Submit your post

Follow Us

आदेश श्रीवास्तव के टॉप 5 गाने और सोनू निगम के रोने का किस्सा

741
शेयर्स

आदेश श्रीवास्तव बहुत कम उम्र में दुनिया छोड़ गए. 5 सितंबर 2015 को. तब, जब 1 दिन पहले ही वो 51 साल के हुए थे. आज उनका एक किस्सा याद करेंगे.

हुआ यूं कि आदेश रवि चोपड़ा की फिल्म बाबुल का संगीत दे रहे थे. 2006 की बात है. इसका एक गाना है. बावरी पिया की. बेहद मीठा. आदेश ने इसे गाने के लिए उतने ही मीठे सोनू निगम को बुलावा भेजा. उस समय सोनू टॉप के सिंगर थे. तगड़ा मेहनताना लेते थे 1 गाना गाने का.

सोनू आए. रिकॉर्डिंग शुरू हुई. और सोनू गाने में डूब गए. जब रिकॉर्डिंग ख़त्म हुई, सोनू रो रहे थे. उन्होने आदेश श्रीवास्तव से कहा,

“ये गाना आपका मुझे दिया हुआ तोहफा है.”

उन्होने इस गाने के लिए कोई फीस लेने से भी मना कर दिया. गाना ज़ाहिर है कि बहुत उम्दा बन पड़ा है.

आप भी सुन लीजिए:

आदेश श्रीवास्तव ने लगभग 25 सालों तक म्यूजिक इंडस्ट्री में काम किया. फिल्मों में बैकग्राउंड स्कोर, म्यूजिक के साथ-साथ सिंगिंग में भी हाथ आज़माया उन्होंने. आज उनके टॉप 5 गाने करेंगे. जिन्हें हम सब बहुत पसंद करते हैं.

कैंसर से हार गए आदेश श्रीवास्तव.
कैंसर से हार गए आदेश श्रीवास्तव.

1.

मोरा पिया मोसे बोलत नाही
फिल्म: राजनीति (2010)
सिंगर: आदेश श्रीवास्तव.

इस गाने में कुछ ऐसी बात है जिसके लिए अंग्रेज़ लोग ‘हॉन्टेड’ टर्म इस्तेमाल करते हैं. चुभता है, बहुत चुभता है ये गीत. खुद आदेश ने ही इसे गाया है.


2.

सावन बरसे तरसे दिल
फिल्म: दहक (1999)
सिंगर्स: हरिहरन, साधना सरगम.

आज भी बारिशों के मौसम में ये मधुर गीत खाकसार की प्रायोरिटी रहता है. जब वो पंच आता है न, ‘देखो कैसा बेकरार, है भरे बाज़ार में, यार एक यार के इंतज़ार में’. वाह! दिल खुश हो जाता है.


3.

बहुत ख़ूबसूरत ग़ज़ल लिख रहा हूं
फिल्म: शिकारी (2000)
सिंगर: कुमार शानू

बुरी तरह एब्सर्ड थ्रिलर फिल्म की एकमात्र उपलब्धि है ये गाना. सॉफ्ट रोमांटिक ग़ज़ल. लूप में गुनगुनाते रहिए बस.


4.

लाई वी ना गई
फिल्म: चलते-चलते (2003)
सिंगर: सुखविंदर सिंह

सुखविंदर की आरोह-अवरोह वाली आवाज़ से पूरी तरह न्याय करता संगीत. कभी ऊंचा सुर भेद रहा है दिल को, तो कहीं हल्की सी फुहार सा बरस रहा है. हर प्ले लिस्ट में होना चाहिए ये गाना.


5.

ये हवाएं जुल्फों में तेरी
फिल्म: बस इतना सा ख्वाब है (2001)
सिंगर: शान, अलका याग्निक

अभिषेक बच्चन, रानी मुखर्जी की फ्लॉप फिल्म का शानदार गीत. मुहब्बत में मुब्तिला लोगों के लिए ख़ास रेकमेंडेशन. शान की आवाज़ वाकई जादुई इफेक्ट पैदा करती है.


स्पेशल मेंशन
# ओ धरती तरसे
फिल्म: बाग़बान (2003)
सिंगर: ऋचा शर्मा

ऋचा शर्मा की आवाज़ बहुत रिच है. पक्की भी. हाई नोट्स जब गाती है, बिल्कुल कमाल कर देती है. ये इमोशनल गाना ऋचा की शानदार आवाज़ के साथ-साथ आदेश की बेहतरीन धुन के लिए भी याद किया जाएगा.


ये भी पढ़ें: लता मंगेशकर को रानू मंडल से एक शिकायत है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

तानाजी ट्रेलर के दो डायलॉग जिन्हें सुनकर मन बहुत खराब हो गया है!

अजय देवगन स्टारर इस हिस्टोरिकल ड्रामा की ये गलती इसका पीछा नहीं छोड़ेगी.

हाउस अरेस्ट: मूवी रिव्यू

पूरी दुनिया के लिए उम्दा कॉन्टेंट बनाने वाला नेटफ्लिक्स हम भारतीयों के साथ सौतेला व्यवहार क्यूं कर रहा है, समझ से बाहर है.

मरजावां: मूवी रिव्यू

‘परिंदा’, ‘ग़ुलाम’, ’देवदास’, ‘अग्निपथ’, ‘कयामत से कयामत तक’, ‘गजनी’, ‘काबिल’, ‘लावारिस’ और ‘केजीएफ’ जैसी ढेरों मूवीज़ की याद दिलाती है मरजावां.

फिल्म रिव्यू: मोतीचूर चकनाचूर

आप पैसे खर्च करके सिर्फ हंसने नहीं जा सकते, साथ में कुछ चाहिए होता है, जो ये फिल्म नहीं देती.

बाला: मूवी रिव्यू

'आज खुशी का दिन है आया बिल्कुल लल्लनटॉप. सोडा, पानी, नींबू के साथ क्या पिएंगे आप?'

फिल्म रिव्यू: सैटेलाइट शंकर

ये फिल्म एक एक्सपेरिटमेंट टाइप कोशिश है, जो सफलता और असफलता के बीच सिर्फ कोशिश बनकर रह जाती है.

अपने डबल स्टैंडर्ड पर एक बार फिर ट्रोल हो गई हैं प्रियंका चोपड़ा

लोग उन्हें उनकी पुरानी बातें याद दिला रहे हैं.

उजड़ा चमन : मूवी रिव्यू

रिव्यू पढ़कर जानिए ‘मास्टरपीस’ और ‘औसत’ के बीच का क्या अंतर होता है.

फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर - डार्क फेट

नया कुछ नहीं लेकिन एक्शन से पैसे वसूल हो जाएंगे.

इस एक्टर ने फिल्म देखने गई फैमिली को सिनेमाघर में हैरस किया, वो भी गलत वजह से

इतनी बद्तमीजी करने के बावजूद ये लोग थिएटर में 'भारत माता की जय' का जयकारा लगा रहे थे.