Submit your post

Follow Us

कितना जानलेवा है ये पैनक्रिएटिक कैंसर, जिससे गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर जूझ रहे हैं?

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर काफी समय से बीमार चल रहे हैं. उन्हें कैंसर होने की बातें तो अनऑफिशियली अक्सर होती रहीं लेकिन किसी भरोसेमंद सूत्र से इसकी कभी पुष्टि नहीं हुई. अब हो गई है. गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने खुलासा किया कि मनोहर पर्रिकर को पैनक्रिएटिक कैंसर है. उनका उनके घर पर इलाज हो रहा है.

विश्वजीत राणे ने नॉर्थ गोवा में इमरजेंसी केयर सेंटर के उद्धाटन समारोह में ये बात कही. उन्होंने बोला, “वो गोवा के मुख्यमंत्री हैं और ये हकीकत है कि वो ठीक नहीं हैं. उन्हें पैनक्रिएटिक कैंसर है. कोई इस बात को छुपा नहीं रहा.” उन्होंने आगे ये भी कहा, “आप लोगों को उनकी हालत पता है. उन्हें हाल ही में एम्स से लाया गया और अब वो अपने घर पर हैं. उन्हें अपने परिवार के साथ शांति से रहने दीजिए.”

विश्वजीत राणे.
विश्वजीत राणे.

पिछले कुछ दिनों से विपक्ष ने सरकार पर दबाव बना रखा था कि वो पर्रिकर का हेल्थ बुलेटिन जारी करें. अब ऑफिशियली ये कन्फर्म हो गया है कि उनको पैनक्रिएटिक कैंसर है.

क्या होता है ये पैनक्रियाज़?

गूगल पर पैनक्रियाज़ का हिंदी ढूंढोगे तो मिलेगा ‘अग्नाशय’. कुछ समझ नहीं आएगा. समझने लायक भाषा में पैनक्रियाज़ के बारे में जानना चाहते हैं, तो आगे पढ़िए.

अग्नाशय (pancreas) एक ग्रंथि है, जो पेट में होती है और पाचन तंत्र का हिस्सा है. मने खाना पचाने के वक़्त काम आती है. यह पेट के ऊपरी बाएं भाग में काफी गहराई में होते हैं. यूं समझ लीजिए कि आपके पेट और रीढ़ की हड्डी में सैंडविच बने हुए. इसका एक हिस्सा वहां होता है जहां छोटी आंत का पहला भाग होता है.

Image Courtesy: http://pathology.jhu.edu
Image Courtesy: http://pathology.jhu.edu

क्या काम है इनका?

यह इंसुलिन (insulin) तथा बाकी के महत्वपूर्ण एंज़ाइम्स और हार्मोन्स पैदा करते हैं. एंज़ाइम्स और पाचक रस, पैनक्रियाज़ से निकलकर छोटी आंत में भेजे जाते हैं. जहां ये खाए हुए खाने को तोड़ने में मदद करते हैं. यानी आसान भाषा में ये समझ लीजिए कि खाने को ऊर्जा में बदल देते हैं. इसी से शरीर को ताकत मिलती है.

पैनक्रियाज़ जो इंसुलिन बनाते हैं वो खून में मिलकर शरीर के ग्लूकोज़ लेवल को कंट्रोल करते हैं. ये तो आपको पता ही होगा कि शुगर लेवल में गड़बड़ी डायबिटीज़ को जन्म देती है.

यानी मोटा-मोटा देखा जाए तो इसके दो मेन काम हैं:

1. खाना पचाने में मदद करना
2. ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखना

कितना खतरनाक है ये पैनक्रिएटिक कैंसर?

इस कैंसर की भयानकता इसी बात से जान लीजिए कि इसे साइलेंट किलर कहा जाता है. वो इसलिए क्योंकि शुरुआत में इसके लक्षणों के आधार पर इसकी जल्दी पहचान करना बड़ा मुश्किल है. और बाद के लक्षण हर एक आदमी में अलग-अलग होते हैं. किसी को पेट के ऊपरी हिस्से में बेतहाशा दर्द होता है तो किसी का वज़न तेज़ी से गिरता है. पीलिया हो जाना, नाक से खून बहना, भूख कम लगना भी इसके लक्षणों में शामिल हैं.

Image Courtesy: http://pathology.jhu.edu
Image Courtesy: http://pathology.jhu.edu

कहते हैं कि अगर शुरूआती दौर में भी इसका पता लग जाए तब भी इसको रोकना बेहद मुश्किल होता है. और ये बात तो है ही के ये जल्दी डिटेक्ट नहीं होता. इस कैंसर के होने में धूमप्रान से लेकर आहार में हरी सब्जियों की कमी तक कई वजहें बताई जाती हैं.

इलाज कैसे होता है?

1. सर्जरी

सर्जरी इकलौता ऐसा उपाय है जो इस कैंसर को पूरी तरह से ठीक कर सकता है. हालांकि इसमें भी पेंच है. कैंसर का पता लगने से लेकर सर्जरी की नौबत आने तक कैंसर काफी रफ़्तार से बढ़ जाता है. ऐसे में सर्जरी का सक्सेस रेट 15 से 20 परसेंट ही रह जाता है. और अगर कैंसर शरीर में और जगह फ़ैल गया तो सर्जरी के बाद भी इंसान ठीक नहीं होता.

2. रेडियोथेरेपी

इस थेरेपी में कैंसर ग्रस्त एरिया को रेडियो किरणों द्वारा नष्ट करने की कोशिश होती है.

3. कीमोथेरेपी

कीमोथेरेपी की दवाएं शरीर में फ़ैल रही कैंसर सेल्स को या तो ख़त्म करती हैं या उन्हें बढ़ने से रोकती हैं. अक्सर कीमोथेरेपी, सर्जरी और रेडियोथेरेपी के साथ मिलाकर की जाती है. ताकि ज़्यादा से ज़्यादा एक्यूरेसी से इलाज संभव हो सके. कीमोथेरेपी की कुछ दवाएं खाई जाती है तो कुछ दवाओं को नसों में इंजेक्ट किया जाता है.

जैसे-जैसे कैंसर बढ़ता जाता है, केस कॉम्प्लिकेटेड होता जाता है. भयानक दर्द तो होता ही है साथ ही छोटी आंत की फंक्शनिंग में भी रुकावट पैदा होती है. वज़न तेज़ी से घटने लगता है. ये कैंसर महिलाओं के मुकाबले पुरुषों में ज़्यादा पाया जाता है. वो भी बड़ी उम्र के मर्दों में.

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है. दर्दनाक भी. किसी को न हो.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

रामचंद्र गुहा की किताब 'क्रिकेट का कॉमनवेल्थ' के कुछ अंश.

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

शुद्ध और असली स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर करियर ग्राफ़ बाद में गिरता ही चला गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.