The Lallantop
Advertisement

Poll of Polls: पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में कौन सी पार्टी कितनी सीटें पाएगी, जानें

मध्य प्रदेश से जुड़े एग्जिट बोल बता रहे हैं कि राज्य में बीजेपी फिर सत्ता में आ सकती है. बाकी 4 राज्यों का हाल भी जानें.

Advertisement
poll of polls assembly election 2023 which party won which state
मध्यप्रदेश में बीजेपी को 140 से 162 सीटें मिलने का अनुमान है.
30 नवंबर 2023 (Updated: 30 नवंबर 2023, 23:46 IST)
Updated: 30 नवंबर 2023 23:46 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजों से पहले एग्जिट पोल्स के आंकड़े आ चुके हैं (Exit Poll assembly elections 2023). मध्य प्रदेश में बीजेपी बड़े अंतर से सरकार बनाती दिख रही है. वहीं राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना में पार्टियों के बीच टक्कर का मुकाबला देखने को मिल सकता है. अलग-अलग राज्यों में किसी पार्टी को कितनी सीटें मिलती दिख रही हैं, जानिए.

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश से जुड़े ज्यादातर एग्जिट बोल बता रहे हैं कि राज्य में बीजेपी फिर सत्ता में आ सकती है. उसे 115 से 162 सीटें मिलने का अनुमान है. वहीं कांग्रेस को 100 से कुछ ज्यादा सीटों पर जीत मिलेगी. अन्य के खाते में 0 से 15 सीटें तक जा सकती हैं.

सोर्सBJPINCBSP+अन्य
इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया140-16268-9000-3
दैनिक भास्कर95-115105-12000-15
Jist-TIF-NAI Exit Poll102-119107-12400-5
जन की बात100-123102-12505

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए 17 नवंबर को वोटिंग हुई. उसके बाद से ही लोग एग्जिट पोल के नतीजों का इंतज़ार कर रहे हैं. 230 सीटों पर इस बार 77.15 फीसदी मतदान हुआ है. 2018 में ये आंकड़ा 75.63 फीसदी था. 

पिछले चुनावों में राज्य में कांग्रेस की जीत हुई थी. हालांकि 2020 में ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस छोड़कर BJP में शामिल हो गए और कमलनाथ की सरकार गिर गई थी. तब उनके सहयोग से शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में BJP ने सरकार बना ली थी. उससे पहले और 2003 के बाद से प्रदेश में BJP की ही जीत हुई है.

इंडिया टुडे एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल में मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में बीजेपी को बढ़त मिलती हुई नजर आ रही है. यहां बीजेपी को 45 फीसदी, कांग्रेस को 40 फीसदी और अन्य को 15 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. क्षेत्र में बीजेपी को 18 सीटें तो कांग्रेस को 8 सीटें मिल सकती हैं. पिछले चुनाव के मुकाबले बीजेपी बुंदेलखंड में 4 सीटों की बढ़त बनाती दिख रही है. वहीं कांग्रेस 2 सीटों के नुकसान में है.

पोल की मानें तो भोपाल में बीजेपी को 51 फीसदी, कांग्रेस को 42 फीसदी और अन्य को 7 फीसदी वोट मिल सकते हैं. इस इलाके में कुल 20 विधानसभा सीटें आती हैं. भोपाल, रायसेन, सीहोर और विदिशा इलाके में बीजेपी को 12 तो कांग्रेस को 8 सीटें मिल सकती हैं. यहां बीजेपी 2 सीटों से पीछे है तो कांग्रेस 2 सीटों से आगे चल रही है. 

राजस्थान

तमाम पोल्स को देखने के बाद अनुमान ये निकलता है कि राजस्थान में बीजेपी को 80 से 122 सीटें मिल सकती हैं. वहीं कांग्रेस के खाते में 61 से 106 सीटें जा सकती हैं. बीएसपी को केवल एक पोल में सीटें मिली हैं जोकि Jist-TIF-NAI ने किया है. अन्य को 2 से 18 सीटें मिलने का अनुमान है.

सोर्सBJPINCBSP+अन्य
इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया80-10086-10609-18
दैनिक भास्कर98-10585-95010-15
Jist-TIF-NAI Exit Poll102-12061-791-42-3
जन की बात100-12262-85014-15

इस बार प्रदेश में 74.62% वोट पड़े हैं. हालांकि, चुनाव आयोग ने फाइनल डेटा शेयर नहीं किया है. 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस 100 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनी थी. वो बहुमत से एक सीट पीछे रह गई थी. बाद में बहुजन समाज पार्टी के साथ मिलकर सरकार बनाई. बीजेपी ने 73 सीटें जीती थीं, जो 2013 के चुनाव की तुलना में बहुत कम है. तब भाजपा ने 163 सीटों के साथ बहुमत हासिल किया था.

राजस्थान के एग्जिट पोल ने नेताओं के साथ-साथ पार्टी समर्थकों की धड़कनें बढ़ा दी हैं. यहां पर कांग्रेस को 42 फीसदी तो बीजेपी को 41 फीसदी वोट मिलता दिख रहा है. आजतक Axis My India Exit Poll के अनुसार राजस्थान में बीजेपी को 86 से 106 तो बीजेपी को 80 से 100 सीटें मिल सकती हैं. 

Exit Poll के आंकड़ों के अनुसार सीएम पद के चेहरे के लिए अशोक गहलोत नंबर वन चॉइस हैं. सर्वे में शामिल लोगों में से 32 फीसदी लोग अशोक गहलोत को सीएम के रूप में देखना चाहते हैं.

