Submit your post

Follow Us

पाकिस्तान वर्ल्ड कप से बाहर हो गई और उसी रात उसके कोच की डेड बॉडी मिली

17 मार्च 2007 को पाकिस्तान और आयरलैंड के बीच वर्ल्ड कप मैच हुआ. पाकिस्तान बुरी तरह हार गई. न सिर्फ हार गई, बल्कि टूर्नामेंट से ही बाहर हो गई. ये बहुत बड़ा उलटफेर था. लेकिन अभी और बुरा होना बाकी था. वो रात पाकिस्तान के कोच बॉब वूल्मर की आख़िरी रात साबित हुई. दूसरे दिन सुबह उनकी डेड बॉडी ही बरामद हुई.

किंग्स्टन, जमैका में उनके होटल रूम के बाथरूम से. उनके शरीर पर कोई कपडा नहीं था. उनके मुंह में ख़ून था और दीवारें उल्टी से सनी हुई थीं. पहली बार जब ख़बरें आईं तो यही कहा जा रहा था कि उनकी मौत हार्ट अटैक से हुई है. चार दिन बाद ही क्रिकेट की दुनिया में भूकंप आ गया.

बॉब वूल्मर का शव.
बॉब वूल्मर का शव.

जमैका के डेप्युटी कमिश्नर मार्क शील्ड्स ने प्रेस कांफ्रेंस करके घोषणा कर दी कि बॉब वूल्मर का मर्डर हुआ है. अगले कुछ महीने षड्यंत्रों की तमाम संभावनाओं की चीरफाड़ में गुज़रे.

क्या हुआ था उस रात?

सही बताएं तो किसी को नहीं पता. श्रीदेवी की ही तरह उनके जीवन के भी आख़िरी कुछ घंटे रहस्य की चादर में लिपटे हुए हैं. दुनिया के पास बस संभावनाएं हैं. जिनमें हार्ट अटैक, गला घोंटना, ज़हर देना, सुसाइड, बाथरूम में गिरके मरना जैसी तमाम वरायटीज हैं. बॉब वूल्मर आयरलैंड से मिली हार के बाद, ज़ाहिर है, काफी व्यथित थे. टीम बस में उन्होंने किसी से ज़्यादा बात नहीं की. वो बहुत गुमसुम थे. बस जैसे ही जमैका पिगासस होटल पहुंची, वो सीधे अपने कमरे की तरफ बढ़े. रूम नंबर 374.

इसी होटल में ये घटना हुई थी.
इसी होटल में ये घटना हुई थी.

लिफ्ट में उनके साथ सिर्फ शोएब मलिक थे. तीसरी मंजिल पर जब लिफ्ट रुकी, वो एक तरफ हुए और अपने आख़िरी शब्द बोले, “लेडीज फर्स्ट”.

ये तंज था या मज़ाक, ये तो उन्हें ही पता लेकिन उसके बाद उन्हें कभी किसी ने बोलते हुए नहीं सुना. दूसरे दिन उनकी लाश ही बरामद हुई. तीन दिन तक मामला काबू में रहा. यहां तक कि पाकिस्तान ने अपना आखिरी लीग मैच भी खेला, उसे जीतकर अपने कोच को श्रद्धांजलि भी दी. क़यामत तो उसके अगले दिन आई, जब पुलिस कहने लगी कि ये मर्डर है.

मार्क शील्ड्स की वो प्रेस कांफ्रेंस

22 मार्च को पिगासस होटल में हुई उस प्रेस कांफ्रेंस ने पूरी दुनिया को सकते में डाल दिया. बॉब वूल्मर की जांच कर रहे इन्वेस्टिगेटर्स कह रहे थे, ये मर्डर है.

डेप्युटी कमिश्नर मार्क शील्ड्स.
डेप्युटी कमिश्नर मार्क शील्ड्स.

पुलिस तमाम संभावनाओं को कंसीडर कर रही थी.

“क्या उन्हें ज़हर दिया गया था?”
“मुमकिन है.”

“क्या ये किसी हिटमैन का काम है?”
“शायद.”

“क्या एक से ज़्यादा मर्डरर थे?”
“हो सकता है.”

“क्या ये किसी मैच फिक्सिंग गिरोह का कारनामा हो सकता है?”
“कुछ कह नहीं सकते. हो भी सकता है.”

इस तरह का वार्तालाप उस प्रेस कांफ्रेंस का हासिल था, जिसने क्रिकेट की दुनिया को सनसनी से भर दिया.

