Submit your post

Follow Us

अलवर गैंग रेप केस के पांचों आरोपी गिरफ्तार, एक ने बताया कि कैसे इस घिनौनी वारदात को अंजाम दिया

1.22 K
शेयर्स

अलवर में हुई गैंग रेप और फिर वीडियो बनाकर वायरल करने के मामले में सभी 5 आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं. पुलिस ने पांचवें आरोपी हंसराज गुर्जर को गुरुवार के दिन गिरफ्तार कर लिया. वहीं 8 मई की रात महेश गुर्जर की गिरफ्तारी हुई थी. पुलिस की 14 टीमों ने मिलकर बुधवार की सुबह भी दो आरोपियों को गिरफ्तार किया. जबकि मामला मीडिया में आने के बाद पुलिस ने एक आरोपी को मंगलवार के दिन ही गिरफ्तार कर लिया था.

मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस महकमे पर भी गाज़ गिरी है. अलवर सिटी के एसपी राजीव पचर को भी हटा दिया गया है. वहीं थानागाजी के एसएचओ और 4 पुलिसवालों को भी सस्पेंड कर दिया गया है.

आरोपी पति-पत्नी को बंधक बनाकर रेत के टीले के पास ले गए थे, फिर बारी बारी से उन्होंने महिला के साथ गैंगरेप किया था.
आरोपी पति-पत्नी को बंधक बनाकर रेत के टीले के पास ले गए थे, फिर बारी बारी से उन्होंने महिला के साथ गैंगरेप किया था.

अब इस मामले में 2 दिन के भीतर जितनी कार्रवाई हुई है, अगर ये मीडिया में नहीं उछलता, सरकार और पुलिस की थू-थू नहीं होती, तो शायद कोई कार्रवाई नहीं होती. या फिर शायद होती भी तो बहुत देर से होती.

PTI के मुताबिक 26 अप्रैल के दिन गैंगरेप की घटना घटने के बाद पीड़ित का पति सिटी एसपी के पास पहले शिकायत लेकर गया. जिसके बाद एसपी ने पीड़ित को थानागाज़ी के एसएचओ के पास भेजा. थानाध्यक्ष के पास पहुंचने पर उन्होंने शिकायत की कॉपी ली और पीड़ित के साथ क्राइम वाली जगह पर गए. पीड़ित के मुताबिक जब उन्होंने FIR लिखवानी चाही तो पुलिस वाले ने मना कर दिया. अगले दिन पीडित ने फिर से केस के बारे में अपडेट जाननी चाही तो पुलिस ने चुनाव का बहाना बना दिया. पीड़ित इस बात की शिकायत लेकर सिटी एसपी के पास गए. वहां भी उन्होंने यही कहा ‘चुनाव के बाद देखेंगे’.

26 अप्रैल की घटना के बाद पीड़िता ने 2 मई को मामला दर्ज करवाया, फिर भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की.
26 अप्रैल की घटना के बाद पीड़िता ने 2 मई को मामला दर्ज करवाया, फिर भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की.

पीड़ित के मुताबिक आरोपियों ने गैंगरेप का वीडियो वायरल करने की धमकी देकर पैसे मांगे, जिसके बाद 2 मई के दिन पुलिस ने FIR दर्ज की. हालंकि पुलिस ने FIR दर्ज करने के बाद भी त्वरित कार्रवाई नहीं की.

6 मई को वोटिंग खत्म होने के बाद 7 मई के सुबह ये खबर मीडिया में उछला. फिर लोग पुलिस और सरकार को घेरने लगे. मामला बहुत हाइप हुआ फिर राज्य के सीएम अशोक गहलोत और डीजीपी को भी मीडिया के सामने आना पड़ा. अशोक गहलोत ने आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने की बात की थी.

इस मामले में बीजेपी भी राज्य सरकार को घेर रही है. केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ बीजेपी के नेताओं के साथ जयपुर के कलेक्टर से मिलने पहुंचे. लेकिन कलेक्टर अपने दफ्तर में मौजूद नहीं थे.

