Submit your post

Follow Us

Realme X7 Pro रिव्यू: क्या इस 5G फ़ोन के लिए 30,000 रुपए खर्च करना ठीक रहेगा?

120Hz Super AMOLED डिस्प्ले जो बाकी फ़ोन के चिथड़े उड़ा दे, क़्वालकॉम स्नैपड्रैगन 865 के टक्कर का फ्लैगशिप MediaTek Dimensity 1000+ 5G प्रोसेसर, मिनटों में बैटरी चार्ज कर देने वाली 65W फ़ास्ट चार्जिंग, Sony का बनाया हुआ फ्लैगशिप 64MP IMX 686 कैमरा सेन्सर और कीमत 29,999 रुपए. ये रेसपी Realme X7 Pro स्मार्टफ़ोन की है. इनग्रेडिएंट तो बेहतरीन हैं, मगर क्या रियलमी इस माल-मसाले से बढ़िया डिश बना पाया है? अगर दूसरे शब्दों में कहें- क्या Realme X7 Pro अपने दावों पर खरा उतरता है? हमारे रिव्यू में हम यही जानेंगे.

Realme X7 Pro स्पेक्स: 120Hz 6.55-इंच Full HD+ सुपर AMOLED डिस्प्ले | 7nm मीडियाटेक डायमेंसिटी 1000+ 5G प्रोसेसर | 64MP (Sony IMX 686) + 8MP (अल्ट्रावाइड लेंस) + 2MP (ब्लैक एण्ड व्हाइट पोर्ट्रेट लेंस) + 2MP (मैक्रो लेंस) | 32MP सेल्फ़ी कैमरा | 4,500mAh बैटरी | 65W SuperDart चार्जिंग | एंड्रॉयड 10 realmeUI

Realme X7 Pro क़ीमत: 29,999 रुपए | 8GB रैम + 128GB स्टोरेज

Realme X7 Pro review: फ़ोन के सबसे तगड़े पॉइंट

Realme X7 Pro का डिस्प्ले, स्पीकर, चार्जिंग स्पीड और फ़ॉर्म-फैक्टर इसके सबसे बड़े प्लस पॉइंट हैं. पहले इनकी बात कर लेते हैं.

X7 Pro 4
Realme X7 Pro की बैक पर ग्लास बैक है. (फ़ोटो: Mohammad Faisal/ The Lallantop)

स्क्रीन: 30,000 रुपए की रेंज में जो स्मार्टफ़ोन आते हैं, उनमें या तो आपको 90Hz की AMOLED डिस्प्ले मिलती है या फिर 120Hz वाली LCD डिस्प्ले. मगर Realme X7 Pro में 120Hz वाली Super AMOLED डिस्प्ले है, जो हर लिहाज़ से ज़बरदस्त है. AMOLED होने की वजह से स्क्रीन में कलर और कॉन्ट्रास्ट बेहतरीन हैं. 120Hz रिफ्रेश रेट की वजह से स्क्रॉलिंग बहुत ही स्मूद रहती है. स्क्रीन की तेज़ 1200 निट्स ब्राइट्नेस की वजह से धूप में भी फ़ोन को आराम से इस्तेमाल किया जा सकता है. Samsung Galaxy S20 Plus में भी 1200 निट्स ब्राइट्नेस है, मगर रियालमी का फ़ोन इससे ज़्यादा लाइट फेंकता है.

स्पीकर: Realme X7 Pro में एक स्पीकर नीचे की तरफ़ है. एक स्पीकर ऊपर लगा हुआ है जो इयरपीस का भी काम करता है. फ़ोन के साउन्ड को Dolby Atmos और Hi-Res दोनों का सर्टिफिकेशन है. आवाज़ इतनी क्लियर और इतनी तेज़ आती है कि मूवी देखने और गेम खेलने के लिए न इयरफ़ोन की जरूरत पड़ती है और न ही ब्लूटूथ स्पीकर की.

चार्जिंग स्पीड: Realme X7 Pro 65W की फ़ास्ट चार्जिंग सपोर्ट करता है. चार्जर डब्बे में ही आता है. ये बस 40 मिनट में ही फ़ोन को ज़ीरो से 100% चार्ज कर देता है. ये स्पीड कंपनी के 35 मिनट के चार्जिंग के दावे के बहुत करीब है. सबसे बढ़िया बात ये है कि बस 10 मिनट में ही फ़ोन 30-35% चार्ज हो जाता है. आप नहाने गए और फ़ोन पर चार्ज पर लगा दिया, बस इतनी ही देर में दिन भर चल जाने भर का चार्ज मिल गया.

