Submit your post

Follow Us

'जुरासिक पार्क' जैसी मूवी के डायरेक्टर ने सत्यजीत राय की कहानी कॉपी करके झूठ बोला!

महान फिल्मकार राय आज 2 मई 1921 के दिन जन्मे थे. उन्हें इस किस्से से याद कर रहे हैं जिसे पढ़कर संभवतः नई पीढ़ी को बहुत अचरज होगा.

918
शेयर्स

बड़े डायरेक्टर स्टीवन स्पीलबर्ग को उनकी फिल्म ‘ई.टी. द एक्स्ट्रा टेरेस्ट्रियल’ (1982) की वजह से ख़ूब जाना जाता है. ये मूवी कई बरसों तक सबसे ज्यादा कमाई करने वाली अमेरिकन फिल्म रही. कहानी इलियट नाम के बच्चे और दूसरे ग्रह से पृथ्वी पर आए एक जीव की दोस्ती की थी. स्पीलबर्ग की ये फिल्म सत्यजीत राय की स्क्रिप्ट ‘द एलियन’ से प्रेरित/नकल थी.

राय ने 1962 में अपनी बाल पत्रिका ‘संदेश’ में एक लघु कहानी लिखी थी – ‘बांकूबाबूर बंधू’. इसमें बंगाल के एक छोटे से गांव में तालाब के पास एक परग्रही विमान प्रकट होता है. चावल की फसल एकाएक पक जाती है. लोग इसे चमत्कार मानते हैं. स्पेसशिप को मंदिर समझकर पूजने लगते हैं. स्पेसशिप के साथ एक एलियन भी आया होता है जिसकी अपनी कुछ विशेषताएं हैं. वो हंसी-मज़ाक करने वाला जीव है. बाद में वो और गांव का भोला बच्चा हबा मिलते हैं. राय ने 1967 में इस कहानी को फिल्म स्क्रिप्ट में तब्दील करना शुरू किया.

सत्यजीत राय की लघु कथा 'बांकूबाबूर बंधू' का इलस्ट्रेशन जिसमें वो एलियन दिख रहा है. (फोटोः हार्पर कॉलिन्स, ट्रवेल्स विद द एलियन का कवर)
सत्यजीत राय की लघु कथा ‘बांकूबाबूर बंधू’ का इलस्ट्रेशन जिसमें वो एलियन दिख रहा है. (फोटोः हार्पर कॉलिन्स, ट्रवेल्स विद द एलियन का कवर)

‘द एलियन’ नाम के इस साइंस-फिक्शन प्रोजेक्ट को हॉलीवुड स्टूडियो कोलंबिया पिक्चर्स प्रोड्यूस कर रहा था. मार्लन ब्रांडो और पीटर सेलर्स जैसे टॉप स्टार शुरुआती बातचीत में फिल्म करने की रुचि दिखा चुके थे. लेकिन राय के साथ अमेरिका में उनके एजेंट माइक विल्सन ने धोखा कर दिया. राय ने भूलवश इस स्क्रिप्ट को कलकत्ता में रजिस्टर नहीं करवाया था और विल्सन ने अमेरिका में इस स्क्रिप्ट को कॉपीराइट करवा लिया. इसके राइटर्स में पहला नाम अपना और दूसरा राय का दर्ज करवाया. जबकि स्क्रिप्ट पूरी तरह राय की थी. उसने ख़ुद को एसोसिएट प्रोड्यूसर बना दिया और राय से मंजूरी भी नहीं ली. कोलंबिया से पैसा ले लिया जिसकी झलक भी राय को नहीं दिखाई. इस धोखेबाज़ी से राय बहुत दुखी हो गए और भारत लौट आए.

बाद में राय ने कहा था – “अगर मुझे इस आदमी ने धोखा न दिया होता और ये वाकया न हुआ होता तो मैंने अमेरिका में अपनी तरह की पहली साइंस फिक्शन फिल्म बनाई होती.”

मार्लन ब्रांडो और पीटर सेलर्स के साथ सत्यजीत राय.
मार्लन ब्रांडो और पीटर सेलर्स के साथ सत्यजीत राय.

कुछ बरसों बाद स्पीलबर्ग की ‘ई.टी.’ रिलीज हुई और उसमें राय की ‘द एलियन’ से चौंकाने वाली समानताएं थीं. राय ऐसे आदमी नहीं थे जो खिच-खिच करते. उन्होंने गरिमामय शब्दों में इतना ही कहा कि “स्पीलबर्ग की ये फिल्म संभव नहीं होती अगर मेरी फिल्म द एलियन की स्क्रिप्ट की कॉपियां पूरे अमेरिका में मौजूद न होती.” स्पीलबर्ग ने बाद में कहा कि “राय से जाकर कोई कहे जब उनकी फिल्म की स्क्रिप्ट हॉलीवुड में वितरित की जा रही थी तब मैं हाई स्कूल में था.” हालांकि स्पीलबर्ग की ये बात झूठ थी.

