Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

हत्यारी भीड़ के हाथों मारे गए SHO सुबोध के बेटे की बात सुनने के लिए हिम्मत चाहिए

11.61 K
शेयर्स

3 दिसंबर बुलंदशहर के लिए बहुत बुरा रहा. न सिर्फ शहर के लिए, पूरे देश के लिए. वहां हत्यारी भीड़ ने एक दारोगा की जान ले ली. पहले गोली मारी. फिर पीटा और गोली मारी. स्याना थाना के SHO थे सुबोध कुमार सिंह. अब वो नहीं हैं, पीछे सिर्फ परिवार बचा है. सुबोध के बेटे अभिषेक की बातें सुनिए. फिर अपने को उसके साथ खड़ा कीजिए. बदन में झुरझुरी दौड़ जाएगी.

“मेरे पिता चाहते थे कि मैं देश का अच्छा नागरिक बनूं. ऐसा इंसान, जो धर्म के नाम पर समाज में हिंसा न भड़काए. आज हिंदू-मुस्लिम विवाद में मेरे पिता की जान गई. कल किसके पिता को अपनी जान गंवानी पड़ेगी?”

कल से ही खबरों और खबरों के भेस में अफवाहों का दौर जारी है. कुछ जहरीले लोग पुलिस के खंडन करने के बावजूद बेशर्मी से अफवाह फैला रहे हैं. अभिषेक को उसके पिता ने ऐसा नागरिक बनाने की सोची जो धर्म के नाम पर हिंसा में न लिप्त हो. हर मां बाप की तरह वो भी उसको अच्छा इंसान बनाना चाहते थे. उसे पिता की सीख जिंदगी भर याद रह जाएगी.

पत्नी के साथ सुबोध
पत्नी के साथ सुबोध

अभिषेक का एक और भाई है. श्रेय सिंह नाम है उसका. पूरे परिवार का बुरा हाल है. सुबोध कुमार की बहन का बयान भी सामने आया है. उन्होंने उल्टा पुलिस पर ही कॉन्स्पिरेसी का आरोप लगाया है. उनका कहना है- मेरा भाई अखलाक केस की जांच में था, इसलिए उनको मारा गया. ये पुलिस के द्वारा की गई साजिश है. उनको शहीद घोषित करना चाहिए और मेमोरियल बनना चाहिए. हमको पैसे नहीं चाहिए. सीएम सिर्फ गाय गाय करते रहते हैं.

याद कर लीजिए कि तीन साल पहले बिसाहड़ा में भी गाय को लेकर लिंचिंग हुई थी. अखलाक नाम के आदमी को भीड़ ने मार डाला था. अखलाक केस में सुबोध कुमार सिंह जांच अधिकारी थे. शुरुआती तीन महीनों तक. 28 सितंबर से 9 नवंबर 2015 तक. उन्होंने काफी सुबूत जुटा लिए थे. अखलाक के फ्रिज में गोमांस था या नहीं, इस दिशा में जांच महत्वपूर्ण मोड़ पर थी. उसी दौरान उनका तबादला वाराणसी कर दिया गया था. जांच में पारदर्शिता न बरतने का आरोप लगाकर. वो चार्जशीट में गवाह नंबर 7 थे. बुलंदशहर में हिंसा और SHO के मर्डर से संबंधित पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए.


 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Bulandshahr: Son of deceased policeman Subodh Kumar Singh says, my father lost his life in Hindu Muslim dispute

क्या चल रहा है?

बुलंदशहर में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध के पिता भी हुए थे शहीद

सुबोध के पिता भी पुलिस फोर्स में थे. डकैतों से मुठभेड़ में उन्हें गोली लगी. उन्हीं की जगह सुबोध को नौकरी मिली.

क्या बुलंदशहर में बड़े दंगे की तैयारी में खेत में टांगा गया था गोमांस?

तहसीलदार के मुताबिक, गोकशी करने वाला कोई आदमी इस तरह चमड़ी और सिर नहीं टांगेगा.

कौन है बुलंदशहर में दरोगा सुबोध के कत्ल वाली घटना का मुख्य आरोपी योगेश राज

इस घटना के कई आरोपी बजरंगदल, वीएचपी आदि संगठनों से जुड़े बताए जा रहे हैं...

बिग बॉस 12: जसलीन क्यों दे रही हैं घरवालों को भद्दी गालियां?

अनूप जलोटा के जाने के बाद पहली बार इतनी खुलकर सामने आई हैं जसलीन.

रजनीकांत और अक्षय कुमार की फिल्म '2.0' ने इतने पैसे कमा लिए हैं

'बधाई हो' की कमाई जहां अब भी ज़ारी है, वहीं 'ठग्स ऑफ हिन्दोस्तां' का बंडल बंध गया है.

बिग बॉस 12: एक लड़की को बहुत गंदी बात कहने के लिए सलमान खान ने श्रीसंत को लताड़ दिया

इसके बाद सलमान से भी बद्तमीज़ी कर बैठे श्रीसंत.

तेल के बढ़ते दामों पर फ्रांस में हिंसक प्रदर्शन, इमरजेंसी जैसे हालात

ग्लोबल लेवल पर कीमतें कम होने पर भी फ्रांस में कीमतें कम नहीं हुईं, टैक्स बढ़ा दिया.

बीजेपी कैंडिडेट लोगों के चूल्हे तक पहुंच गए, लोगों ने पूछ लिया उज्ज्वला योजना कहां है

वोट पाने के लिए रोटियां सेंकनी पड़ रही हैं.

शाहिद अफरीदी के हाथ में बल्ला आया और 14 गेंदों पर 51 रन टंग गए

वहाब रियाज़ की चार गेंदों पर चार छक्के भी मारे.