जब पाकिस्तानी क्रिकेटर्स को ख़ूनी कहा गया

24 मार्च को पाकिस्तानी टीम जमैका से कोई 30 मील दूर मोंटेगो बे एयरपोर्ट पर मौजूद थी. उसे लंदन की फ्लाइट पकड़नी थी. टेक ऑफ से ज़रा सा पहले कुछ असाधारण हुआ. कप्तान इंज़माम-उल-हक़, असिस्टेंट कोच मुश्ताक अहमद और टीम मैनेजर तलत अली को पूछताछ के लिए रोका गया. उनके स्टेटमेंट में विसंगति पाई जाने की बात थी. हालांकि बाद में उन्हें उसी रात छोड़ भी दिया गया. जब वो तीनों प्लेन पर चढ़ने जा रहे थे, रिपोर्टर्स उनसे चीख-चीख कर पूछ रहे थे,

“क्या आपने वूल्मर का ख़ून किया है?”

उधर पुलिस न सिर्फ इसे मर्डर बता रही थी, गला घोंटने में हुए संघर्ष के निशानात वूल्मर के चेहरे पर पाए जाने के दावे भी कर रही थी. ये भी बात हवा में तैर रही थी कि इंज़माम, मुश्ताक अहमद और तलत अली पर शक किया जा रहा है. पुलिस ये दावा कर रही थी कि वूल्मर के कातिल पाकिस्तान के कैम्प से ही आए थे. ऐसी रिपोर्ट्स भी आईं कि वूल्मर की पाकिस्तानी टीम से बस में लड़ाई हुई थी. कोई इसे लोकल गैंगस्टर्स का काम भी बता रहा था.

इंज़माम.
इंज़माम.

जो सबसे पॉपुलर अंदाज़ा था वो ये कि मैच फिक्सिंग करने वाले किसी बड़े सिंडिकेट ने वूल्मर का मुंह बंद करने के लिए उनकी हत्या की है. पाकिस्तान का इतिहास और आयरलैंड से मिली अप्रत्याशित हार ने इस थ्यौरी को लगभग हकीकत बना दिया था. बड़ी संख्या में लोग मान रहे थे कि ऐसा ही हुआ होगा. आज भी मानते हैं.

नतीजा क्या निकला?

कई सारी कॉन्स्पीरेसी थ्यौरीज देती पुलिस ने अंत में इसे नेचुरल डेथ ही माना. मौकाएवारदात पर सबसे पहले पहुंचे डिटेक्टिव शुरू से यही कह भी रहे थे. वो तो उनके सीनियर्स ने मामले को सनसनीखेज़ बना दिया था. बकौल उनके, वो जब पहुंचे तो वहां किसी संघर्ष के सबूत नहीं थे, न ही बॉब के शरीर पर कोई निशान थे. इस बात की आजतक आलोचना होती है कि जमैका पुलिस ने जांच में बुरी तरह से ब्लंडर कर दिया था. घटना के लगभग तीन महीने बाद 12 जून को ये कहकर केस बंद कर दिया गया कि वूल्मर की मौत नेचुरल थी.

हालांकि आज भी इस नतीजे पर बहुत कम लोग यकीन करते हैं.

हैन्सी क्रोनिए ने अपना गुनाह कबूला था.
हैन्सी क्रोनिए ने अपना गुनाह कबूला था.

एक काबिलेजिक्र तथ्य ये भी है कि बॉब वूल्मर ने पहले साउथ अफ्रीका के लिए भी कोचिंग की थी. उस वक़्त अफ्रीका के कप्तान रहे हैन्सी क्रोनिए पर मैच फिक्सिंग के आरोप लगे थे. उन्होंने खुद भी कबूला था. 2002 में हैन्सी की एक प्लेन क्रैश में डेथ हो गई. उस वक़्त भी यही कहा गया कि मैच फिक्सिंग सिंडिकेट ने उन्हें खामोश किया है. पांच साल बाद उनके करीबी दोस्त बॉब की भी संदिग्ध हालात में मौत हो गई. शक की सुई फिर से उसी तरफ थी.

आज भी बड़ी संख्या में लोग इन दोनों मौतों को ‘वेल प्लांड मर्डर’ ही मानते हैं, जिनमें क़ातिल साफ़ बच निकले.


ये भी पढ़ें:

फाइनल में पाकिस्तान को हराया, रवि शास्त्री ने ऑडी जीती और पूरी टीम उसपर लद गई

बॉलर ने तीन ओवर में तीन विकेट लिए, फिर भी हैट्रिक मानी गई

जब केविन ओ’ब्रायन ने वर्ल्ड कप की सबसे तेज़ सेंचुरी मारी और इंग्लैंड को ध्वस्त कर दिया

11 साल में सिर्फ 14 मैच खेलनेवाला खिलाड़ी, अब KKR का कैप्टन है

क्रिकेट के इतिहास का सबसे लंबा मैच, जो ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा था

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

कहानी 'मनी हाइस्ट' के 'बर्लिन' की, जिनका इंडियन देवी-देवताओं से ख़ास कनेक्शन है

कहानी 'मनी हाइस्ट' के 'बर्लिन' की, जिनका इंडियन देवी-देवताओं से ख़ास कनेक्शन है

'बर्लिन' की लोकप्रियता का आलम ये था कि पब्लिक डिमांड पर उन्हें मौत के बाद भी शो का हिस्सा बनाया गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.