जब राय हॉलीवुड में आकर अपनी फिल्म पर काम कर रहे थे तब तक स्पीलबर्ग हाई स्कूल से निकल चुके थे और कई छोटी नौसिखिया फिल्में भी बना चुके थे. यहां तक कि उसी साल 1967 में वे अपनी शॉर्ट फिल्म ‘एंबलिन’ पर भी काम कर रहे थे जो अगले साल रिलीज हुई.

दूसरा ये कि 1977 में आई स्पीलबर्ग की एलियन मूवी ‘क्लोज़ एनकाउंटर्स ऑफ द थर्ड काइंड’ उसी कोलंबिया पिक्चर्स ने वितरित की थी जिसके पास राय की ‘द एलियन’ की स्क्रिप्ट थी. बाद में जब उन्होंने ‘ई.टी.’ बनानी शुरू की तो शुरू में पैसा कोलंबिया ने ही दिया था. बाद में यूनिवर्सल पिक्चर्स इस फिल्म से जुड़ा.

'ई.टी.' के एक दृश्य में दोनों मुख्य किरदार, वो बच्चा और एलियन.
‘ई.टी.’ के एक दृश्य में दोनों मुख्य किरदार, वो बच्चा और एलियन.

राय की ‘द एलियन’ से पहले हॉलीवुड में एलियन्स को आक्रामक जीवों के तौर पर चित्रित किया जाता था. ये राय की कहानी थी जिसने उसे एक दोस्त और प्यारे प्राणी की तरह ट्रीट किया.

स्पीलबर्ग की फिल्म के एलियन और बच्चे के किरदार की, राय की स्क्रिप्ट के पात्रों से बहुत समानताएं हैं जो स्वतंत्र रूप से दो अलग-अलग दिमागों में नहीं पैदा हो सकतीं.

वे ख़ुद न भी मानें तो उनके समकालीन डायरेक्टर मार्टिन स्कॉरसेज़ी ने भी पुष्ट किया कि स्पीलबर्ग की फिल्म राय की ‘द एलियन’ से ही प्रेरित थी. उन्होंने कहा था – “मुझे ये कहने में कोई डर नहीं है कि स्पीलबर्ग की ईटी, राय की एलियन से ही प्रेरित थी.”

‘गांधी’ (1982) के डायरेक्टर सर रिचर्ड एटनबरो ने भी कहा था कि इस हॉलीवुड फिल्म की प्रेरणा सत्यजीत राय ही थे.

स्टैनली कुबरिक की 1968 में आई महान फिल्म ‘2001ः अ स्पेस ऑडिसी’ के राइटर आर्थर सी. क्लार्क तब से राय के संपर्क में थे जब उन्होंने ‘बांकूबाबूर बंधू’ लिखी थी. बाद में जब राय ने इच्छा जताई कि वे हॉलीवुड जाकर एक साइंस फिक्शन फिल्म बनाना चाहते हैं तो उन्हें एजेंट से उन्होंने ही मिलवाया. बाद में एजेंट बदमाशी कर गया लेकिन आर्थर का इरादा ये नहीं था. वे हर स्टेज पर राय की इस कहानी से वाकिफ थे. जब ‘ई.टी.’ रिलीज हुई तो उन्होंने राय की स्क्रिप्ट से इसकी समनाताएं गिनाई थीं.

सत्यजीत राय द्वारा स्कैच किया हुआ उनका एलियन.
सत्यजीत राय द्वारा स्कैच किया हुआ उनका एलियन.

ख़ैर, राय ने स्पीलबर्ग के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया और न ही उन्हें अपमानित करने की कोशिश की. बल्कि अंत में जाकर तारीफ करते हुए ये अध्याय बंद कर दिया. राय ने उनके बारे में कहा, “मेरे एलियन का लुक ज्यादा रोचक था. उसकी आंखें नहीं थी, सिर्फ गोले थे. वो भारहीन होकर चलता था. उसमें एक सेंस ऑफ ह्यूमर था. वो खिलंदड़ था. उसमें ज्यादा फैंटेसी थी. ख़ैर, स्पीलबर्ग की फिल्म में बच्चे अनूठे हैं. स्पीलबर्ग में वाकई ये टैलेंट है. मुझे नहीं पता मैं इतने अच्छे से कर पाता या नहीं.”

