Submit your post

Follow Us

हार के बाद पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में हार्दिक पटेल ने की चौंकाने वाली बातें

2.42 K
शेयर्स

गुजरात में बीजेपी जीत गई है. बड़ी जीत तो नहीं है लेकिन जीत तो आखिर जीत होती है. चाहे एक सीट के मार्जिन से हो. लगातार छठी बार सरकार बनाने जा रही है बीजेपी. कांग्रेस के साथ मिलकर बीजेपी को हराने में जी जान से जुटे हार्दिक पटेल ने नतीजों के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने काफी चौंकाने वाली बातें कहीं. आइए जानते हैं उन्होंने क्या-क्या कहा.

ये 15 बातें ख़ास रहीं.

# पटेलों के गढ़ में हुई रैली में भीड़ थी, फिर भी वोट नहीं आए.
# हमारी बात हमारे स्वार्थ की नहीं, जनता के हित में थी.
# सभी पार्टियों को EVM का विरोध करना चाहिए.
# पैसे के जोर पर जीती है बीजेपी.
# मैंने कहा था कि बीजेपी इतनी ही सीट जीतेंगी, जिससे EVM पर शक न किया जा सके.
# कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन से EVM शक के दायरे से बाहर हो गई.
# पाटीदार इलाकों में भाजपा के खिलाफ़ वोट डाले गए, वो कहां गए?
# जिस EVM में कांग्रेस 300 वोटों से जीत रही थी, रिकाउंटिंग के बाद 6 हज़ार वोट से हार जाती है, ये गड़बड़ है.
# ईमानदारी से चुनाव हुआ होता तो बीजेपी हारती.
# मैं तो अब भी मानता हूं कि कांग्रेस 100 से 110 सीट जीत चुकी है.
# जब भगवान के बनाए शरीर में कुछ भी हो सकता है तो इंसान की बनाई मशीन में कुछ क्यों नहीं हो सकता?
# कैलकुलेटर के अंदर ऑन-ऑफ स्विच नहीं होता, फिर भी वो ऑफ हो जाता है कि नहीं?
# हमारा देश EVM से चलता है. हम इस मुद्दे पर बड़ी बहस करेंगे.
# बुजदिलों की तरह घर में बैठा नहीं रहूंगा. मैं 23 साल का हूं, और इस उम्र में राजनीतिक भविष्य के बारे में बात करना सही नहीं.
# मैं अगले 5 दिन में आन्दोलन शुरू कर दूंगा.


ये भी पढ़ें:
पाटन में दलितों की नाराज़गी के बावजूद हार्दिक पटेल का उम्मीदवार जीत रहा है!
बीजेपी गुजरात चुनाव जीतती है तो उसकी पांच वजहें ये होंगी
गुजरात की इस सीट पर गॉडमदर का बेटा बीजेपी और कांग्रेस दोनों पर भारी
गोधरा: कांग्रेस के इस बगावती को टिकट देकर बीजेपी को जीत मिली कि हार?
अंबानी के जीजा बोटाद सीट से हारने वाले हैं

वीडियो भी देखिए:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

चुनाव 2018

कमल नाथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री, कैबिनेट में ये नाम हो सकते हैं शामिल

कमल नाथ पहली बार दिल्ली से भोपाल की राजनीति में आए हैं.

राजस्थान: हो गया शपथ ग्रहण, CM बने गहलोत और पायलट बने उनके डेप्युटी

राहुल गांधी, मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस के ज्यादातर बड़े नेता जयपुर के अल्बर्ट हॉल पहुंचे हैं.

मायावती-अजित जोगी के ये 11 कैंडिडेट न होते, तो छत्तीसगढ़ में भाजपा की 5 सीटें भी नहीं आती

कांग्रेस के कुछ वोट बंट गए, भाजपा की इज़्ज़त बच गई.

2019 पर कितना असर डालेंगे पांच राज्यों के चुनावी नतीजे?

क्या मोदी के लिए परेशानी खड़ी कर पाएंगे राहुल गांधी?

क्या अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए अपनी गोटी सेट कर ली है

लेकिन सचिन पायलट का एक दाव अशोक गहलोत को चित्त कर सकता है.

मोदी सरकार के लिए खतरे की घंटी क्यों हैं ये नतीजे?

आज लोकसभा चुनाव हो जाएं तो पांच राज्यों में भाजपा को क्यों लगेगा जोर का झटका?

भंवरी देवी सेक्स सीडी कांड से चर्चित हुई सीटों पर क्या हुआ?

इस केस में विधायक और मंत्री जेल में गए.

क्या शिवराज के कहने पर कलेक्टरों ने परिणाम लेट किए?

सोशल मीडिया का दावा है. जानिए कि परिणामों में देरी किस तरह हो जाती है.

राजस्थान चुनाव 2018 का नतीजा : ये कांग्रेस की हार है

फिनिश लाइन को पार करने की इस लड़ाई में कांग्रेस ने एक बड़ा मौका गंवा दिया.

बीजेपी को वोट न देने पर गद्दार और देशद्रोही कहने वाले कौन हैं?

जनता ने मूड बदला तो इनके तेवर बदल गए और गालियां देने लगे.