Submit your post

Follow Us

याद्दाश्त अच्छी करनी है तो बादाम मत खाइये बल्कि ये टेक्नीक अपनाइये

मैं एक कविता याद करने की कोशिश कर रहा था. रामधारी सिंह ‘दिनकर’ की कविता ‘चांद और कवि’. उसके लिए मैंने हर स्टेंजा के साइड में एक ड्राइंग बनाता जा रहा था. कुछ ऐसी –

 

पहला स्टेंज़ा : चांद के आगे माइक है. वो कुछ कह रहा है. और अनोखा जीव आदमी खुद के बनाए उन्झानों के दलदल फसता जा रहा है. बिस्तर पर जगा हुआ है सो नहीं पा रहा है.
दिनकर की कविता. और साइड में मेरी कलाकारी.

बाजू से गुजर रहे मेरे सीनियर ने पूंछा – ये क्या पगलैटी है? कुछ काम-धाम करो. यहां बैठ कर क्या अजीब सी तस्वीरें बना रहे हो?

मेरा जवाब था –

पगलैटी नहीं है. निमोनिक्स है. याददाश्त तेज करने के लिए बहुत काम की टेकनीक है.

उन्होंने अपने चेहरे के भाव से क्वेश्चन मार्क बना दिया. फिर मैंने उन्हें विस्तार से समझाया. आप भी समझ लीजिए.

ये होता क्या है?

सबसे पहले स्पेलिंग – Mnemonics. निमोनिया में जैसे P साइलेंट रहता है. निमोनिक्स में M साइलेंट है. निमोनिक्स का नाम निमोसाइन से आया है. जैसे हिंदू पौराणिक कथाओं में ज्ञान की देवी सरस्वती जी हैं वैसे ही ग्रीक माइथोलॉजी में मेमोरी की देवी निमोसाइन हैं. रैंचो की स्टाइल में इसकी डेफिनेशन देख लीजिए –

कोई भी ऐसी टेकनीक जो चीज़ों को याद करने में आसान बना दे, निमोनिक्स है. शॉर्टनोट्स की ट्रिक से लेकर नक़ल की चिट तक, सब निमोनिक्स है.

ये तो बहुत ही उदार परिभाषा हो गई. ऐसे में इसके कई टाइप हो सकते हैं.

कुछ फेमस टाइप्स 

1. किसी बात को याद करने के लिए गाने की धुन में फिट कर देना.

ABCD याद करने के लिए ‘हम साथ-साथ हैं’ फिल्म का ये गाना सुनिए –

2. बहुत सारे शब्द जिनका आपस में कोई भी रिश्ता है. उन्हें याद करने के लिए दो पॉपुलर टेकनीक हैं

उनके पहले लेटर्स को मिला कर एक शब्द बना देना.

जब सूरज की किरण पानी की बूंद से हो के गुजरती है. तब वह सात रंगों में स्प्लिट हो जाती है.
जब सूरज की किरण पानी की बूंद से हो के गुजरती है. तब वह सात रंगों में स्प्लिट हो जाती है.

जैसे इन्द्रधनुष के सात रंग – वायलेट, इंडिगो, ब्लू, ग्रीन, येल्लो, ऑरेंज, रेड – के शुरूआती लेटर्स से बना – VIBGYOR

उनके पहले लेटर्स से कुछ शब्द बनाकर उन्हें एक सेंटेंस का रूप दे देना.

टेबल:विकिपीडिया. केमिस्ट्री में एलिमेंट्स की ये टेबल याद करनी होती है. साइंस के विद्यार्थियों के सपने में तो आती है मगर मेमोरी में नहीं.
केमिस्ट्री में एलिमेंट्स की ये टेबल याद करनी होती है. साइंस के विद्यार्थियों के सपने में तो आती है मगर मेमोरी में नहीं.

जैसे कि ऊपर दिख रही भयानक पीरियॉडिक टेबल याद करने के लिए मैंने ये वाला यूज़ किया था –

पहला कॉलम – हली (H Li) ने(Na) की(K) रब(Rb) से(Cs) फरयाद (Fr).

दूसरा कॉलम – बेटा(Be) मांगे(Mg) कार(Ca) स्कूटर(Sr) बाप (Ba)रोए (Ra).

बाकी कॉलम के लिए गूगल सर्च कर लीजिए.

3. इंग्लिश की भारी वोकेब्युलरी (शब्दावली) वाले शब्द याद करने के लिए पहले से पता शब्दों की मदद लेना.

जैसे कि अंग्रेजी शब्द है – Truculent. इसका मतलब होता है लड़ाकू. ये कैसे याद किया जाए. Truculent से Truc को अलग निकालो.

मोंस्टर ट्रक कारों को क्रूरता से कुचलता हुआ.
कारों को क्रूरता से कुचलता हुआ मॉन्स्टर ट्रक.

और याद करो खूंखार मॉन्स्टर ट्रक. जो किसी को भी कुचल सकते हैं. वो होते हैं न लड़ाकू टाइप के.

4. माइंड मैप या मेमोरी पैलेस यानी इनफॉर्मेशन को दिमाग में पहले से बने नक्शों में फिट कर देना.

