भी न दिया'

अंतिम संस्कार के वक्त परिवार वाले मौजूद नहीं थे.

हाथरस: कथित गैंगरेप के बाद लड़की को इतना पीटा कि रीढ़ टूट गई, 15 दिन तड़पने के बाद मौत

हाथरस: कथित गैंगरेप के बाद लड़की को इतना पीटा कि रीढ़ टूट गई, 15 दिन तड़पने के बाद मौत

गर्दन, स्पाइनल कॉर्ड, सब जगह गहरी चोट लगी थी.

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने तस्वीरें मंगवाता, फिर ब्लैकमेल करता था

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने तस्वीरें मंगवाता, फिर ब्लैकमेल करता था

आरोपी ने सोशल मीडिया पर कई फेक प्रोफाइल्स बना रखी थीं.