Submit your post

Follow Us

कांग्रेस की एक चाल, जिसके बारे में राहुल गांधी ने ख़ुद ख़ुलासा किया

लोकसभा चुनाव, 2019 के दौरान पीएम मोदी के कई इंटरव्यू आ चुके हैं. अखबारों में भी पीएम के कई इंटरव्यू छप चुके हैं. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अब तक कुछ हीअखबारों को इंटरव्यू दिए हैं. इस लोकसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी ने पहला इंटरव्यू एनडीटीवी को दिया है. इस इंटरव्यू के दौरान राहुल गांधी ने कुछ बेहद दिलचस्प दावे किए हैं. पढ़िए राहुल ने क्या-क्या कहा है-

प्रियंका को बनारस से लड़ाना भरम था

हमने ये फैसला पहले ही कर लिया था. प्रियंका बनारस से नहीं लड़ने वाली थीं. हमने सबको सस्पेंस में रखा. और हमने वही किया.

नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं बनने वाले

हम यह चुनाव जीत रहे हैं और मैं ये दावे के साथ कह सकता हूं कि पीएम मोदी प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे. हम जीतने के लिए लड़ रहे हैं.हम लॉन्गटर्म के लिए नहीं, हम इसी इलेक्शन के लिए काम कर रहे हैं. नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं बनने वाले, गारंटीड. हमारे नंबर पहले से बेहतर आ रहे हैं.

जहां कांग्रेस कमज़ोर, वहां गठबंधन को समर्थन

यूपी में जहां हम सपा-बसपा की मदद करेंगे. हमारे मुख्य उद्देशय है भाजपा को हराना. नरेंद्र मोदी को हराना है. मुझे कांग्रेस की ज़मीन बचानी है. लेकिन जहां भी भाजपा और गठबंधन के बीच में बात आएगी तो हम गठबंधन को सपोर्ट करेंगे.

 कांग्रेस की ताकत और कमजोरी

कांग्रेस की ताकत ये है कि वो लोगों की सुनती है. लोगों से बात करती है. जब हमने मैनिफेस्टो बनाया तो लाखों लोगों से बात की. हम खुले दिल-दिमाग वाले हैं. कमजोरी ये है कि पार्टी अव्यस्थित हो सकती है.

इसके अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मुद्दे से लेकर चौकीदार चोर है, तक के नारे पर खुलकर बात की. उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की भी बात की और अपनी माफी की भी बात की, जिसमें उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के हवाले से कहा था कि चौकीदार चोर है और बाद में सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद उन्होंने माफी मांग ली थी.


पड़ताल: क्या BJP को वोट देने पर आप जम्मू-कश्मीर में ज़मीन ख़रीद पाएंगे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.