Submit your post

Follow Us

पहले दो बच्चों और खरगोश को मारा, फिर 'दो पत्नियों' के साथ 8वीं मंजिल से कूदकर जान दे दी

5
शेयर्स

दिल्ली से सटे गाजियाबाद में एक इलाका है इंदिरापुरम. 3 दिसंबर की सुबह करीब 5.15 पर यहां रहने वाले एक परिवार ने सुसाइड कर लिया. वैभव खंड स्थित कृष्णा सफायर नाम की सोसायटी की 8वीं मंजिल से तीन लोगों ने छलांग लगाई. मौके पर ही एक आदमी और एक औरत की मौत हो गई. वहीं एक दूसरी औरत बुरी तरह घायल हो गई थी.

सुबह-सुबह इंदिरापुरम पुलिस को कृष्णा सफायर सोसायटी में रहने वाले लोगों का कॉल आया. लोगों ने जानकारी दी कि तीन लोगों ने 8वीं मंजिल से कूदकर सुसाइड कर लिया है. पुलिस मौके पर पहुंची. छानबीन शुरू की. मौके पर जिन दो लोगों की मौत हुई थी, उनके शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेजा गया. वहीं गंभीर रूप से घायल औरत को अस्पताल में भर्ती कराया गया. बाद में उस औरत की भी मौत हो गई.

पुलिस ने मृत परिवार के फ्लैट का दरवाजा तोड़ा. तब देखा कि अंदर दो बच्चों के शव बिस्तर पर पड़े हुए थे. एक शव 13 साल के लड़के का था, दूसरा शव 17 साल की लड़की का था. इसके अलावा घर का पेट खरगोश भी मरा हुआ मिला.

कौन हैं मरने वाले लोग?

मृतकों की पहचान वासुदेव फैमिली के तौर पर हुई है. आदमी का नाम गुलशन वासुदेव था. दोनों औरतों को लेकर दो तरह की बातें अभी तक सामने आई हैं. पहली ये कि दोनों ही औरतें गुलशन की पत्नियां थीं. वहीं दूसरी बात ये कही जा रही है कि एक औरत पत्नी थी, जबकि दूसरी औरत, जिसका नाम संजना था, वो गुलशन के साथ काम करती थी. उसकी कंपनी की मैनेजर थी. दोनों बच्चे गुलशन के ही थे.

Indirapuram Murder Case
सफेद बोर्ड पर लिखा मैसेज. राकेश वर्मा को मौत का जिम्मेदार बताया गया है. फोटो- चिराग गोठी.

क्यों की आत्महत्या?

पुलिस को घर के अंदर से एक सुसाइड नोट भी मिला, जिससे पता चला कि सुसाइड की वजह आर्थिक तंगी थी. छानबीन में पता चला है कि गुलशन की जीन्स की फैक्ट्री थी, जिसमें उसे घाटा हो गया था. इसके अलावा राकेश वर्मा नाम के एक रिश्तेदार के साथ 2 करोड़ रुपए को लेकर कुछ विवाद भी चल रहा था. ये कहा जा रहा है कि गुलशन ने राकेश को 2 करोड़ रुपए दिए थे, लेकिन वो पैसे वापस नहीं कर रहा था. जो चेक राकेश ने दिए थे, वो भी बाउंस हो गए थे. इन सब दिक्कतों से तंग आकर गुलशन ने पहले अपने दोनों बच्चों को गला घोंटकर मार डाला. फिर पालतू खरगोश को मारा. और फिर अपनी पत्नी और संजना के साथ 8वीं मंजिल से कूदकर जान दे दी.

फ्लैट के अंदर दीवारों पर 500 के कई सारे नोट भी चिपके हुए थे. साथ ही एक सफेद बोर्ड में भी कुछ मैसेज लिखे गए थे. कहा गया था कि इन्हीं पैसों से उनकी लाशों का अंतिम संस्कार किया जाए और सभी लाशों को एकसाथ जलाया जाए. इसके अलावा लिखा है, ‘हमारी मौत का जिम्मेदार ये है- राकेश शर्मा.’

पुलिस को ये भी पता चला है कि घर में आए दिन झगड़ा भी होता रहता था. अभी इस मामले की दो-तीन एंगल्स से जांच हो रही है. एक तो आर्थिक तंगी वाले एंगल से, दूसरा घरेलू झगड़े के एंगल से भी. एक और बात वासुदेव परिवार करीब डेढ़ महीने पहले ही कृष्णा सफायर सोसायटी में रहने आया था.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

मुजफ्फरनगर: मिड डे मील में परोस दिया चूहे वाला खाना, उसे खाकर 9 बच्चे बीमार हो गए

जब तक चूहे का पता चला तब तक 9 बच्चे खाना खा चुके थे.

भारत की मेल-फीमेल दोनों टीमों ने बैडमिंटन में कमाल कर डाला है

साउथ एशियन गेम्स में बल्ले-बल्ले.

क्रिस्टियानो रोनाल्डो को पछाड़कर लियोनल मेसी ने ये सबसे बड़ा अवॉर्ड जीत लिया

फुटबॉल में इस अवॉर्ड से बड़ा कुछ नहीं है.

हैदराबाद रेप और हत्या मामले पर निर्भया की मां की बात भी सुनिए

अपनी बात करते हुए अपने संघर्षों को याद किया.

शरद पवार ने बताया, बीजेपी को सपोर्ट करने के लिए मोदी ने ये बड़ा लालच दिया था

अजित के अलग होने से पहले शरद पवार मोदी से मिले थे.

नेताओं के वीडियो जारी करने वाले जीतू सोनी के डांस बार से 67 औरतें छुड़ाई गईं

मामला मध्य प्रदेश के हनी ट्रैप केस से जुड़ा है.

डेविड वॉर्नर को लगता है कि सिर्फ ये भारतीय प्लेयर ही लारा का 400 रनों का रिकॉर्ड तोड़ सकता है

खुद डेविड वॉर्नर के पास मौक़ा आया था लेकिन कप्तान ने पारी घोषित कर दी.

धोनी की वापसी होगी या नहीं? गांगुली बोल रहे, उन्हीं से पूछ लो

महेंद्र सिंह धोनी की वापसी पर कुछ भी साफ नहीं लग रहा.

13 गेंदें फेंकी, छह विकेट लिए और रन दिए ज़ीरो

ऐसी गेंदबाज़ी तो गेंदबाज़ का सपना हुआ करती है.

डेविड वॉर्नर के 335 रनों के पीछे इस भारतीय क्रिकेटर का गुरुमंत्र था

नाम जानकर बिल्कुल भी नहीं चौंकेंगे आप.