Submit your post

Follow Us

अर्रे! ये अचानक से पानी के टैंकर में से लोग कैसे निकलने लगे?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. कई यूजर्स के साथ-साथ एक्टर रितेश देशमुख ने भी इसे शेयर किया है. वीडियो में दिख रहा है कि सड़क किनारे एक पानी का टैंकर खड़ा है और एक-एक करके लोग उसमें से बाहर निकल रहे हैं.

ये वीडियो लॉकडाउन की उस सच्चाई को दिखाता है, जो हमारी आंखों के सामने होते हुए भी हमें नज़र नहीं आ रही है. ये वो लोग हैं जो काम के सिलसिले में अपने शहर से दूसरे शहर आए थे. अब जब पूरा देश लॉकडाउन हो चुका है, तो ये लोग अपने घर वापस जाना चाहते हैं. घर तक सफर तय करने के लिए साधन और पैसा दोनों नहीं है. परमिशन भी नहीं है. इसलिए शायद इन लोगों ने टैंकर को ही साधन बनाया और पुलिस की नज़रों से बचकर निकल गए.

कहां का है ये वीडियो?

टैंकर के पीछे UP21CN 3952 नंबर लिखा है. UP-21 उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद ज़िले का नंबर है. यानी ये टैंकर मुरादाबाद का है. ‘आज तक’ से जुड़े शरद गौतम ने बताया कि टैंकर किसी विपिन नाम के व्यक्ति का है. RTO ऑफिस से विपिन का जो मोबाइल नंबर मिला है, वो गलत बताया जा रहा है. इसलिए अभी ये कहना मुश्किल होगा कि ये वीडियो आखिर किस जगह का है. किस शहर से लोग किधर गए थे? लेकिन इतना कन्फर्म है कि टैंकर मुरादाबाद के व्यक्ति का है.

रितेश देशमुख के ट्वीट पर लोग भड़के

इस वीडियो को रितेश ने शेयर करते वक्त पूछा था,

‘ये क्या हो रहा है? क्या इंडिया के अंदर लोगों को स्मगल किया जा रहा है?’

उनकी इस बात पर लोग अच्छे-खासे नाराज़ हो गए. लोगों ने कहा कि ये वो लोग हैं जिनके पास रहने को छत नहीं है, घर जाने को पैसा नहीं है, खाना नहीं है. ये वो लोग हैं जो 250 किलोमीटर पैदल चलकर घर जा रहे हैं.

एक यूज़र ने कहा कि वो राजस्थान में रहती हैं. और अभी लॉकडाउन के वक्त गुजरात से लोग पैदल चलकर राजस्थान आ रहे हैं.

ये सच है कि लोग पैदल चलकर अपने घर जाने को मजबूर हैं. दिल्ली में रहने वाले बहुत से मजदूर 900-900 किलोमीटर पैदल चलकर अपने घर जा रहे हैं. क्योंकि जब उन्होंने टैक्सी वालों से पूछा तो उनसे 4000 रुपए मांगे गए थे.

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन से बेरोजगार हुए मजदूर साइकिल से निकल पड़े 960 KM दूर अपने घर

देखिये भारत में कोरोना कहां-कहां और कितना फैल गया है.


वीडियो देखें: तेलंगाना के सीएम ने कहा, लॉकडाउन तोड़ने वालों के लिए ये आखिरी चेतावनी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

अजय देवगन की फिल्मों के 36 गाने जो ट्रक और टैंपो वाले बरसों से सुन रहे हैं

गाने सन् 1991 के बाद आई फिल्मों के. तब जो बच्चे या टीनएजर थे उन्हें नॉस्टेलजिया भींच लेगा. enjoy!

मेरी मूवी लिस्टः ग़ैर-हिंदी भाषाओं की ये 5 लव स्टोरीज देखिए, जी उठेंगे

हमारी मूवी रेकमेंडेशन सीरीज़ में आज शक्ति बता रहे हैं अपनी पसंद का सिनेमा. प्यार वाला.

रामायण तो दिखा रहे, ये 10 सीरियल अगर फिर से दिखाने लगें तो मज़ा आ जाए!

कितने ही ऐसे हैं जो आपको, आपके बचपन में ले जाएंगे.

रामानंद सागर की 'रामायण' वाले राम, लक्ष्मण, सीता और रावण आज कल कहां हैं?

अब जब 'रामायण' सीरियल टीवी पर वापस आ रहा, ऐसे में ये जानना तो बनता है.

इतना सैनेटाइजर लगा चुका हूं कि अल्कोहल की मात्रा देखते हुए मुझे ठेका घोषित कर देना चाहिए

लॉकडाउन में घर के (बहुत) काम करते हुए, घर के बारे में ऐसी चीजें पता लगीं कि भरोसा ही नहीं हो रहा.

वो 8 कॉमेडी फिल्में जो लॉकडाउन में देखकर खुद को थैंक यू बोलेंगे

हमारी मूवी रेकमेंडेशन लिस्ट. नोश फरमाएं. हंसते-गुदगुदाते खुशी मिलेगी.

वो 5 ताकतवर पोलिटिकल थ्रिलर्स जो आपको अभी घर बैठे ज़रूर देखनी चाहिए

कोरोना लॉकडाउन में अच्छी फिल्में देखना चाहते हैं तो पोलिटिकल थ्रिलर/ड्रामा श्रेणी में ये हैं हमारी रेकमेंडेशंस.

जिस तिहाड़ में निर्भया के दोषियों को फांसी हुई, उसी जेल में ये फांसियां भी हो चुकी हैं

वो हाई प्रोफाइल केस, जिन्होंने पूरे देश का ध्यान खींचा.

इन 6 ज़बरदस्त फिल्मों में कोरोना जैसी महामारी दिखाई गई है

महामारी पर बनी हुई इन फिल्मों को पूरी दुनिया में देखा जा रहा है

निर्भया के दोषियों को फांसी मिलने पर बॉलीवुड हस्तियों ने क्या कहा?

निर्भया के गुनहगारों को आज सुबह फांसी दे दी गई.