छत्तीसगढ़

यहां मुकाबला टक्कर को हो सकता है. 90 सीटों वाली छत्तीसगढ़ विधानसभा में कांग्रेस को ज्यादा बढ़त रहेगी. उसे 41 से 56 सीटें मिलने का अनुमान है. लेकिन बीजेपी भी 30 से 48 सीटें जीत सकती हैं. अन्य के खाते में 10 से कम सीटें ही रहेंगी.

सोर्सBJPINCBSP+अन्य
इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया36-4640-5001-5
एबीपी न्यूज-सी वोटर36-4841-5300-4
दैनिक भास्कर35-4546-5500-10
इंडिया टीवी-CNX30-4046-5603-5
जन की बात34-4542-5303

राज्य में 90 विधानसभा सीटों के लिए दो चरणों में मतदान हुए थे. बीती 7 नवंबर को यहां पहले चरण में 20 सीटों के लिए वोटिंग हुई थी. इसके बाद दूसरे चरण के तहत 70 सीटों पर मतदान हुआ. इस बार छत्तीसगढ़ का वोट प्रतिशत 76.31 फीसदी रहा जो साल 2018 के मुकाबले थोड़ा कम था. तब यहां वोटिंग परसेंट 76.88 फीसदी रहा था. 2018 के चुनाव में कांग्रेस को 68 सीटों पर जीत मिली थी. वहीं भाजपा ने सिर्फ 15 सीटों पर जीत हासिल की थी. कांग्रेस से भूपेश बघेल और भाजपा से रमन सिंह मुख्य उम्मीदवार रहे.

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया के पोल में सामने आए वोट शेयर में भी BJP और कांग्रेस के बीच सिर्फ 1 फीसदी का फासला नज़र आ रहा है. BJP के लिए 41% वोट शेयर और कांग्रेस के लिए 42% वोट शेयर का अनुमान लगाया गया है.

मिजोरम

मिजोरम में मुकाबला कड़ा हो सकता है, ऐसा ज्यादातर पोल्स से लगता है. सत्तारूढ़ MNF को 40 विधानसभा सीटों में से 21 सीटें तक मिल सकती हैं, तो ZPM भी 15 से 35 सीटें जीत सकती है. हालांकि इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया के पोल के मुताबिक ZPM 28 से 35 सीटें मिलेंगी और बहुमत के साथ सरकार बनाएगी.

सोर्सMNFZPMINCBJP
इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया3-728-352-40-2
एबीपी न्यूज-सी वोटर15-2112-182-80
इंडिया टीवी-CNX14-1812-168-100-2
जन की बात10-1415-255-90-2

मिजोरम में 7 नवंबर को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले गए थे. 40 सीटों पर इस बार 78.40 फीसदी मतदान हुआ. प्रदेश में मिजो नेशनल फ्रंट (MNF), कांग्रेस और ज़ोरम पीपल्स मूवमेंट के बीच त्रिकोणीय टक्कर थी. 2018 में हुए चुनाव में MNF को 26 सीटें मिली थीं. पार्टी का वोट शेयर 37.8 रहा था. कांग्रेस 2018 में पांच सीटें जीती थी. बीजेपी सिर्फ एक सीट जीत पाई थी. 

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक इस बार मिजोरम में ज़ोरम पीपल्स मूवमेंट को 49 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. मिजो नेशनल फ्रंट को 27 फीसदी वोट मिल सकते हैं. वहीं कांग्रेस का वोट प्रतिशत 20 फीसदी तक हो सकता है. बीजेपी और अन्य को दो-दो फीसदी वोट मिल सकते हैं.   

तेलंगाना
सोर्सBRSINCBJP+AIMIM
इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया31-4763-792-45-7
इंडिया टीवी-CNX31-4763-792-45-7
जन की बात40-5548-647-134-7
न्जूज 24-टुडेज़ चाणक्य24-4262-802-123

तेलंगाना में 30 नवंबर को विधानसभा चुनाव हुए थे. जब 2018 के विधानसभा चुनाव के नतीजे आए थे तो 119 सदस्यीय विधानसभा में BRS को सबसे ज्यादा 88 सीटें मिली थीं. उस चुनाव में दूसरे स्थान पर कांग्रेस रही थी. जिसके 19 उम्मीदवार चुनाव जीते थे. वहीं, असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM को सात, TDP को दो, BJP को एक और AIFB (ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक) को एक सीट मिली थी. खबर लिखे जाने तक तेलंगाना के लिए इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया का डेटा नहीं आया था. हालांकि दूसरे एग्जिट पोल्स में बीआरएस को बड़े नुकसान का अनुमान लगाया गया है.

पोल्स के मुताबिक केसीआर की पार्टी की विधानसभा सीटें 99 से गिरकर 24 से 55 तक आ सकती हैं. जबकि कांग्रेस को 50 से भी ज्यादा सीटों पर बढ़ मिल सकती है और उनकी संख्या 48 से 80 तक जा सकती हैं. ये अनुमान सही निकला तो केसीआर को सीएम की कुर्सी छोड़नी पड़ सकती है.

(ये भी पढ़ें: चुनाव से पहले इलेक्शन कमीशन का ये फैसला केसीआर का नुकसान करा देगा!)    

वीडियो: विधानसभा चुनावों में किस पार्टी का पलड़ा भारी, राजदीप, राहुल श्रीवास्तव ने बता दिया

thumbnail

Advertisement