The Lallantop
Advertisement

NEET पेपर लीक: गोधरा सेंटर में हुआ बड़ा खेल? बिहारी, मराठी कैंडिडेट्स से कहा गया, 'गुजराती चुनो'

NEET Paper Leak: नीट पेपर लीक केस में आज सुनवाई होनी थी. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई को 18 जुलाई के लिए स्थगित कर दिया है. कोर्ट का कहना है कि केंद्र सरकार और NTA द्वारा दायर हलफनामे कुछ पक्षकारों को नहीं मिले हैं. ऐसे में मामले की सुनवाई अब अगले गुरुवार को होगी.

Advertisement
REPRESENTATIONAL PHOTO
NEET UG पेपर लीक का खेल क्या है? (प्रतीकात्मक तस्वीर.)
11 जुलाई 2024
Updated: 11 जुलाई 2024 15:51 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

गुजरात के गोधरा में NEET UG एग्जाम में हुई कथित धांधली को लेकर CBI ने बड़े खुलासे किए हैं. जांच एजेंसी ने गोधरा से आरोपियों की कस्टडी लेते वक्त गुजरात के एक कोर्ट को बताया कि अब जांच का रुख देशव्यापी नेटवर्क की तरफ रहेगा, क्योंकि पुलिस जांच में पता चला है कि गोधरा परीक्षा सेंटर पर हुई धांधली के तार अन्य राज्यों के साथ जुड़े हुए हैं.

ये भी पढ़ें - NEET UG एग्जाम फिर से होगा? NTA और सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को साफ-साफ बता दिया!

इंडिया टुडे के ब्रजेश दोशी की रिपोर्ट के मुताबिक, CBI ने कहा कि पुलिस जांच में यह सामने आया है कि गोधरा के दोनों परीक्षा केंद्रों का कंट्रोल एक ही संचालक के पास था. संचालक ने कथित तौर पर गोधरा का एग्जाम सेंटर चुनने वाले ओडिशा, बिहार, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के परीक्षार्थियों को परीक्षा की भाषा गुजराती पसंद करने को कहा था. ऐसा कथित तौर पर परीक्षा में बैठे गुजराती परीक्षार्थिओं की मदद के लिए किया गया था, ताकि वे अपनी उत्तर पुस्तिकाएं भर सकें.

दूसरे राज्यों के परीक्षार्थिओं को आरोपियों ने अलग-अलग लिंक से संपर्क किया था. आरोपियों ने इन परीक्षार्थिओं को अपना मौजूदा एड्रेस पंचमहल या वडोदरा दिखाने के लिए भी कहा था. CBI ने कोर्ट को बताया कि आरोपी इन अभ्यर्थियों तक कैसे पहुंचे इसकी जांच का दायरा बहुत बड़ा है. इस दौरान CBI ने गुजरात के साथ अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी कर जानकारी हासिल की. अभी CBI ने 6 में से पांच आरोपियों को कस्टडी में लिया हुआ है और आगे की जांच चल रही है.

इनमें जय जलाराम स्कूल का संचालक दीक्षित पटेल भी शामिल हैं. उनसे भी पूछताछ की जा रही है. जय जलाराम स्कूल NEET UG परीक्षा का केंद्र था. वहीं स्कूल का संचालक दीक्षित पटेल, जिन्हें 30 जून को उनके आवास से गिरफ्तार किया गया था, पर आरोप है कि उन्होंने NEET UG परीक्षा पास कराने के लिए प्रत्येक छात्र से 10 लाख रुपये की मांग की थी.

कहा जा रहा है कि आगे की जांच में अंतर्राज्य गिरोह या फिर बड़े षड्यंत्र के बारे में जानकारी सामने आ सकती है. क्योंकि यह एक से ज्यादा राज्यों के साथ जुड़ा हुआ मामला दिख रहा है. पिछले महीने गुजरात पुलिस से मामले की जांच अपने हाथ में लेने वाली CBI अब एक बड़ी साजिश के तहत "अंतर्राज्यीय संबंधों" का पता लगा रही है.

इस बीच, सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार 11 जुलाई को NEET UG परीक्षा रद्द करने की मांग वाली याचिकाओं की सुनवाई 18 जुलाई तक के लिए स्थगित कर दी है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले के कुछ पक्षकारों को केंद्र और NTA द्वारा दायर हलफनामे नहीं मिले हैं और उन्हें बहस से पहले अपने जवाब तैयार करने की जरूरत है, इसलिए सुनवाई टाली गई है. NEET UG कथित पेपर लीक मामले में NTA ने आज सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया था. वहीं, आज ही सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार की ओर से भी हलफनामा दायर कर दिया गया है.

वीडियो: NEET 'पेपर लीक' मामले में NTA, CBI और केंद्र सरकार से सुप्रीम कोर्ट के सवाल

thumbnail

Advertisement

Advertisement