The Lallantop
Advertisement

"सिग्नल में..."- Kanchanjungha Rail Accident की वजह आई सामने, अधिकारी ने सब बता दिया!

Kanchenjunga Express Train Accident: पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में सोमवार 17 जून की सुबह एक मालगाड़ी और कंचनजंगा एक्सप्रेस में टक्कर हो गई. इस टक्कर में अबतक 9 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि इस ट्रेन एक्सीडेंट में 36 लोगों के घायल होने की भी खबर है.

Advertisement
Train accident in Bengal
पश्चिम बंगाल में ट्रेन हादसा (फोटो-PTI)
17 जून 2024 (Updated: 17 जून 2024, 14:38 IST)
Updated: 17 जून 2024 14:38 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में सोमवार  17 जून को एक मालगाड़ी ने कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन को टक्कर (Kanchanjungha Express Accident) मार दी. यह हादसा न्यू जलपाईगुड़ी के पास हुआ. इस टक्कर में कंचनजंगा एक्सप्रेस की कई बोगियां पटरी से उतर गईं. हादसे में अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है. घायलों की संख्या 36 बताई जा रही है. अब रेलवे ने इस हादसे की वजह बताई है.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि इस हादसे की वजह मालगाड़ी के चालक की सिग्नल को लेकर अनदेखी है. जिसकी वजह से मालगाड़ी, कंचनजंगा ट्रेन के पिछले हिस्से से टकरा गई. वहीं ये रूट ऑटोमैटिक सिग्नल प्रणाली से लैस है और काफी व्यस्त रहता है क्योंकि यहां एक साथ कई लाइनें गुजरती हैं, जिसकी वजह से ट्रेनों के टकराने का खतरा ज्यादा रहता है.

ये भी पढ़ें- बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन के पास ट्रेन हादसा, कंचनजंगा एक्सप्रेस की मालगाड़ी से टक्कर, 15 की मौत, 60 घायल

रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह हादसा सुबह करीब 11 बजे हुआ. हादसे के बाद इस रेल लाइन पर यातायात अस्थाई रूप से बाधित हो गया है. इसे देखते हुए रेलवे कर्मचारियों ने ट्रेन को पटरी पर लाने का काम शुरू कर दिया है.

प्रधानमंत्री कार्यालय ने घोषणा की है कि पश्चिम बंगाल में रेल दुर्घटना में मारे गए प्रत्येक व्यक्ति के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख रुपये की मदद दी जाएगी. और घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे.

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस रेल दुर्घटना में लोगों की मौत पर शोक व्यक्त किया और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की. प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘X’ पर एक पोस्ट किया, 

‘पश्चिम बंगाल में हुई रेल दुर्घटना दुःखद है. उन सभी लोगों के प्रति मेरी संवेदना है जिन्होंने इस हादसे में अपने प्रियजनों को खो दिया है. मैं घायलों के जल्द से स्वस्थ होने की कामना करता हूं. मैंने इस हादसे पर अधिकारियों से बात की और स्थिति का जायजा लिया. प्रभावितों की सहायता के लिए बचाव अभियान जारी है. रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव जी भी दुर्घटनास्थल पर जा रहे हैं.’

इस हादसे के बाद यात्रियों की मदद के लिए सियालदह स्टेशन पर एक विशेष हेल्पलाइन बूथ बनाया गया है. हेल्पलाइन नंबर हैं:- 03323508794, 033-23833326. घटना के बारे में जानकारी या सहायता चाहने वाले यात्री इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं.

यात्रियों की सहायता के लिए नैहाटी स्टेशन पर एक और हेल्प डेस्क बनाई जा रही है. नैहाटी का हेल्पलाइन नंबर हैं:- रेलवे नंबर 39222, BSNL नंबर 033-25812128 

वीडियो: अखिलेश या योगी उप चुनाव में किसका पलड़ा भारी?

thumbnail

Advertisement

Advertisement