X7 Pro 1
फ़ोन पर सामने एक पंच-होल डिस्प्ले में सेल्फ़ी कैमरा लगा हुआ है. (फ़ोटो: Mohammad Faisal/ The Lallantop)

फ़ॉर्म-फैक्टर: इस वक़्त मार्केट में छप्पर फाड़ दाम वाले फ़ोन के अलावा बाकी सभी रेंज के फ़ोन बड़े भारी भरकम हो गए हैं. शाओमी की रेडमी नोट 9 सीरीज़ और पोको M2 सीरीज़ में बड़ी स्क्रीन तो है, मगर फ़ोन इतने भारी हैं कि चलाना मुश्किल हो जाता है. Realme X7 Pro ने बड़ी स्क्रीन तो रखी है मगर न वज़न बढ़ा है और न ही फ़ोन की मोटाई. इसका 184gm वज़न Samsung के प्रीमियम Galaxy S20 Plus के 186gm से थोड़ा सा हल्का ही है. फ़ोन के डब्बे में रखे हुए बैक कवर को इस्तेमाल करने पर भी Realme X7 Pro चलाने में दूभर नहीं लगता.

फ़ोन की परफॉर्मेंस

परफॉर्मेंस के मामले में Realme X7 Pro ने कहीं भी निराश नहीं किया. भारी से भारी ऐप और गेम को इसने बड़े ही आराम से संभाल लिया. हमने फ़ोन में लगे हुए MediaTek Dimensity 1000+ चिप की ताकत को चेक करने के लिए फ़ोन में एक साथ 20-25 ऐप्स खोलें, और क्रोम ब्राउजर में एक दर्जन टैब खोलीं. इसके बाद इन ऐप्स और टैब को जल्दी-जल्दी बदला, मगर फ़िर भी फ़ोन आराम से चलता रहा.

call of duty graphic setting
कॉल ऑफ ड्यूटी गेम की ग्राफिक्स सेटिंग.

रही बात गेमिंग की तो कॉल ऑफ ड्यूटी को आप High क्वालिटी पर Max फ्रेम रेट पर सेट करके खेल सकते हैं. गेम में कहीं भी फ्रेम ड्रॉप या लैग नहीं आता. मतलब कि न तो गेम अटकता है, और न ही टच करने पर धीमा रेस्पॉन्स देता है. आधे घंटे तक गेम खेलने के बाद भी फ़ोन गर्म नहीं होता. अगर आपको COD में ग्राफिक क्वालिटी और भी ज़्यादा करनी है तो इसे Very High पर सेट कर सकते हैं, मगर तब फ्रेम रेट Max से उतरकर Very High पर लग जाते हैं. सिर्फ़ गेनशिन इम्पैक्ट ऐसा मोबाइल गेम निकला, जिसे एक घंटा चलाने के बाद Realme X7 Pro थोड़ा सा गर्म हुआ था.

कैमरा कैसा है?

X7 Pro 6
Realme X7 Pro में बैक पर चार कैमरे हैं. (फ़ोटो: Mohammad Faisal/ The Lallantop)

Realme X7 Pro की कैमरा परफॉर्मेंस थोड़ा ऊपर नीचे है. इसमें मेन कैमरा 64MP का फ्लैगशिप Sony IMX686 सेन्सर है. दिन के उजाले में कैमरा काफ़ी बढ़िया फ़ोटो क्लिक करता है. फ़ोटो में कलर और डीटेल तो अच्छी आती ही हैं, डाइनैमिक रेंज पर भी कैमरे की बढ़िया पकड़ है. आसान शब्दों में कहें तो अगर आप किसी सीन की फ़ोटो खींचेंगे तो सामने लगे हुए पेड़ तो हाइलाइट होंगे ही, पीछे का आसमान भी क्लियर आएगा.

Main Camera 2 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: मेन कैमरा से क्लिक की हुई फ़ोटो (पिक्चर को resize किया गया है)
Main Camera 3 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: मेन कैमरा (पिक्चर को resize किया गया है)
Main Camera 4 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: मेन कैमरा से ली हुई फ़ोटो (पिक्चर को resize किया गया है)

फ़ोन का ऑटो फोकस सिस्टम बढ़िया है. ये झट से आपकी मंशा समझकर फोकस लॉक कर लेता है. अगर पिक्चर में कोई इंसान है तो उसके चेहरे को पहचान कर फोकस लॉक कर लेता है. पोर्ट्रेट पिक्चर काफ़ी बढ़िया आती हैं, और पीछे का ब्लर भी सही आता है.

Main Camera 5 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: मेन कैमरा से करीब की चीज़ का फ़ोटो (पिक्चर को resize किया गया है)
Portrait 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: पोर्ट्रेट पिक्चर जिसमें बैकग्राउंड ब्लर है (पिक्चर को resize किया गया है)

दिन के उजाले में रियलमी का 8MP अल्ट्रावाइड-ऐंगल लेंस भी अच्छी पिक्चर क्लिक करता है. इससे ये उम्मीद तो नहीं थी, मगर ये लेंस प्राइमरी वाले लेंस की तरह ही काफ़ी सही कलर और डाइनैमिक रेंज पकड़ता है. फ़ोटो में डीटेल मेन कैमरे जैसी नहीं होती, मगर पिक्चर देखने में अच्छी लगती हैं.

