Submit your post

Follow Us

डियर पुणे पुलिस, महिलाओं का सिंदूर और गहनों से दूर रहना जुर्म नहीं है

कोरेगांव हिंसा और पीएम की हत्या वाली साजिशी चिट्ठी का केस तो पता ही होगा. उस केस में पांच लोगों की गिरफ्तारी हुई थी. फिर सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें नजरबंद करने को कहा और सरकार को चेताया कि ‘असहमति लोकतंत्र के लिए सेफ्टी वॉल्व की तरह है.’ उस गिरफ्तारी की पूरी कहानी यहां क्लिक करके पढ़ी जा सकती है. फिलहाल बात ‘के पवन’ की. के पवन नजरबंद हुए वरवरा राव की बेटी हैं और प्रोफेसर के सत्यनारायण की पत्नी हैं. के सत्यनारायण हैदराबाद में इंगलिश एंड फॉरेन लैंग्वेज यूनिवर्सिटी में हैं. कल्चरल स्टडीज विभाग के कर्ता धर्ता यानी एचओडी हैं.

Image: Twitter
Image: Twitter

के सत्यनारायण ने बताया कि उनके घर पुणे पुलिस और तेलंगाना स्पेशल इंटेलिजेंस ब्यूरो के अफसर आए थे. तलाशी लेने. पहले कहा कि वरवरा राव को तलाश रहे हैं. जब वो नहीं मिले तो अलमारी वगैरह उलटने पुलटने लगे. कहा कि माओवादियों से जुड़े लिंक खोज रहे हैं. 20 पुलिस वालों ने सवेरे साढ़े आठ बजे से साढ़े पांच बजे तक घर का कबाड़ा कर दिया.

“My thirty years of academic life has been destroyed in five minutes. They asked me “why are you reading Mao”, “why are you reading Marx”, “why are you having the songs of Gaddar”and “why are you keeping the photos of Ambedkar and Phule instead of gods and goddesses”. They also asked me “why do you want to become an intellectual, why cant you be happy with the money you are getting?”. I am happy, but I have to read and teach.”
-Prof. Satyanarayana

Maharashtra and Telangana Police raided the residence of Prof. K. Satyanarayana, the Head of Cultural Studies department and the Dean of School of Inter-Disciplinary Studies in EFL University, Hyderabad. The raid was part of the larger raids and arrests of eminent scholars and activists across the country alleging connection with the protests at Bhim Koreagoan. Prof. Satyanarayana was given no prior intimation regarding the raid and he along with his family was in effect imprisoned inside the house for the whole day. He was not allowed to come out of the house and talk to his colleagues and students who had gathered outside his residence. Prof. Stayanarayana said that the police conducted the raid without citing any valid charge against him than the fact that he is the son-in-law of the prominent social activist and poet Vara Vara Rao. He also said that his thirty years of life and works have been destroyed in five minutes and he was humiliated. The Police confiscated the laptops, hard discs, pendrives and all the academic materials from his house and blocked his phone and email. Students and teaching and non-teaching faculties have condemned the illegal and arbitrary raid and called for protest

Posted by Sajd Eflu on Tuesday, 28 August 2018

के सत्यनारायण के मुताबिक पुलिस के सवाल सुनिए: तुम्हारे घर में इतनी सारी किताबें क्यों हैं? क्या आप ये सभी किताबें पढ़ते हैं? इतनी किताबें क्यों खरीदते हैं? माओ और मार्क्स पर किताबें क्यों पढ़ते हैं? चीन से प्रकाशित किताबें क्यों हैं आपके घर में? ज्योतिबा फुले और अंबेडकर की तस्वीरें क्यों हैं? देवी देवताओं की तस्वीरें क्यों हैं?

के सत्यनारायण की पत्नी के पवन से ये सवाल पूछे गए: आपके पति दलित हैं, इसलिए वह किसी परंपरा का पालन नहीं करते. लेकिन आप तो ब्राह्मण हैं. आप गहने क्यों नहीं पहनती? सिंदूर क्यों नहीं लगातीं? पारंपरिक पत्नी जैसे कपड़े क्यों नहीं पहनती? क्या बेटी को भी बाप जैसा होना चाहिए.

