Submit your post

Follow Us

लाइव वीडियो में ऋषि कपूर की बात करते बेतरह इमोशनल हो गए अमिताभ

कोरोनावायरस इन्फेक्शन और इसकी वजह से लगे लॉकडाउन से परेशान लोगों की मदद के लिए हिंदी फिल्म इंडस्ट्री एक कॉन्सर्ट कर रही है. ऑनलाइन कॉन्सर्ट. इसमें तकरीबन हिंदी बोलने-समझने वाला हर बड़ा कलाकार हिस्सा ले रहा है. इस कॉन्सर्ट का नाम है ‘आई फॉर इंडिया’ (I For India). जैसे बचपन में पढ़ते थे न ए फॉर एप्पल ठीक वैसे ही. इसे ऑर्गनाइज़ किया है करण जौहर और ज़ोया अख्तर ने मिलकर. इसमें बेसिकली जो भी लोग हिस्सा ले रहे हैं, उन्हें घर से ही कुछ एंटरटेनिंग करना है, ताकि फेसबुक पर लाइव देख रही जनता का मनोरंजन हो सके. बदले में जनता जो पैसे लाइव कॉन्सर्ट पर खर्च करती है, उसे कोरोनावायरस के लिए डोनेट कर दे. शाहरुख से लेकर माधुरी ने गाना गाया. लेकिन जब अमिताभ बच्चन की बारी आई, तो वो इमोशनल हो गए.

आई फॉर इंडिया कॉन्सर्ट के दौरान अमिताभ बच्चन ने ऋषि कपूर के बारे में बात की. बच्चन ने ऋषि के साथ अपनी पहली मुलाकात से लेकर साथ काम करने का अनुभव, दोस्ती और फाइनली उनके गुज़रने का भी ज़िक्र किया. ये समझिए कि इस दौरान बस अमिताभ के आंसू ही नहीं गिरे. वरना ये बातें करते समय उनकी आवाज़ रुआंसी होने लगी और आंखें भर आईं थीं. एक्चुअली अमिताभ की ये पूरी बातचीत फेसबुक पर लाइव चल रही थी, इसलिए उन्होंने खुद को बहुत कंट्रोल किया. आप उनका वीडियो यहां देख सकते हैं. ये कॉन्सर्ट दुनियाभर के लोग देख रहे हैं, इसलिए सारी बातचीत अंग्रेज़ी में हो रही है. उनकी बात का मोटा-मोटी मतलब आप हिंदी में नीचे पढ़ सकते हैं-


View this post on Instagram

In Memoriam ..

A post shared by Amitabh Bachchan (@amitabhbachchan) on

अमिताभ ने बताया कि उनकी और ऋषि कपूर की पहली मुलाकात लेजेंड्री एक्टर पृथ्वीराज कपूर के घर पर हुई. इसके बाद ऋषि उन्हें कई बार मशहूर आर.के. स्डूडियोज़ के मेक अप रूप में दिखलाई पड़ते. वहां ऋषि अपनी डेब्यू फिल्म ‘बॉबी’ की तैयारियां करते थे. अमिताभ ने ऋषि की खूबियों के बारे में बात करते हुए कहा कि उनकी चाल में पृथ्वीराज कपूर की झलक थी. गानों की लिप सिंकिंग के मामले में तो उनका कोई सानी ही नहीं था. लेकिन बकौल अमिताभ ऋषि की सबसे बड़ी खासियत थी उनका खुशमिजाज़ होना. वो कभी दुखी नहीं होते, हमेशा मुस्कुराते रहते. यहां तक की सीरियस सीन्स की शूटिंग के बीच भी वो कोई ऐसी बात ढूंढ लेते, जिस पर ठहाके लगाकर हंसा जा सके. अमिताभ और ऋषि ने ‘कभी कभी’, ‘नसीब’, ‘अमर अकबर एंथनी’, ‘कुली’ और ‘102 नॉट आउट’ जैसी फिल्मों में साथ काम किया.

उमेश शुक्ला डायरेक्टेड फिल्म '102 नॉट आउट' में ऋषि कपूर ने अमिताभ बच्चन के बेटे का रोल किया था.
उमेश शुक्ला डायरेक्टेड फिल्म ‘102 नॉट आउट’ में ऋषि कपूर ने अमिताभ बच्चन के बेटे का रोल किया था.

