Submit your post

Follow Us

ब्रसेल्स के हर वर्ग मील में हैं 138 खाने के ठीहे

ब्रसेल्स खाने-पीने और मजे-मजे का शहर है. दूसरा वर्ल्ड वॉर जब खत्म हुआ तो ब्रसेल्स को यूरोप का पॉलिटिकल कैपिटल बना दिया गया था . यह यूरोपियन यूनियन और बेल्जियम का भी कैपिटल है. नाटो का मुख्यालय भी है.  ये शहर है अमन का. इस शहर में आप पी-पा के टुन्न होने के बाद भी मीलों दूर अपने घर सेफली जा सकते हैं. पांच बातें आप भी जान लीजिए इस शहर के बारे में.

1.

13वीं सेंचुरी में ब्रसेल्स को शहर के रूप में स्थापित किया गया. अब हाल ये कि यहां के हर वर्ग मील में औसतन 138 रेस्टोरेंट हैं.

2.

ब्रसेल्स यूरोपियन की राजधानी है इसलिए 40 हजार तो यहां उसी के कर्मचारी रहते हैं. 4 हजार नाटो वाले भी रहते हैं.

3.

लगभग 162 स्क्वायर किलोमीटर में ब्रसेल्स ने अपना ताम-झाम फैला रखा है. ज्यादतर लोग यहां फ्रेंच, और डच बोलने वाले हैं.

4.

पता ब्रसेल्स में रहने वाले 27 पर्सेंट लोग बेल्जियम के नहीं हैं. सब बाहर-बाहर से रहते हैं और तब भी कोई जुज्झ नहीं मचता.

5.

ब्रसेल्स बियर, वेफर्स और चॉकलेट का बड़ा ट्रेडर है. बियर के 800 ब्रांड्स यहां मिलते हैं. जिन लोगों को पार्टी करने का चस्का है उनकी यहां मौज है. इतने प्यार से नुक्कड़ पर जो फ्रेंच फ्राइज खाते हैं. उसकी पैदाइश ब्रसेल्स का है. यहां खाने के हर दुकान में आपको फ्राइज आसानी से मिल जाएंगी.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू- सड़क 2

जानिए कैसी है संजय दत्त, आलिया भट्ट स्टारर महेश भट्ट की कमबैक फिल्म.

वेब सीरीज़ रिव्यू- फ्लेश

एक बार इस सीरीज़ को देखना शुरू करने के बाद मजबूत क्लिफ हैंगर्स की वजह से इसे एक-दो एपिसोड के बाद बंद कर पाना मुश्किल हो जाता है.

फिल्म रिव्यू- क्लास ऑफ 83

एक खतरनाक मगर एंटरटेनिंग कॉप फिल्म.

बाबा बने बॉबी देओल की नई सीरीज़ 'आश्रम' से हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं!

आज ट्रेलर आया और कुछ लोग ट्रेलर पर भड़क गए हैं.

करोड़ों का चूना लगाने वाले हर्षद मेहता पर बनी सीरीज़ का टीज़र उतना ही धांसू है, जितने उसके कारनामे थे

कद्दावर डायरेक्टर हंसल मेहता बनायेंगे ये वेब सीरीज़, सो लोगों की उम्मीदें आसमानी हो गई हैं.

फिल्म रिव्यू- खुदा हाफिज़

विद्युत जामवाल की पिछली फिल्मों से अलग मगर एक कॉमर्शियल बॉलीवुड फिल्म.

फ़िल्म रिव्यू: गुंजन सक्सेना - द कारगिल गर्ल

जाह्नवी कपूर और पंकज त्रिपाठी अभिनीत ये नई हिंदी फ़िल्म कैसी है? जानिए.

फिल्म रिव्यू: शकुंतला देवी

'शकुंतला देवी' को बहुत फिल्मी बता सकते हैं लेकिन ये नहीं कह सकते इसे देखकर एंटरटेन नहीं हुए.

फ़िल्म रिव्यूः रात अकेली है

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और राधिका आप्टे अभिनीत ये पुलिस इनवेस्टिगेशन ड्रामा आज स्ट्रीम हुई है.

फिल्म रिव्यू- यारा

'हासिल' और 'पान सिंह तोमर' वाले तिग्मांशु धूलिया की नई फिल्म 'यारा' ज़ी5 पर स्ट्रीम होनी शुरू हो चुकी है.