ये घटना 26 अप्रैल की है. जब पति और पत्नी अलवर के लालवाड़ी से तालवृक्ष जा रहे थे. तभी रास्ते में 5 युवकों ने उन्हें रोका और पति काे बंधक बनाकर उन्होंने मारपीट की. फिर बदमाशों ने बारी-बारी से पति के सामने ही गैंगरेप किया. आरोपियों ने इस घटना का वीडियो भी बना लिया. फिर धमकी दी कि ‘अगर मुंह खोलोगो तो सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगे’. फिर इस मामले में 2 मई को एफआईआर दर्ज की गई. जिसके बाद आरोपियों ने 4 मई को वीडियो वायरल कर दिया.

7 मई को मामला उछलने के बाद देर शाम पहले आरोपी इंद्रराज की गिरफ्तारी हुई. पुलिस के मुताबिक वो 26 अप्रैल के दिन थानागाजी अपने ससुराल आया था. जहां उसके मुलाकात छोटेलाल, अशोक, हंसराज और महेश से हुई. जिसके बाद उन लोगों की नज़र पास से जा रही बाइक पर पड़ी, जिसपर पति पत्नी बैठ हुए थे. फिर पांचों ने मिलकर दंपति को रोक लिया और वारदात को अंजाम दिया.

इस मामले में वसुंधरा राजे ने भी ट्वीट किया:

सामूहिक दुष्कर्म की यह घटना प्रदेश के लिए बेहद शर्मनाक है. ऐसे जघन्य अपराध कांग्रेस सरकार के महिला और बेटियों को सुरक्षित माहौल देने के दावों की पोल खोल रहे हैं.

वसुंधरा राजे ने ट्वीट करते हुए राज्य सरकार पर निशाना साधा.
वसुंधरा राजे ने ट्वीट करते हुए राज्य सरकार पर निशाना साधा.

दूसरी तरफ राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घटना काे दुर्भाग्यपूर्ण बताया. साथ ही पीड़ित परिवार को राज्य सरकार की तरफ से 4 लाख 12 हजार रुपये की सहायता दी गई.


लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Rajasthan Police arrested the fifth accused in the Alwar gangrape case on Thursday

टॉप खबर

मदरसे में मिला देसी कट्टा, जानिए क्या होता था

और अफवाहों पर बवाल हो गया

बच्चों के बलात्कार पर अब होगी फांसी, मोदी सरकार का फैसला

बहुत दिनों से बात चल रही थी, अब काम होगा!

भाजपा विधायक की बेटी ने दलित से शादी की तो बाप ने मरवाने के लिए गुंडे भेज दिए!

पति और पत्नी भागे-भागे वीडियो बना रहे हैं.

एक महीने से छात्र धरने पर हैं, किसी को परवाह नहीं

ये खबर हर स्टूडेंट को पढ़नी चाहिए.

बजट में सरकार ने अमीरों पर बंपर टैक्स लगाया

पेट्रोल-डीज़ल पर एक रुपया अतिरिक्त लेगी सरकार.

राहुल गांधी के पत्र की चार ख़ास बातें, तीसरी वाली में सारे देश की दिलचस्पी है

आज राहुल गांधी ने आखिरकार इस्तीफा दे ही दिया.

आकाश विजयवर्गीय पर मोदी बहुत नाराज़ हुए, उतना ही जितना साध्वी प्रज्ञा पर हुए थे!

"अफ़सोस! दिल से माफ़ नहीं कर पाएंगे."

नुसरत जहां के खिलाफ़ जिस फतवे पर बवाल मचा, वैसा फ़तवा जारी ही नहीं हुआ

निखिल से शादी के बाद सिन्दूर-साड़ी में संसद पहुंची थीं नुसरत

क्या ज़ायरा ने इस्लाम के लिए फ़िल्म लाइन छोड़ दी?

जिन चीज़ों से रील लाइफ में लड़कर सुपर स्टार बनीं, निजी ज़िंदगी में वो लड़ाई ही छोड़ दी है.

मायावती ने गठबंधन क्या तोड़ा, खुद की लुटिया ही डुबो ली है

गठबंधन तोड़कर अखिलेश और माया चवन्नी भर सीटें भी नहीं जीत रहे हैं.