Ultrawide 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: अल्ट्रावाइड लेंस से क्लिक की हुई पिक्चर (पिक्चर को resize किया गया है)
Ultrawide 2 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: अल्ट्रावाइड लेंस (पिक्चर को resize किया गया है)

रियलमी ने कैमरा ऐप में बढ़िया फ़िल्टर दिए हैं, और AI का बटन सामने ही है. AI की मदद से कैमरा आपके सामने का सीन पहचानता है, और फ़िर उसके हिसाब से मोड चालू कर देता है. ये फ़ोटो में कलर भी उभार देता है जो सोशल मीडिया पर डालने के लिए काफ़ी अच्छा है.

Filters 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: कैमरा मे दिए हुए फ़िल्टर (पिक्चर को resize किया गया है)

फ़ोन 60fps पर 4K फुटेज भी रिकार्ड कर सकता है. रियलमी ने वीडियो रिकॉर्डिंग के लिए मूवी मोड भी दिया है, जिसमें आप सारी सेटिंग खुद से सेट कर सकते हैं. सामने लगा हुआ 32MP का सेल्फ़ी कैमरा अच्छी पिक्चर क्लिक करता है. ब्यूटी मोड को ऑन-ऑफ करने का ऑप्शन भी मौजूद है.

X7 Pro 3
Realme X7 Pro में 32MP का फ्रन्ट कैमरा है. (फ़ोटो: Mohammad Faisal/ The Lallantop)

अब आते हैं उन चीजों पर, जहां पर कैमरे ने थोड़ा निराश किया है. जब लाइट कम होती है तो Realme X7 Pro की पिक्चर क्वालिटी गिर जाती है. रात में ये और खराब हो जाती है. मिड-रेंज फ़ोन के कैमरे कम लाइट में कभी भी अच्छी परफॉर्मेंस नहीं देते, मगर इस फ़ोन की कैमरा क्वालिटी को देखते हुए लो-लाइट से कुछ उम्मीद थीं. फ़ोन में दिए हुए नाइट-स्केप मोड न अल्ट्रावाइड लेंस से खींची हुई पिक्चर को सही कर पता है और न ही मेन कैमरा वाली फ़ोटो को. रियलमी ने अपने सस्ते-से-सस्ते फ़ोन में भी नाइट-स्केप मोड को काफ़ी अच्छा बनाया है, मगर इस फ़ोन में वो बात नहीं आ पाई. शायद इधर एक सॉफ्टवेयर अपडेट की जरूरत है.

Lowlight Nightscape 1 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: लेफ्ट- नॉर्मल; राइट- नाइटस्केप (पिक्चर को resize किया गया है)
Lowlight Nightscape 2 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: लेफ्ट- नॉर्मल; राइट- नाइटस्केप (पिक्चर को resize किया गया है)

मैक्रो लेंस की परफॉर्मेंस अच्छी नहीं है. मैक्रो मोड को रियलमी ने कैमरा ऐप में एकदम आखिर में डाल दिया है. इसकी क्वालिटी देखते हुए लगता है कि ये फ़ैसला ठीक ही है. आप सब्जेक्ट के बहुत करीब नहीं जा सकते. जो पिक्चर क्लिक हो रही है, उसमें कलर गायब रहते हैं. बहुत अच्छी लाइट कंडीशन होने पर ही सही रिजल्ट आते हैं. इन पिक्चर को आप बिना एडिट किए हुए सोशल मीडिया पर डालना पसंद नहीं करेंगे.

Macro 700
Realme X7 Pro कैमरा सैम्पल: मैक्रो लेंस से क्लिक की हुई फ़ोटो (पिक्चर को resize किया गया है)

कमी क्या रह गई?

माइक्रो SD कार्ड गायब: Realme X7 Pro में माइक्रो SD कार्ड लगाने की जगह नहीं है. सिम स्लॉट बहुत ही छोटा सा है, जिसमें ऊपर और नीचे दोनों तरफ सिम लगते हैं. आपके पास बस 8GB रैम और 128GB स्टोरेज का ही ऑप्शन है. रियलमी को अगर माइक्रो SD कार्ड स्लॉट को हटाना ही था तो कमज़ कम डिवाइस का एक 256GB स्टोरेज मॉडल भी बनाना चाहिए था. 128GB स्टोरेज बहुत होती है, मगर कुछ लोगों के लिए शायद इतनी स्टोरेज शायद काफ़ी न हो.

