Submit your post

Follow Us

नवाज की अगली फिल्म, छोटे शहर की लव स्टोरी जो नवाज के गांव में घटेगी

959
शेयर्स

नवाजुद्दीन सिद्दीकी को बड़ी शिकायत रहती है कि उनके हर किरदार के हाथ कट्टा-बंदूक पकड़ा दिया जाता है. कभी फुल रोमैंटिक हीरो बनने का मौका नहीं दिया किसी ने. इसके बाद उन्हें ‘फ्रीकी अली’ और हालिया रिलीज़ ‘फोटोग्राफ’ में भी रोमैंटिक किरदार में देखा गया था. और आने वाले दिनों में उनकी तीन-चार और लव स्टोरी बेस्ड फिल्में आ रही हैं. 24 मई को ऐसी ही एक फिल्म का पोस्टर रिलीज़ किया गया. फिल्म का नाम ‘कभी खुशी कभी गम’ के सुपरहिट गाने ‘बोलें चूड़ियां’ से प्रेरित होकर ‘बोलें चूड़ियां’ ही रखा गया है. इस फिल्म से काफी सारी दिलचस्प चीज़ें जुड़ी हुई हैं. नवाज के किरदार से लेकर फिल्म में उनकी जोड़ीदार और डायरेक्टर तक, जिनके बारे में हम नीचे जानेंगे.

1) ‘बोले चूड़ियां’ एक लव स्टोरी बताई जा रही है. हालांकि ये क्लीयर नहीं है कि कॉमेडी होगी या इंटेंस होगी. फिल्म का जो पहला पोस्टर आया है, वो थोड़ा गंभीर लग रहा है. इस ब्लैक एंड वाइट पोस्टर में नवाज पूरे बांह की टी-शर्ट पहकर कैंची स्टाइल में हांथ बांधे दीवार के सहारे खड़े हैं. ऐसा लग रहा है जैसे कुछ सोच रहे हों. रिपोर्ट्स के मुताबिक नवाज फिल्म में एक पैशनेट प्रेमी का रोल करने जा रहे हैं.

D7UJCyXV4AA6C0R

2) नवाज के अपोज़िट फिल्म में मौनी रॉय को कास्ट किया गया है. फिल्म के पहले पोस्टर में मौनी एक दरवाजे के पीछे से झांकती नज़र आ रही हैं. बकौल मौनी फिल्म में उनका किरदार एक छोटे शहर की लड़की का होगा. जो अपनी मस्ती में रहती है. ट्रैक्टर चलाती है, नाचती है, गाती है. कुल मिलाकर फुल फिल्मी लड़की है. हालांकि पोस्टर में जिस तरह के कपड़े और मेकअप में वो नज़र आ रही हैं, वो उनके बताए किरदार से तो मैच नहीं ही करता है. मौनी टीवी पर ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’, ‘कस्तूरी’, ‘दो सहेलियां’, ‘देवों के देव महादेव’ और ‘नागिन’ जैसी मशहूर शोज़ में काम कर चुकी हैं. अक्षय कुमार की ‘गोल्ड’ से अपना बॉलीवुड डेब्यू किया था. आने वाले दिनों में ‘ब्रह्मास्त्र’ और ‘मेड इन चाइना’ जैसी फिल्मो में नज़र आने वाली हैं.

D7UJCx4UcAAMolY

3) इस फिल्म को नवाज के भाई शम्स नवाब सिद्दीकी डायरेक्ट करेंगे. शम्स की ये पहली फीचर फिल्म होगी. वो इससे पहले कुछ एड फिल्में बना चुके हैं. इसके अलावा उनकी डायरेक्टेड शॉर्ट फिल्म ‘मियां कल आना’ दुनियाभर के 34 फिल्म फेस्टिवल्स में दिखाई गई और 10 अवॉर्ड भी जीती. शम्स नंदिता दास की ‘मंटो’ से बतौर को-प्रोड्यूसर जुड़े हुए थे. उन्होंने एक मीडिया इंटरैक्शन में बताया कि वो पिछले एक साल से इस स्क्रिप्ट पर काम कर रहे थे, ताकि वो नवाज को पसंद आ सके.