मान लीजिए आपको सौदा लेने मार्केट जाना है. मम्मी ने फटाफट बता दिया कि ये चीज़ें लानी है – कद्दू, लौकी, प्याज़, टमाटर, आलू, बैंगन, अदरक, लहसुन, धनिया, हरी मिर्ची. इतनी सारी चीज़ें याद रखने में मुश्किल हो सकती है. लेकिन अपने घर का नक्शा तो याद है न. तो मैं इसको ऐसे याद रख सकता हूं –

हॉल में पलंग पर कद्दू और सोफे पर लौकी रखी है. बेडरूम में डबल-बेड पर प्याज बिखरा पड़ा होता है. किचन के एक प्लेटफॉर्म पर आलू रखे हैं. और गैस स्टोव पर बैंगन और टमाटर भरता जा रहा है. पीछे जहां सिल-बट्टा रखा रहता है वहां धनिया, लहसुन और हरी मिर्च की चटनी बंट रही है. अदरक छूट रही है. अदरक को फ्रिज में रख देते हैं.

हंसिए मत. बड़ी मेहनत से बनाया है.
हंसिए मत. बड़ी मेहनत से बनाया है.

आप अपने घर के हिसाब से नक्शा बना सकते हैं. घर छोटा है तो फ़िक्र मत करिए. आधा सामान पड़ोसियों के घर में रख दीजिए. ये नक्शा आपके स्कूल, कॉलेज और दफ्तर का भी हो सकता है. अगर बहुत ही सारी चीज़ें याद रखनी है तो और गहराई में भी जा सकते हैं. उस केस में सामान अलमारी में और टेबल के ड्रॉर वगैरह में जमा करके रखना होगा.

5. दी हुई इन्फॉर्मेशन की एक तस्वीर बना देना. जैसी मैंने बनाई है, ये कविता याद करने के लिए –

पहला स्टेंज़ा : चांद के आगे माइक है. वो कुछ कह रहा है. और अनोखा जीव आदमी खुद के बनाए उन्झानों के दलदल फसता जा रहा है. बिस्तर पर जगा हुआ है सो नहीं पा रहा है.
पहला स्टेंज़ा : चांद के आगे माइक है. वो कुछ कह रहा है. और अनोखा जीव आदमी खुद के बनाए उलझनों के दलदल फंसता जा रहा है. बिस्तर पर जगा हुआ है, सो नहीं पा रहा है.

और ऐसे कई तरीके हैं.

निमोनिक्स काम कैसे करता है?

समझने के दो स्टाइल हैं, जैसे चाहे समझ लीजिए –

टेकनिकल स्टाइल – मेमोरी में इन्फॉर्मेशन के बहुत सारे डॉट्स यानी बिंदु होते हैं. उनको एक दूसरे से जितना ज्यादा जोड़ कर रखेंगे. उनके लंबे समय तक टिकने की संभावना उतनी बढ़ जायेगी.

लल्लनटॉप स्टाइल – इन्फॉर्मेशन यानी जानकारी, गाय है. और आपका दिमाग गौशाला है. लेकिन गौशाला में गायों को बांधने के लिए खूंटे बहुत कम हैं. अब गाय लगातार आती जा रही हैं. उन्हें यूं ही छोड़े देंगे तो गाय चरने भाग जायेंगी. अगर दो या दो से अधिक गायों को एक-साथ बांध देंगे तो उनके वहीं ठहरे रहने की संभावना ज्यादा है.

एक दूसरे में गुथी हुई मेमोरी या गाय.
एक दूसरे में गुथी हुई मेमोरी या गाय.

इसीलिए, हे ग्वाले! यदि इन्फॉर्मेशन रुपी गाय का ज्ञान रुपी दूध पाना चाहते हो. तो निमोनिक्स अस्त्र धारण करो.

UPSC-CSE के फर्रे

#किस क्रम में इंसानों ने धातुओं का इस्तमाल करना शुरू किया?

CBI – कॉपर, ब्रोंज, आयरन.

#सिंधु घाटी सभ्यता की मेन लोकेशन कहां-कहां है?

GPRS – गुजरात, पंजाब, राजस्थान, सिंध.

#भारत में इंटीग्रेटेड प्रोग्राम के अंदर कौन सी मिसाइलें बनी?

PATNA – पृथ्वी, अग्नि, त्रिशूल, नाग, आकाश.

अगर किसी और तरीके से आप नई इन्फॉर्मेशन को अपने दिमाग में पहले से मौजूद इन्फॉर्मेशन से जोड़ पाते हैं, तो मुबारक हो. आपने निमोनिक्स की नई टेकनीक ईजाद कर ली है. मोहल्ले में मिठाई बंटवा दीजिए. मीडिया वालों को बुला कर हल्ला मचा दीजिए.


यह स्टोरी हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहे आयुष ने की है.


ये भी पढ़ें –


9 साल की ये बच्ची 5 ब्रेन सर्जरी झेलने के बाद भी बुलंद खड़ी है
इस आदमी ने मुर्दे का भुना दिमाग खाया है, दुनिया के हिंदू गुस्से में हैं
अगर एम्स में इलाज कराना है तो 3 साल बाद आओ
625 में 624 नंबर आए, फिर भी कॉपी चेक करवाई और जो हुआ वो आप सोच नहीं सकते

वीडियो –

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.