3.5mm ऑडियो जैक गायब: Realme X7 Pro में हेडफ़ोन जैक नहीं है. प्रीमियम सेगमेंट में 3.5mm ऑडियो जैक गायब भी हो जाता है तो इतना फ़र्क नहीं पड़ता, मगर 30,000 रुपए के अंदर वाले फ़ोन में कस्टमर इसकी उम्मीद करते हैं. ये अच्छी चीज़ है कि रियलमी ने फ़ोन के डब्बे में ही USB-C टु 3.5mm कन्वर्टर दे रखा है.

X7 Pro 2
Realme X7 Pro में सिम कार्ड नीचे की तरफ लगते हैं. (फ़ोटो: Mohammad Faisal/ The Lallantop)

सॉफ्टवेयर में बग्स: रियलमी की परफॉर्मेंस तो बढ़िया है, मगर फ़ोन के सॉफ्टवेयर में कुछ बग्स हैं. कभी-कभी क्रोम ब्राउजर में कोई वेबसाइट अटक जाती है तो कभी कैमरा ऐप हैंग हो जाता है. फ़ोटो क्लिक करने के बाद इमेज जब प्रोसेस हो रही होती है, अगर उसी टाइम आप कैमरा मोड बदलने की कोशिश करेंगे तो कैमरा ऐप कुछ सेकंड्स के लिए हैंग हो जाता है. इस चीज़ को तो रियलमी बस एक अपडेट भेजकर ठीक कर सकता है.

पते की बात

Realme X7 Pro ने स्क्रीन, प्रोसेसर, स्पीकर और चार्जिंग स्पीड पर शिकायत का कोई मौका नहीं दिया है. कैमरा परफॉर्मेंस दिन में तो अच्छी है, मगर लाइट कम होने पर बेहतर हो सकती थी. बाकी फ़ोन में माइक्रो SD कार्ड स्लॉट और 3.5mm ऑडियो जैक का न होना कुछ लोगों के लिए डील-ब्रेकर हो सकता है. बहरहाल रियलमी एक रिफाइन्ड एक्सपीरियंस देता है और हमारी राय में 30,000 रुपए में ये फ़ोन बुरा नहीं है.


वीडियो: Realme X7 Pro पहली नज़र में हमें कैसा लगा? जानिए इस 5जी फोन को खरीदना है या नहीं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

1992 क्रिकेट वर्ल्ड कप: वो 5 बातें जो हमेशा याद रहेंगी

22 फरवरी से 25 मार्च 1992 तक चला था ये कप.

ट्विटर, वॉट्सऐप, गूगल मैप जैसे पॉपुलर ऐप के देसी वर्ज़न इनका विकल्प बनने के कितने लायक हैं?

चाइनीज ऐप्स को बैन किए जाने के बाद से इन ऐप्स की काफी चर्चा हुई है.

सस्ते में स्मार्टफ़ोन लेना चाहते हैं तो इनके लिए थोड़ा इंतज़ार कर लीजिए!

रेडमी नोट 10 और नारज़ो 30 सीरीज़ इंडिया में लॉन्च होने वाली है.

साउथ से हिंदी में डब हुई 11 फ़िल्में, जिन्होंने बॉक्स ऑफिस तोड़कर रख दिया

'बाहुबली' तो सबको पता होगी, बाक़ी कितनी गेस कर सकते हैं आप?

Roohi Trailer: वो चुड़ैल, जो सुहागरात की रात दुल्हन को अपने वश में कर लेती है

गज़ब का है ट्रेलर, राजकुमार राव ने कहर ढाया है.

'RHTDM' की रीना यानी हम सबकी फेवरेट दिया मिर्ज़ा की शादी की ये तस्वीरें देख लीं क्या?

कौन-कौन आया था दिया की शादी में?

1962 के इंडो-चाइना वॉर पर बनी सीरीज़, जब भारतीय सेना बिना तैयारी के युद्ध लड़ी थी

क्या ख़ास बातें हैं सीरीज़ की, किसने बनाई है, कौन-कौन काम कर रहा है, सब हमसे जानिए.

'बॉम्बे बेगम्स' की ख़ास बातें, जिसमें अरसे बाद पूजा भट्ट तगड़ा रोल कर रही हैं

पांच औरतें और पांच ग्रिपिंग कहानियां. ट्रेलर रिलीज़ हुआ है.

देखिए सुषमा स्वराज की 25 दुर्लभ तस्वीरें, हर तस्वीर एक दास्तां है

सुषमा की ज़िंदगी एक खूबसूरत जर्नी थी, और ये तस्वीरें माइलस्टोंस.

बॉलीवुड के 5 गाने, जिन्हें गाने पर आपको जेल हो सकती है!

अगर कभी इन्हें गाया है तो सारे सबूत मिटा दो.