The Lallantop
Advertisement

G20 में PM मोदी-बाइडन के पीछे लगी 'महाभारत' की तस्वीर का सच कुछ और है

वायरल फोटो में मोदी और बाइडन बैठ कर बात कर बात कर रहे हैं. बैकग्राउंड में 'महाभारत' के युद्ध से जुड़ी तस्वीर देखी जा सकती है.

Advertisement
pm narendra modi joe biden meeting image mahabharat background viral fact check
नरेंद्र मोदी और जो बाइडन की वायरल तस्वीर का स्क्रीनशॉट. (तस्वीर क्रेडिट: ट्विटर@vikram_rajaB)
11 सितंबर 2023 (Updated: 11 सितंबर 2023, 23:35 IST)
Updated: 11 सितंबर 2023 23:35 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share
क्या है दावा?

G20 समिट. भारत को पहली बार इस ग्लोबल इवेंट की मेजबानी का अवसर मिला. इसमें दुनिया के 20 देशों के राष्ट्राध्यक्षों या उनके प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया. समिट खत्म हो चुका है. लगभग सभी नेता अपने-अपने देश या आगे के दौरे के लिए निकल चुके हैं. और इधर सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल है. इसमें पीएम नरेंद्र मोदी अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ सोफे पर बैठकर बातचीत करते नज़र आ रहे हैं. उनके पीछे लगी दीवार पर एक पेंटिंग बनी है, जिसपर महाकाव्य ‘महाभारत’ का एक चित्र बना हुआ है.

वायरल तस्वीर को यूजर सच मानकर हिंदुओं की धार्मिक पुस्तक ‘गीता’ के श्लोक के साथ शेयर कर रहे हैं. मिसाल के तौर पर एक यूजर ने वायरल फोटो जी20 हैशटैग के साथ शेयर करते हुए लिखा, “यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत.

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ की पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक निकला. वायरल तस्वीर एडिटेड हैं.

फोटो की सच्चाई जानने के लिए हमने तस्वीर को गूगल लेंस से सर्च किया. हमें ‘इंडिया टुडे’ की 9 सितंबर को छपी एक रिपोर्ट मिली. इसमें पीएम नरेंद्र मोदी और जो बाइडन के बीच प्रधानमंत्री निवास पर हुई बातचीत के बारे में छपा है. इस दौरान दोनों नेताओं ने AI से लेकर डिफेंस सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की. रिपोर्ट में वायरल तस्वीर से मिलती जुलती तस्वीर मौजूद है. लेकिन दोनों नेताओं के पीछे जो दीवार है उसके बैकग्राउंड में ऐसा कुछ भी नहीं है जैसै वायरल फोटो में दिखाया गया है. तस्वीर का क्रेडिट पीएम नरेंद्र मोदी के ट्विटर हैंडल को दिया गया है.

Courtesy: India Today

हमें पीएम मोदी के हैंडल से 8 सितंबर को किया गया एक ट्वीट मिला, जिसमें बाइडन और मोदी के मुलाकात की कई तस्वीरें अपलोड की गई हैं. इसमें वायरल तस्वीर से मिलती-जुलती तस्वीर भी मौजूद है.

दोनों तस्वीरों को बारीकी देखने पर साफ है कि वायरल हो रही फोटो एडिटेड है. वायरल फोटो में ‘महाभारत’ का बैकग्राउंड अलग से ऐड किया गया है. जबकि असल तस्वीर में कोई तस्वीर है ही नहीं.

दोनों तस्वीरों को देखने पर साफ पता चल रहा कि पीछे के बैकग्राउंड को एडिट किया गया है. 

इसके अलावा हमें पीएमओ के यूट्यूब चैनल पर दोनों नेताओं की मुलाकात का वीडियो मिला. इसमें भी कहीं भी ‘महाभारत’ वाला बैकग्राउंड नज़र नहीं आया. 

Courtesy: Youtube/PMO
नतीजा

कुलमिलाकर हमारी पड़ताल में यह साफ है कि वायरल तस्वीर एडिटेड है. पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन की मुलाकात की तस्वीर को एडिट कर भ्रम फैलाया गया है.

पड़ताल की वॉट्सऐप हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

ट्विटर और फेसबुक पर फॉलो करने के लिए ट्विटर लिंक और फेसबुक लिंक पर क्लिक करें.

thumbnail

Advertisement