Image: Twitter
के सत्यनारायण, तस्वीर: ट्विटर

इन पति पत्नी के मुताबिक इन सवालों से गुजरना भारी मेंटल टॉर्चर था. ऐसे वाहियात सवाल किसी के लिए भी टॉर्चर ही हो सकते हैं. पढ़ना जुर्म कब से हो गया? किसी भी मुद्दे पर पढ़ना किस तरह से जुर्म है? किताबें केवल दो जगह हो सकती हैं. जो पढ़ने के शौकीन हैं और जो ज्ञान या अनुभव हासिल करना चाहते हैं उनके यहां. या फिर कबाड़ी के पास. आपके बहुत से दोस्तों के पास अलग अलग तरह की किताबें होंगी. किसी के पास वामपंथी रुझान वाली किताबें होंगी, किसी के पास दक्षिणपंथी. किसी के पास नाथूराम गोडसे के भाई गोपाल गोडसे की आत्मकथा होगी तो किसी के पास माइन कॉम्फ. किसी के पास धार्मिक किताबें होंगी वेद पुराण, कुरान हदीसें, बाइबिल वगैरह. पढ़ने के कुछ शौकीन ऐसे भी होते हैं जो इनमें से सब कुछ पढ़ते हैं. ऐसे लोग भी देखे गए हैं कि उनमें पढ़ने का इतना कीड़ा होता है कि वो रास्ते पर चलते साइन बोर्ड पढ़ा करते हैं. ऐसे किताबें पढ़ने वालों पर भी आप शक करेंगे?

दूसरी बात जो हद दर्जे तक शर्मनाक है. क्या एक महिला का महिला होना काफी नहीं है? उसका ब्राह्मण होना जरूरी है? अगर है भी और वो पारंपरिक लकीरें पीटने से दूर है तो क्या वो मुजरिम है? सिंदूर लगाना और गहने पहनना क्या महिला को ज्यादा महिला बना देता है? या किसी की पत्नी को ज्यादा पत्नी बना देता है? और अगर पारंपरिक परिधान न पहने जाएं तो ये अपराध है?

आपको सरकार ने अथॉरिटी दी है उसका इस्तेमाल करो. जिस मुद्दे पर तलाशी ले रहे हो वो करो. जांच करो. कायदे के सवाल पूछो. पढ़ाई को जबरदस्ती अपराध न बनाओ. किसी को ब्राह्मण होने और महिला होने का ताना मत दो. न उसको परंपरा का पालन न करने पर ताने दो. अपना काम करो.


ये भी पढ़ें:

अटल के शव के नाम पर फैलाई जा रही फोटो उनकी नहीं, किसी और प्रधानमंत्री की है

सरकार ने कहा – तेज बहादुर के विडियो से जवान विद्रोह कर देते, इसलिए नौकरी से निकाला

जब वाजपेयी के साथ बैठे मुशर्रफ खाना खा नहीं, बस देख रहे थे

महमूद ने कहा- अमिताभ नहीं राजीव को फिल्म में लो, वो ज्यादा स्मार्ट दिखता है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

म्हारा आमिर, सारुक-सलमान से कम है के?

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

अनुपम खेर को ट्विटर और वॉट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो

अनुपम खेर को ट्विटर और वॉट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान.

कहानी राहुल वैद्य की, जो हमेशा जीत से एक बिलांग पीछे रह जाते हैं

कहानी राहुल वैद्य की, जो हमेशा जीत से एक बिलांग पीछे रह जाते हैं

'इंडियन आइडल' से लेकर 'बिग बॉस' तक सोलह साल हो गए लेकिन किस्मत नहीं बदली.

गायों के बारे में कितना जानते हैं आप? ज़रा देखें तो...

गायों के बारे में कितना जानते हैं आप? ज़रा देखें तो...

कितने नंबर आए बताते जाइएगा.

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.