राय की एलियन वाली कहानी से ऋतिक रोशन और राकेश रोशन का भी लिंक है. डायरेक्टर राकेश रोशन ने 2003 में एक एलियन की कहानी पर ‘कोई मिल गया’ बनाई थी. ऋतिक स्टारर ये फिल्म बाद में ‘कृष सीरीज’ में तब्दील हो गई. इसे स्टीवन स्पीलबर्ग की फिल्म ‘ई.टी.’ की नकल बताया जाता रहा है. लेकिन असल में ये फिल्म सत्यजीत राय की ‘द एलियन’ के ज्यादा करीब है. इन दोनों की कहानियों में समानताएं ज्यादा हैं. मसलन, दोनों में एलियन का दोस्त बनने वाले लड़के भोले होते हैं.

Also Read:
सत्यजीत राय के 32 किस्से : इनकी फ़िल्में नहीं देखी मतलब चांद और सूरज नहीं देखे
इस फिल्म को बनाने के दौरान मौत शाहरुख ख़ान को छूकर निकली थी!
‘ओमेर्टा’ की 15 बातें: हंसल मेहता की ये फिल्म देखकर लोग बहुत गुस्सा हो जाएंगे
अमरीश पुरी के 18 किस्से: जिनने स्टीवन स्पीलबर्ग को मना कर दिया था!
बलराज साहनी की 4 फेवरेट फिल्में : खुद उन्हीं के शब्दों में
‘भावेश जोशी सुपरहीरो’ का टीज़र आ गया हैः इस साल की मस्ट वॉच फिल्मों में है

(This story first published on April 24, 2018.)
लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

ऐसे ही चला तो नरेंद्र मोदी की कविता वाली किताब के साथ ये 9 किताबें भी बैन हो जाएंगी!

हाईकोर्ट में War and Peace पर जताई गई आपत्ति, इस अर्टिकल की तरह ही दिलचस्प है.

IMPACT FEATURE: लीक से हट कर 6 करियर ऑप्शन्स जो आपकी लाइफ़ लल्लनटॉप बना देंगे

डॉक्टर, इंजीनियर, IAS बनने के अलावा भी बहुत ऑप्शंस हैं.

भगवान विष्णु से प्रेरित रितेश देशमुख का ये बौना कैरेक्टर आपके दिमाग के परखच्चे उड़ा देगा

फिल्म 'मरजावां' के शुरुआती पोस्टर्स आपका ध्यान अपनी ओर खींच के ही छोड़ेंगे.

काटने वाले सांप से उसका ज़हर वापस चुसवाने जैसे रामबाण फ़िल्मी इलाज

मेडिकल साइंस से आगे एक दुनिया है, जिसे बॉलीवुड कहते हैं.

वॉर का ट्रेलर: अगर ये फिल्म चली तो बॉलीवुड की 'बाहुबली' बन जाएगी

ऋतिक रोशन और टाइगर श्रॉफ का ये ट्रेलर आप 10 बारी देखेंगे!

इस टीज़र में आयुष्मान ने वो कर दिया जो सलमान, शाहरुख़ करने से पहले 100 बार सोचते

फिल्म 'बाला' का ये एक मिनट का टीज़र आपको फुल मज़ा देगा.

'इतना सन्नाटा क्यों है भाई' कहने वाले 'शोले' के रहीम चाचा अपनी जवानी में दिखते कैसे थे?

जिस आदमी को सिनेमा के परदे पर हमेशा बूढा देखा वो अपनी जवानी के दौर में राज कपूर से ज्यादा खूबसूरत हुआ करता था.

शोले के 'रहीम चाचा' जो बुढ़ापे में फिल्मों में आए और 50 साल काम करते रहे

ताउम्र मामूली रोल करके भी महान हो गए हंगल सा'ब को 7 साल हुए गुज़रे हुए.

जानिए वर्ल्ड चैंपियन पी वी सिंधु के बारे में 10 खास बातें

37 मिनट में एकतरफा ढंग से वर्ल्ड चैंपियन का खिताब अपने नाम कर लिया.

सलमान की अगली फिल्म के विलेन की पिक्चर, जिसके एक मिनट के सीन पर 20-20 लाख रुपए खर्चे गए हैं

'पहलवान' ट्रेलर: साउथ के इस सुपरस्टार को सुनील शेट्टी अपनी पहली ही फिल्म में पहलवानी सिखा रहे हैं.