4) नवाज ने अनुराग कश्यप की ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ से बॉलीवुड में अपनी मौजूदगी दर्ज कराई थी. इसके बाद वो लगातार सीरियस और नेगेटिव किरदारों में नज़र आए. और वैसे ही किरदार निभाना भी चाहते हैं. बकौल नवाज, उन्हें स्टीरियोटाइप हो जाने का डर है, जिसकी वजह से वो अलग-अलग चीज़ें कर रहे हैं. उन्होंने ये भी कहा है कि वो रोमैंटिक फिल्में पैसे के लिए करते हैं, क्योंकि ऐसी फिल्में ही बॉक्स ऑफिस पर नंबर्स देती हैं. नवाज ‘रात अकेली है’, ‘मोतीचूर चकनाचूर’ जैसी मेनस्ट्रीम फिल्मों के अलावा ‘नो लैंड्स मैन’ और ‘डस्टी टू मीट रस्टी’ जैसे अनकन्वेंशनल प्रोजेक्ट्स पर भी काम कर रहे हैं.

बीबीसी वेब सीरीज़ मैक्माफिया के एक सीन में नवाजुद्दीन सिद्दीकी.
बीबीसी सीरीज़ मैक्माफिया के एक सीन में नवाजुद्दीन सिद्दीकी.

5) ‘बोलें चूड़ियां’ स्मॉल टाउन लव स्टोरी बताई जा रही है. इसे नवाज के गांव बुढ़ाना में शूट किया जाएगा. पूरी फिल्म 45 दिन लंबे एक ही शेड्यूल में शूट की जाएगी. फिल्म की शूटिंग जून, 2019 में शुरू होने वाली है. फिल्म को अक्टूबर, 2019 में रिलीज़ करने की तैयारी है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Bole Chudiyan: Upcoming romantic film starring Nawazuddin Siddiqui and Mouni Roy directed by Shamas Nawab Siddiqui

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू: इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड

फिल्म असलियत से कितनी मेल खाती है, ये तो हमें नहीं पता. लेकिन इतना ज़रूर पता चलता है कि जो कुछ भी घटा होगा, इसके काफी करीब रहा होगा.

गेम ऑफ़ थ्रोन्स S8E6- नौ साल लंबे सफर की मंज़िल कितना सेटिस्फाई करती है?

गेम ऑफ़ थ्रोन्स के चाहने वालों के लिए आगे ताउम्र की तन्हाई है!

पड़ताल: पीएम मोदी ने हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कहां कही थी?

जानिए ये बात आखिर शुरू कहां से हुई.

मूवी रिव्यू: दे दे प्यार दे

ट्रेलर देखा, फिल्म देखी, एक ही बात है.

क्या वाकई सलमान खान कन्हैया कुमार की बायोपिक में काम करने जा रहे हैं?

बताया जा रहा है कि सलमान इसके लिए वजन कम करेंगे और बिहारी हिंदी बोलना सीखेंगे.

गेम ऑफ़ थ्रोन्स S8E5- कौन गिरा है कौन मरा है, किस मातम है कौन कहे

सबसे बड़ी लड़ाई और एक अंत की शुरुआत.

मूवी रिव्यू: स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2

छोटे स्कूल वालों को मूर्ख बताने वाली फिल्म.

मेड इन हैवन: रईसों की शादियों के कौन से घिनौने सच दिखा रही है ये सीरीज़?

क्यों ये वेब सीरीज़ सबसे बेस्ट मानी जाने वाली सीरीज़ 'सेक्रेड गेम्स' से भी बेस्ट है.

गेम ऑफ़ थ्रोन्स सीज़न 8 एपिसोड 4 - रिव्यू

सब कुछ तो पिछले एपिसोड में हो चुका, अब बचा क्या?

मूवी रिव्यू: सेटर्स

नकल माफिया कितना हाईटेक हो सकता है, ये बताने वाली थ्रिलर फिल्म.