Submit your post

Follow Us

सिद्धू पर छित्तर फेंकने वाली महिला ने बताया कि इसके पीछे कौन सी 'प्रेरणा' रही थी

201
शेयर्स

भारत में चुनाव होते हैं. होते ही रहते हैं. चुनाव हैं तो जनता है, जनता है तो नेता हैं, नेता हैं तो भाषण हैं, भाषण हैं तो कालीन है, कालीन है तो पैर हैं, पैर हैं तो…

थोड़ा लॉजिक आप लगा लो. यूं जूते-चप्पल आजकल हो गए हैं मल्टी-टास्किंग. पांव में होने के अलावा अब जूते-चप्पल और कई जगह पाए जाते हैं. पैरों में पाया जाना उनका साइड बिज़नेस हो गया है. वो इवॉल्व हुए हैं. डार्विन मुस्कुरा रहे हैं, नेता घबरा रहे हैं…

# अब कहां चल गया?

हरियाणा में रोहतक है. वहां भी चुनाव है. और सबसे ऊपर वाले पैरा का सारा प्रोसेस वहां भी होता है. मतलब भाषण वगैरह. तो रोहतक से चुनाव लड़ रहे हैं कांग्रेस के दीपेंद्र सिंह हुड्डा. पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंदर सिंह हुड्डा के बेटे हैं. उन्हीं के लिए प्रचार करने गए थे नवजोत सिंह सिद्धू. अपना भाषण दे ही रहे थे कि ANI के अनुसार वहां खड़ी एक महिला ने उनपर चप्पल चला दी. महिला को पुलिस पकड़कर थाने ले गई.

लोग भी अजीब हैं, बात का जवाब बात से ही दिया जाता है न. जूता वूता काहे भाई?
लोग भी अजीब हैं, बात का जवाब बात से ही दिया जाता है न. जूता वूता काहे भाई?

# आखिर ऐसा किया ही क्यों?

छित्तर चलाने वाली महिला के अपने ही लॉजिक हैं. लोग बता रहे हैं कि महिला सिद्धू से नाराज़ थी. क्यों थी? क्योंकि उसके हिसाब से सिद्धू जब बीजेपी में थे तो कांग्रेस को गरियाते थे, और अब कांग्रेस में हैं तो बीजेपी की ऐसी-तैसी करते हैं.

उधर सोशल मीडिया पर इस घटना की अलग ही मौज ली जा रही है. लोग कह रहे हैं ‘निशाना चूक गई इसलिए जेल हुई’

कसम से लोग बहुत ज़्यादा खलिहर बैठे हैं अपने यहां इंडिया में
कसम से लोग बहुत ज़्यादा खलिहर बैठे हैं अपने यहां इंडिया में

ख़ैर कहने वालों को रोक ही कौन सकता है. जिसके मन में जो आया बोल दिया. बाकी बचा काम सोशल मीडिया करता ही है. लेकिन सिद्धू पर ही क्यों. किसी पर भी कहीं भी जूता चप्पल क्यों चले भाई ? आप पूछ सकते हैं तो अच्छा सवाल पूछिए. दरवाज़े पर प्रोडक्ट बेचने आए सेल्समैन को चप्पल मार देते हैं क्या? नहीं न. तो सवाल पूछिए सवाल. उसी से बात बनेगी. अच्छा और काम का प्रोडक्ट तभी मिलेगा.

# चुनाव में चलते जूते-चप्पल

मज़ेदार टाइटल है न? फ़र्ज़ कीजिए कल को कोई ब्रांड आ जाए. रिलेक्सो की जगह इलेक्सो. टैगलाइन क्या होगी? ‘एक शॉट, मामला हॉट’ टाइप की. जिस तरह से इस ख़ास काम के लिए जूते-चप्पल का अब इस्तेमाल होने लगा है. उससे एक चीज़ तो साफ़ है कि बस किसी कारोबारी की समझ में आ जाए.

लेकिन फिर भी हमें लगता है कि विरोध का ये तरीका हिंसक, गैर कानूनी, गैर नैतिक है. और चूंकि कानून को आप अपनी तरफ आकृष्ट कर रहे हैं तो गौर-क़ानूनी भी कहा जा सकता है. इसलिए एडवाइज़ तो यही रहेगी कि चप्पल को चप्पल रहने दो, उससे कोई (और) काम न लो.


वीडियो देखें: प्रयागराज में लोग बोले- गंगा सफाई पर दर्शन कम प्रदर्शन ज्यादा, कोई बोला कभी नहीं साफ़ होंगी गंगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
A woman in Rohtak was detained allegedly for attempting to throw slipper at Punjab Minister Navjot Singh Sidhu during a public meeting

टॉप खबर

ड्यूटी पर लौटे विंग कमांडर अभिनंदन के साथियों का जोश देख आप भी खुश हो जाएंगे

अभिनंदन ने एक मैसेज भी दिया है.

सनी देओल ने 'ढाई किलो का हाथ' वाला डायलॉग मारा, कर्नल राठौड़ ने 'निशाना' कांग्रेस की ओर मोड़ दिया

राजस्थान के रोड शो में सनी को देखने के लिए 'बेताब' लोगों ने 'गदर' मचा रक्खा था, लेकिन सनी पाजी 'बॉर्डर' क्रॉस करके यूपी चले गए.

राहुल गांधी के पूर्व बिजनेस पार्टनर को कांग्रेस के वक्त मिला था डिफेंस ऑफसेट कॉन्ट्रेक्ट!

रफाल पर मोदी सरकार को घेर रहे थे, खुद वैसे ही आरोपों में घिर गए हैं.

499 नंबर पाकर हंसिका और करिश्मा ने CBSE टॉप किया

मेरिट लिस्ट में पहली पांच टॉपर लड़कियां हैं!

मसूद अज़हर के अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित होने से भारत को क्या फर्क पड़ेगा?

हर बार चीन रोक लगा देता था, इस बार चीन ने भी समर्थन कर दिया.

भारतीय आर्मी ने जिस 'हिम मानव' के पैर की तस्वीरें जारी की थी, उसके अब और कई फोटो आए हैं

नई तस्वीरों में हिम मानव के पैरों के निशान की लंबाई नापी जा रही है.

दिल्ली में कॉन्स्टेबल ने ट्रेन के नीचे कुचलने से महिलाओं-बच्चों को बचाया, लेकिन खुद नहीं बच पाया

ट्रैक पर एक नहीं बल्कि दोनों तरफ से ट्रेन आ रही थी.

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने यौन उत्पीड़न के आरोपों के जवाब में ये 9 बातें बोलीं

एक महिला के गंभीर आरोपों को लेकर हुई सुनवाई में तीन जजों की बेंच ने एक बहुत बड़ा दावा किया.

BJP प्रवक्ता पर जूता फेंकने वाला क्यों नाराज था, 2 दिन पहले की 4 FB पोस्ट से पता चला

खुद आयकर के चंगुल में फंसा है जूता फेंकने वाला शक्ति भार्गव.

BJP प्रवक्ता पर जूते से हमला करने वाला कानपुर का बहुत नामी आदमी है

450 करोड़ की प्रॉपटी 11.5 करोड़ में खरीद चुका है!