अमिताभ कहते हैं-

”जब उनकी बीमारी का पता चला या जब उनका ट्रीटमेंट चल रहा था, वो इन चीज़ों से कभी निराश नहीं हुए. वो जब भी हॉस्पिटल जाते, कहते- ‘जल्दी मिलते हैं. बस रूटीन चेक अप के लिए हॉस्पिटल जा रहा हूं. थोड़ी देर में वापस आ जाऊंगा.’ मैं उनसे मिलने कभी हॉस्पिटल नहीं गया. मैं उनके हमेशा मुस्कुराते रहने वाले चेहरे पर निराशा का भाव नहीं देखना चाहता था. लेकिन मुझे यकीन है कि वो जहां भी गए हैं, अपनी उसी चिर-परिचित सौम्य मुस्कुराहट के साथ गए हैं.”

इस कोरोनावायरस की वजह से ऋषि कपूर से जुड़े किसी भी संस्कार में अमिताभ बच्चन नहीं दिखे. लेकिन उनके बेटे अभिषेक लगातार रणबीर और कपूर परिवार के साथ नज़र आए. सोनी टीवी का पॉपुलर क्विज शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ का 12वां सीज़न शुरू हो रहा है. इसके प्रोमोज़ आने शुरू हो गए हैं, जिन्हें ‘दंगल’ फेम नितेश तिवारी ने डायरेक्ट किया है. ये प्रोमो नितेश की सलाह और निर्देशन की मदद से अमिताभ बच्चन ने खुद अपने घर पर शूट किया है.


वीडियो देखें: ऋषि कपूर की ‘बॉबी’ से शुरू हुआ राजेश खन्ना के साथ उनका किस्सा ‘आ अब लौट चलें’ पर खत्म हुआ

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

वो चार वॉर मूवीज़ जो बताती हैं कि फौजी जैसे होते हैं, वैसे क्यूं होते हैं

फौजियों पर बनी ज़्यादातर फिल्मों में नायक फौजी होते ही नहीं. उनमें नायक युद्ध होता है. फौजियों को देखना है तो ये फिल्में देखिए.

गहने बेच नरगिस ने चुकाया था राज कपूर का कर्ज

जानिए कैसे शुरू और खत्म हुआ नरगिस और राज कपूर का प्यार का रिश्ता..

सत्यजीत राय के 32 किस्से: इनकी फ़िल्में नहीं देखी मतलब चांद और सूरज नहीं देखे

ये 50 साल पहले ऑस्कर जीत लाते, पर हमने इनकी फिल्में ही नहीं भेजीं. अंत में ऑस्कर वाले घर आकर देकर गए.

ऋषि कपूर की इन 3 हीरोइन्स ने उनके बारे में क्या कहा?

इनमें से एक अदाकारा को ऋषि ने आग से बचाया था.

ईश्वर भी मजदूर है? लेखक लोग तो ऐसा ही कह रहे हैं!

पहली मई को दुनियाभर में मजदूरों के हक़ की बात कही जाती है.

बलराज साहनी की 4 फेवरेट फिल्में : खुद उन्हीं के शब्दों में

शाहरुख, आमिर, अमिताभ बच्चन जैसे सुपरस्टार्स के फेवरेट एक्टर रहे बलराज साहनी.

जब भीमसेन जोशी के सामने गाने से डर गए थे मन्ना डे

मन्ना डे के जन्मदिन पर पढ़िए, उनसे जुड़ा ये किस्सा.

ऋषि कपूर के ये 13 गीत सुनकर समझ आता है, ये लवर बॉय पर्दे पर कैसे मेच्योर हुआ

'हमको तो तुमसे है, प्यार.'

इरफ़ान की 15 विदेशी फ़िल्में और सीरीज़ जो टाइम निकालकर देखनी चाहिए

जितने वो इंडिया में पॉपुलर थे, उतने ही इंटरनेशनल दर्शकों के बीच भी.

इरफ़ान के वो 10 धांसू सीरियल जो आपको ज़रूर देखने चाहिए

आपने उनको 'चंद्रकांता' में देखा है, लेकिन क्या 'किरदार' सीरीज़ में देखा है?