Submit your post

Follow Us

पड़ताल: क्या है सच्चाई नेहरू और एडविना के इस फोटो की?

भारत में जवाहरलाल नेहरू को लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैली हुई हैं. वे गुप्त रोग से मरे थे. अंग्रेजों के वफादार थे. रंगीले मिजाज़ के थे आदि-आदि. कुछ इसी तरह का दावा करने वाली एक तस्वीर हमारे हाथ लगी है जिसमें नेहरू को लेकर ये कहा गया है कि वे आजादी के वक़्त एडविना माउंटबेटन के साथ रंगरलियां मना रहे थे. हमने इस फोटो की सच्चाई जानने की कोशिश की और जो पता चला वो किए जा रहे दावे से एकदम उल्टा है.

मैसेज में क्या है ?
         रंगीला चाचा गोरी मेम के साथ मतदाता पहचान पत्र बनाने की प्रक्रिया का अविष्कार करते हुये 😜😜😜
        #TharkiDiwas

सच्चाई क्या है? 

हमारी पड़ताल में पता चला कि सोशल मीडिया पर चल रही ये फोटो फेक है. तस्वीर में नज़र आ रहे लोग दरअसल नेहरू और एडविना हैं ही नहीं. बल्कि होवार्ड ब्रेनटन के नाटक ‘ड्राइंग द लाइन’ के किरदार हैं. नेहरू के किरदार में नज़र आ रहे व्यक्ति का नाम सिलास कार्सन है जबकि एडविना के किरदार में हैं लूसी ब्लैक. यह फोटो लंदन की है जहां यह नाटक खेला गया था. होवार्ड ब्रेनटन का यह नाटक भारत के बंटवारे की पृष्ठभूमि में लिखा गया है. लेखक का मानना है कि लॉर्ड माउंटबेटन ने भारत का बंटवारा जल्दी करवाने का फैसला इसलिए भी लिया क्योंकि वे लेडी माउंटबेटन और नेहरू के तथाकथित अफेयर को जल्दी खत्म होते देखना चाहते थे. जो फोटो वायरल हो रही है वह उनके दोस्ताना संबंधों को दिखाने वाले सीन की है.

एडविना और नेहरू के रिश्ते की सच्चाई क्या है ये अलग से चर्चा का विषय हो सकता है. लेकिन जहां तक इस फोटो की बात है तो ये 100 फीसदी नकली है. ये उन दोनों को दर्शाने वाली फोटो है, न की खुद उनकी.

अगर आपके पास भी ऐसी कोई पोस्ट, फोटो, वीडियो या मैसेज है जिस पर आपको शक है तो आप उसे lallantopmail@gmail.com , फेसबुक पर हमारे वेरिफाइड पेज The Lallantop और हमारे वेरिफाइड ट्विटर हैंडल @TheLallantop पर भेज सकते हैं. हम उसकी पड़ताल कर सच्चाई पता करेंगे.


कुछ और पड़ताल भी पढ़ें-

क्या 15 अगस्त को मोदी सरकार सबको फ्री हेलमेट बांट रही है?

क्या लव-जिहाद के चक्कर में बंगाल में एक हिंदू लड़की की हत्या कर दी गई?

क्या कश्मीरी लड़की से शादी करके पाकिस्तानी लड़का जम्मू-कश्मीर का नागरिक बन सकता है?

पड़ताल: बीजेपी आईटी सेल में रोजगार दिलाने का मैसेज आया हो तो भूलकर क्लिक न करना

पड़ताल: कौन है वो लड़की, जो वायरल हो रही इस फोटो में नेहरू को चूम रही है?

पड़ताल : क्या मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद अब तक विश्व बैंक से एक रुपये का भी कर्ज नहीं लिया?

पड़ताल : कैराना में जीत के बाद क्या सांसद तबस्सुम ने इसे ‘अल्लाह की जीत’ बताया था?

कश्मीर में पत्थरबाजों को CRPF की गाड़ी से कुचलने की वो हकीकत जो आपको कोई नहीं बताएगा


वीडियो:

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

आर. के. नारायण, जिनका लिखा 'मालगुडी डेज़' हम सबका नॉस्टैल्जिया बन गया

स्वामी और उसके दोस्तों को देखते ही बचपन याद आता है

वो 22 एक्टर्स जिनको यशराज फिल्म्स ने बॉलीवुड में लॉन्च किया

यश और आदि चोपड़ा के इस प्रोडक्शन हाउस ने इस साल 50 बरस पूरे कर लिए हैं.

इन 8 बॉलीवुड सेलेब्स के मदर्स डे वाले वीडियोज़ और फोटो आप मिस नहीं करना चाहेंगे

बच्चन ने मां को गाकर याद किया है, वहीं अनन्या पांडे ने बचपन के दो बेहद क्यूट वीडियोज़ पोस्ट किए हैं.

मंटो, जिन्हें लिखने के फ़ितूर ने पहले अदालत फिर पागलखाने पहुंचाया, उनकी ये 15 बातें याद रहेंगी

धर्म से लेकर इंसानियत तक, सबपर सब कुछ कहा है मंटो ने.

सआदत हसन मंटो को समझना है तो ये छोटा सा क्रैश कोर्स कर लो

जानिए मंटो को कैसे जाना जाए.

महाराणा प्रताप के 7 किस्से: जब वफादार मुसलमान ने बचाई उनकी जान

9 मई, 1540 को पैदा होने वाले महाराणा प्रताप की मौत 29 जनवरी, 1597 को हुई.

दुनिया के 10 सबसे कमज़ोर पासवर्ड कौन से हैं?

रिस्की पासवर्ड का पता कैसे चलता है?

'इक कुड़ी जिदा नां मुहब्बत' वाले शिव बटालवी ने बताया कि हम सब 'स्लो सुसाइड' के प्रोसेस में हैं

इन्होंने अपनी प्रेमिका के लिए जो 'इश्तेहार' लिखा, वो आज दुनिया गाती है

शराब पर बस ये पढ़ लीजिए, बिना लाइन में लगे झूम उठेंगे!

लिखने वालों ने भी क्या ख़ूब लिखा है.

वो चार वॉर मूवीज़ जो बताती हैं कि फौजी जैसे होते हैं, वैसे क्यूं होते हैं

फौजियों पर बनी ज़्यादातर फिल्मों में नायक फौजी होते ही नहीं. उनमें नायक युद्ध होता है. फौजियों को देखना है तो ये फिल्में देखिए.